हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:
 Switch to English

संभव – 2023 (Clear Prelims Conquer Mains)

प्रिय अभ्यर्थियों,

प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा यूपीएससी परीक्षा चक्र के दो चरण हैं, हालाँकि दोनों का स्वतंत्र महत्त्व है, लेकिन जो इन दोनों को एक साथ लेकर चलने करने की कला सीख लेता है, वही इस दौड़ में विजेता बनता है।

इसलिये, महत्त्वपूर्ण विषयों के समग्र और गत्यात्मक कवरेज के साथ दोनों चरणों की एकीकृत तरीके से तैयारी करना महत्त्वपूर्ण है।

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा के लिये आपको निरंतर समर्थन और मार्गदर्शन प्रदान करने की प्रक्रिया में टीम दृष्टि एक बार फिर से यूपीएससी 2023 में आपकी सफलता में आपकी मदद करने के लिये कुछ नवाचारों के साथ प्रस्तुत है।

पाथ टू प्रिलिम्स 2022 और मेन्स मैराथन 2022 के सफल परिणाम और छात्रों की निरंतर मांग को देखते हुए हम प्रिलिम्स और मेन्स के लिये एक इंटीग्रेटेड गाइडेंस प्रोग्राम "संभव - 2023" लाए हैं।

संभव - 2023 में, हमने छात्रों के आधारभूत ज्ञान को विकसित करने और फिर धीरे-धीरे एडवांस सेक्शन की ओर बढ़ने पर ध्यान केंद्रित किया है। मई 2023 में प्रारंभिक परीक्षा को ध्यान में रखते हुए हम मुख्य रूप से पिछले वर्ष के प्रश्नपत्रों, वर्ष भर के करेंट अफेयर्स और पाठ्यक्रम के स्थैतिक भाग के गहन विश्लेषण के आधार पर डेली MCQs के अभ्यास के माध्यम से प्रारंभिक परीक्षा की तैयारी पर ध्यान केंद्रित करेंगे।

प्रारंभिक चरण में सफलता प्राप्त करने के बाद, मेन्स 2023 की तैयारी उन सबसे महत्त्वपूर्ण विषयों के विस्तृत विश्लेषण के साथ शुरू होगी, जो पिछले दो वर्षों में दुनिया भर में चर्चा में थे। पिछले वर्ष के प्रश्न पत्रों के गहन विश्लेषण और हमारे विशेषज्ञों तथा फैकल्टी की सिफारिश पर विषयों और प्रश्नों का चयन किया जाएगा।

संभव की विशेषताएँ - 2023:



1. संभव कार्यक्रम क्या है?
  • यह वर्ष भर चलने वाला इंटीग्रेटेड प्रिलिम्स-कम-मेन्स प्रोग्राम है जिसे UPSC CSE के पाठ्यक्रम को समग्र रूप से कवर करने के लिये डिज़ाइन किया गया है।
  • यह व्यापक रूप से स्थैतिक और समसामयिक दोनों प्रकार के विषयों को कवर करता है और UPSC CSE 2023 के लिये लक्षित मार्गदर्शन प्रदान करता है।
  • कार्यक्रम सप्ताह में 6 दिन निर्धारित है और रविवार को रिविजन डे रखा जाएगा।
2. इस कार्यक्रम के घटक क्या हैं?
  • इसमें UPSC 2023 परीक्षा से संबंधित प्रिलिम्स और मेन्स प्रोग्राम दोनों को शामिल किया गया है।
  • प्रारंभ के कुछ महीने प्रिलिम्स और मेन्स दोनों के लिये एक व्यापक आधार तैयार करने हेतु समर्पित होंगे। इसमें शामिल होंगे:
    • शेड्यूल के अनुसार स्थैतिक पाठ्यक्रम (विषयवार) पर आधारित 2 डेली मेन्स प्रश्नों का अभ्यास।
    • 10 डेली करेंट MCQs ( 5 प्रश्न स्थैतिक पाठ्यक्रम पर आधारित और 5 करेंट अफेयर्स पर आधारित)।
    • यूपीएससी प्रिलिम्स 2023 से लगभग ढाई महीने पहले, यह कार्यक्रम पूरी तरह से हमारे प्रिलिम्स विशेष कार्यक्रमों जैसे पाथ टू प्रिलिम्स / 60 स्टेप्स टू प्रिलिम्स के माध्यम से प्रिलिम्स के लिये समर्पित होगा।
    • प्रिलिम्स के बाद, हम समसामयिक विषयों, यूपीएससी के विगत वर्षों के प्रश्नपत्र, करेंट अफेयर्स और स्थैतिक विषयों के विश्लेषण के आधार पर मेन्स मैराथन / BMR जैसे मेन्स के लिये समर्पित कार्यक्रम शुरू करेंगे।।

