हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

छत्तीसगढ स्टेट पी.सी.एस.

  • 28 Jun 2022
  • 0 min read
  • Switch Date:  
छत्तीसगढ़ Switch to English

मुख्यमंत्री ने जशपुर में किया फूड प्रोसेसिंग एवं पैकेजिंग लैब का लोकार्पण

चर्चा में क्यों?

27 जून, 2022 को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जशपुर ज़िले के रंजीता स्टेडियम परिसर में स्थित फूड प्रोसेसिंग एंड पैकेजिंग लैब में खाद्य उत्पाद प्रसंस्करण प्रयोगशाला एवं पैकेजिंग केंद्र भवन का लोकार्पण किया।

प्रमुख बिंदु

  • यह भवन डीएमएफ फंड द्वारा लगभग 22 लाख 72 हज़ार रुपए की लागत से तैयार किया गया है।
  • यह प्रदेश की पहली उच्चस्तरीय लैब है, जिसमें विभिन्न उत्पादों के रॉ-मटेरियल को प्रसंस्कृत कर विक्रय के लिये सी मार्ट में भेजा जाता है, जिससे समूह की महिलाओं को अच्छी आमदनी प्राप्त हो रही है।
  • उत्पादों को प्रसंस्कृत करने के लिये बॉण्ड सिलर, इलेक्ट्रोमैग्नेटिक कैप सिलर, ऑटोमेटिक ग्रेनुअल फीलिंग मशीन, टी बैग फीलिंग मशीन, वैक्यूम पैकेजिंग, च्यवनप्राश एवं हनी पैकेजिंग, सैनिटाइजर फीलिंग मशीन, बीओडी इंक्यूबेटर, लेमिनर एयर फ्लो, फ्यूम हुड, मॉइश्चर एनालाइजर जैसी अत्याधुनिक मशीनों का प्रयोग किया जाएगा।

छत्तीसगढ़ Switch to English

मुख्यमंत्री ने किया सरना एथनिक रिसोर्ट में टेलीस्कोप का लोकार्पण

चर्चा में क्यों?

27 जून, 2022 को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जशपुर ज़िले में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये सरना एथनिक रिसोर्ट में टेलीस्कोप का लोकार्पण किया।

प्रमुख बिंदु

  • मुख्यमंत्री ने यह टेलीस्कोप देशदेखा पर्यटन महिला स्व-सहायता समूह को प्रदान किया।
  • जिनके द्वारा इस टेलीस्कोप को देशदेखा पर्यटन स्थल पर संचालित किया जाएगा, जिससे स्थानीय लोगों को रोज़गार मिलेगा।
  • इसके साथ ही मुख्यमंत्री के समक्ष स्टार्टअप जशपुर ट्रिप्पी हिल्स एवं देशदेखा पर्यटन समिति के बीच एमओयू पर हस्ताक्षर किया गया। रिसोर्ट स्थल में जशपुर पर्यटन सर्किट प्रारंभ किया गया, जिससे प्रत्येक पर्यटन स्थल की जानकारी मिलेगी।
  • इस दौरान मुख्यमंत्री ने ज़िले के पर्यटन स्थलों की जानकारी ऑनलाइन सोशल मीडिया प्लेटफार्म में उपलब्ध कराने के लिये तैयार की गई ‘जोहार जशपुर वेबसाइट’ लॉन्च किया। वेबसाइट के माध्यम से जशपुर के सभी पर्यटन स्थलों के लोकेशन, पहुँच मार्ग एवं अन्य आवश्यक सारी जानकारी ऑनलाइन लोगों को मिल सकेगी।

छत्तीसगढ़ Switch to English

छत्तीसगढ़ लघु वनोपज प्रोसेसिंग के क्षेत्र में अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार के लिये चयनित

चर्चा में क्यों?

हाल ही में छत्तीसगढ़ राज्य लघु वनोपज संघ तथा जगदलपुर ज़िले के वनधन विकास केंद्र बकावण्ड और कोरबा ज़िले के डोंगानाला के दो स्व-सहायता समूह को प्रतिष्ठित ग्रिड पुरस्कार हेतु ई.एस.जी. वर्ल्ड समिट में नामित एवं चयनित किया गया है।

प्रमुख बिंदु

  • गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ को यह पुरस्कार संधारणीय विकास, गरीबी उन्मूलन तथा महिला सशक्तीकरण की श्रेणियों में प्राप्त हुआ है।
  • विजेताओं का चयन लगभग तीन माह चले तीन चरणों में कठोर परीक्षण मापदंडों पर प्रस्तावों के विश्लेषण के आधार पर किया गया।
  • सिंगापुर के कार्प स्टेज तथा ई.एस.जी. रिसर्च फाउंडेशन का उद्देश्य ईएसजी मापदंड विकास के लक्ष्यों तथा प्रभावों को विस्तारित करना एवं संयुक्त राष्ट्रसंघ द्वारा निर्धारित संधारणीय विकास लक्ष्यों की स्थापना है।
  • इन पुरस्कारों के लिये ‘संधारणीय विकास लक्ष्यों’ की श्रेणियों के अनुसार, पूरे विश्व के व्यवसायियों से नामांकन प्राप्त किये गए थे।
  • ई.एस.जी. ग्रिड पुरस्कार समारोह सिंगापुर में आगामी 22 और 23 जुलाई को आयोजित किया जाएगा। इसमें भाग लेने विजेता स्व-सहायता समूहों की 2-2 महिला सदस्यों को सिंगापुर भेजा जाएगा।
  • छत्तीसगढ़ से चयनित महिलाओं में डोंगानाला से सरोज पटेल तथा फूलबाई नेती और बकावण्ड से पद्मिनी बघेल तथा बेला बाई कश्यप शामिल हैं।
  • ई.एस.जी. ग्रिड पुरस्कार समारोह में 150 देशों के प्रतिनिधि, पूरे विश्व के 200 से अधिक संस्थानों के एक्जीक्यूटिव, बड़े संस्थानों के प्रतिनिधि उद्यमी बैंक से निवेशक, समाजसेवी, सामाजिक संगठन, पर्यावरणविद् शासकीय तथा अन्य प्रतिनिधि सम्मिलित होंगे।

 Switch to English
एसएमएस अलर्ट
Share Page