3. इस कार्यक्रम की समय-सीमा क्या होगी?

4. संभव - 2023 के लिये शुल्क क्या होगा?

  • यह कार्यक्रम (संभव - 2023) निशुल्क होगा। आपकी निरंतरता और कड़ी मेहनत इस कार्यक्रम की कीमत है। इस कार्यक्रम से होने वाले लाभ उत्तर लेखन और MCQs के अभ्यास के प्रति आपके समर्पण के सीधे आनुपातिक हैं।

5. मुख्य परीक्षा हेतु किये जा रहे उत्तर लेखन के मूल्यांकन की प्रक्रिया क्या है?

  • चूँकि कार्यक्रम में उत्तर लेखन भी शामिल है, इसलिये उम्मीदवारों को इसका मूल्यांकन करने के लिये उसी दिन मेन्स प्रश्न का उत्तर लिखना होगा। दृष्टि आईएएस टीम दैनिक आधार पर उम्मीदवारों के उत्तरों का मूल्यांकन करेगी।
  • इसके अलावा, उम्मीदवारों को "पीयर रीव्यूव" में संलग्न होने की सलाह दी जाती है और प्रोत्साहित किया जाता है। यह न केवल एक बेहतर और बहु-आयामी अंतर्दृष्टि प्रदान करेगा बल्कि महत्त्वपूर्ण सोच और अभिव्यक्ति कौशल को भी बढ़ाएगा।
  • प्रत्येक मेन्स प्रश्न का मॉडल उत्तर अगले दिन प्रदान किया जाएगा। मॉडल उत्तर में संबंधित उत्तर के लिये फोडर और दृष्टिकोण शामिल होगा।

6. क्या टीम दृष्टि द्वारा प्रिलिम्स टेस्ट का कोई विश्लेषण किया जाएगा?

  • MCQs क्विज का स्कोर और रैंक प्रत्येक टेस्ट के पूरा होने के बाद वास्तविक समय के आधार पर वेबसाइट पर दिखाई देगा। प्रत्येक प्रश्न का उचित स्पष्टीकरण भी दृष्टि आईएएस द्वारा प्रदान किया जाएगा।
  • उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे स्पष्टीकरण के महत्त्वपूर्ण बिंदुओं और नए तथ्यों को संक्षेप में नोट करें।

7. क्या टीम दृष्टि डेली मेन्स प्रैक्टिस प्रश्नों का मूल्यांकन करेगी?

  • हाँ। दृष्टि आईएएस की टीम दैनिक आधार पर डेली मेन्स प्रैक्टिस प्रश्नों का मूल्यांकन करेगी।

8. इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिये कौन पात्र हैं?

  • पात्रता के कोई विशेष मानदंड नहीं हैं जो भी व्यक्ति तैयारी से जुड़ा हुआ है और अपनी तैयारी को मज़बूत करना चाहता है, वह इस कार्यक्रम से जुड़ सकता है

9. करेंट अफेयर्स को कार्यक्रम में कैसे शामिल किया जाएगा?

  • संभव - 2023 का उद्देश्य प्रिलिम्स से ठीक पहले यानी जनवरी 2022 से मई 2023 तक का 'डेढ़ साल' के करेंट अफेयर्स को कवर करना है।

10. डेली मेन्स उत्तरों को सबमिट करने की समय सीमा क्या होगी???

  • उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे अपने मेन्स उत्तर उसी दिन (जिस दिन प्रश्न वेबसाइट पर अपलोड किये जाते हैं) सबमिट करें ताकि इसका मूल्यांकन दृष्टि आईएएस टीम द्वारा किया जा सके।

11. क्या किसी ऐसे व्यक्ति के लिये कोई प्रारंभिक मार्गदर्शक होगा जिसने अब तक कोई उत्तर नहीं लिखा है?

  • उम्मीदवारों को डेली मेन्स उत्तर लेखन के लिये प्रत्येक सामान्य अध्ययन (जीएस) पेपर हेतु एक अलग नोटबुक रखने की आवश्यकता है।
  • यह उम्मीदवारों को सभी सामान्य अध्ययन पेपरों के प्रत्येक विषय का व्यापक कवरेज प्रदान करेगा
  • प्रत्येक पेपर से संबंधित नोटबुक उम्मीदवारों को कम समय में अधिक से अधिक समसामयिक मुद्दों को कवर करके प्रत्येक पेपर के रिविजन में मदद करेगी।
  • उम्मीदवारों को यह भी सलाह दी जाती है कि वे अपने साथियों द्वारा उपयोग किये जाने वाले या मॉडल उत्तर में प्रदान किये जाने वाले महत्त्वपूर्ण उदाहरणों, प्रमुख शब्दों, तथ्यों और केस स्टडीज को संक्षेप में नोट कर लें। यह आपकी उत्तर लेखन संबंधी सामग्री को समृद्ध करने में मदद करेगा जो उम्मीदवार को मेन्स यूपीएससी 2023 में गुणात्मक उत्तर लिखने में मदद करेगी ।

12. क्या टॉप स्कोरर्स को पहचाना जाएगा?

  • हालाँकि मूल्यांकन के बाद मेन्स उत्तरों के लिये अंक नहीं दिये जाएँगे, लेकिन हम उम्मीदवार के अच्छे उत्तर को अपनी वेबसाइट पर को पिन करेंगे।

13. हम इस कार्यक्रम को उम्मीदवारों के सेल्फ स्टडी शेड्यूल के साथ कैसे समन्वित कर सकते है |

  • कार्यक्रम में पूर्व-निर्धारित शेड्यूल है। इसलिये, उम्मीदवारों को कार्यक्रम के अनुसार अपनी पढ़ाई की योजना बनाने की आवश्यकता है।

14. क्या हम दैनिक के बजाय साप्ताहिक उत्तर लिख सकते हैं?

  • करत-करत अभ्यास ते,जड़मति होत सुजान। रसरी आवत जात तें, सिल पर परत निसान॥
  • इसलिये, उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे रोज उत्तर लिखें और दैनिक आधार पर MCQs का अभ्यास करें।

15. इस कार्यक्रम के लिये किस बुकलिस्ट का पालन करना आवश्यक है?

  • उम्मीदवार पाठ्यक्रम के अपने स्थैतिक भाग के लिये अपनी मानक पुस्तकों का उपयोग कर सकता है।
  • करेंट अफेयर्स के लिये सभी को डेली करेंट अफेयर्स और एडिटोरियल्स, दृष्टि आईएएस की मासिक करेंट अफेयर्स पत्रिका का प्रयोग करना चाहिये।
  • प्रिलिम्स और मेन्स के अभ्यास के लिये, प्रमुख विषयों की प्रिलिम्स प्रैक्टिस सीरीज और मेन्स कैप्सूल सीरीज का उपयोग किया जा सकता है।
  • कार्यक्रम के शेड्यूल साथ अन्य अनिवार्य स्रोतों और बुकलिस्ट का सुझाव भी दिया गया है।



एसएमएस अलर्ट
Share Page