हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

PATH TO PRELIMS

शेड्यूल डाउनलोड करें    Join Now

प्रिय अभ्यर्थियों,

सिविल सेवा परीक्षा (सीएसई) में प्रारंभिक चरण के महत्त्व को अनदेखा नहीं किया जा सकता क्योंकि पिछले कुछ वर्षों से प्रथम चरण को पार करना और अधिक मुश्किल हो गया है। सिविल सेवा परीक्षा में नित नए परिवर्तन होते रहते हैं। ये परिवर्तन इतने गत्यात्मक प्रकृति के होते हैं कि इस परीक्षा में सफल होने के लिये अभ्यर्थी को इन परिवर्तनों के अनुरूप स्वयं को तैयार करना आवश्यक हो गया है।

इन सभी परिवर्तनों को ध्यान में रखते हुए छात्रों की बेहतर तैयारी की दृष्टि से हमने Path to Prelims- 2022 कार्यक्रम तैयार किया है जो आपको परीक्षा की गत्यात्मक प्रकृति को समझने और इसके अनुसार स्वयं को तैयार करने में मदद करेगा। पिछले कुछ वर्षों के प्रश्नपत्रों के गहन विश्लेषण के बाद दृष्टि आईएएस ने अपनी प्रिलिम्स टेस्ट सीरीज़ के साथ ही इस कार्यक्रम को भी कुछ इस तरह से तैयार किया है कि आप परीक्षा के दूसरे चरण, यानी मुख्य परीक्षा तक आसानी से पहुँच सकें।

नोट: UPSC-CSE 2021 में 30% से अधिक प्रश्न हमारी प्रिलिम्स टेस्ट सीरीज़ से आए थे।


Path to Prelims- 2022 में दो भाग हैं, अर्थात् भाग- I और भाग-II

भाग-I: यह कार्यक्रम लगभग 60 दिनों तक संचालित होगा, जिसमें हम प्रतिदिन क्विज़ फॉर्मेट में 20 MCQs उपलब्ध कराएँगे। ये छोटे-छोटे क्रमिक कदम इस कार्यक्रम के दूसरे चरण में आपको अपना श्रेष्ठ प्रदर्शन करने हेतु प्रेरित करेंगे।

भाग-II: जैसे ही हम मैराथन चरण, यानी भाग-I के माध्यम से पूरे पाठ्यक्रम को कवर कर लेंगे उसके बाद भाग-II शुरू हो जाएगा। अब आप और अधिक संख्या में तथा पहले की तुलना में कठिन प्रश्नों को हल करने के लिये मानसिक रूप से तैयार होंगे। इस चरण में आपको प्रिलिम्स की तैयारी हेतु फुल लेंथ टेस्ट उपलब्ध कराए जाएँगे।

कार्यक्रम की विशेषताएँ

  • अधिक-से-अधिक रिवीज़न: Path to Prelims कार्यक्रम 10 जनवरी, 2022 से शुरू होगा और 15 मई, 2022 को समाप्त होगा, यानी इस कार्यक्रम के माध्यम से हम केवल एक बार नहीं बल्कि तीन बार पूरे पाठ्यक्रम को कवर करते हुए 70 से अधिक दिनों तक अभ्यास करेंगे।
  • व्यापक कवरेज़: प्रतिदिन दिये जाने वाले MCQs में पारंपरिक विषयों और समसामयिक मामलों दोनों का एक अच्छा मिश्रण होगा। आपकी तैयारी को पूर्णता प्रदान करने हेतु MCQs के विषय अलग-अलग स्रोतों जैसे विभिन्न प्रकार की मैगज़ीन (योजना, कुरुक्षेत्र, डाउन टू अर्थ, साइंस रिपोर्टर आदि) और इंडिया ईयर बुक आदि से चुने गए हैं।
  • सूक्ष्म विश्लेषण: विगत वर्षों के दौरान प्रारंभिक परीक्षा में पूछे गए प्रश्नों के विश्लेषण के आधार पर हमने संभावित प्रश्नों को कवर करने के लिये न केवल स्थैतिक प्रश्नों का ध्यानपूर्वक चयन किया है बल्कि आधारभूत प्रश्नों का भी चयन किया है ताकि आपको एक मज़बूत आधार तैयार करने में मदद मिल सके।
  • ऑल इंडिया रैंकिंग: अभ्यर्थियों द्वारा टेस्ट सबमिट करने के ठीक बाद मॉक टेस्ट में उनके प्रदर्शन के अनुसार रैंकिंग प्रदान की जाएगी। अपनी रैंक जानने के लिये, उम्मीदवारों को दृष्टि आईएएस की वेबसाइट पर लॉगिन करना होगा जो कि निशुल्क है।
  • फुल लेंथ मॉक टेस्ट: कार्यक्रम के अंत में यूपीएससी के नवीनतम पैटर्न पर आधारित सामान्य अध्ययन के तीन प्रश्नपत्रों और सीसैट के एक प्रश्नपत्र का मॉक टेस्ट आयोजित किया जाएगा।
  • सहयोग एवं परामर्श: अंतिम लेकिन सबसे महत्त्वपूर्ण बात यह है कि हम उन उम्मीदवारों को अकादमिक परामर्श और सहायता भी प्रदान करने जा रहे हैं जो इस कार्यक्रम के लिये कमेंट्स सेक्शन या ईमेल और सोशल मीडिया के माध्यम से साइन-अप करते हैं। यदि किसी अभ्यर्थी को कोई संशय है तो वह निश्चित रूप से कमेंट्स के माध्यम से इसके बारे में पूछ सकता है और हमारी टीम उचित समय के भीतर इनका समाधान करने का प्रयास करेगी।

महत्त्वपूर्ण स्टडी मैटिरियल

  • प्रिलिम्स की तैयारी के लिये NCERT पुस्तकें आधार का कार्य करती हैं। ये पुस्तकें बाज़ार में आसानी से उपलब्ध हैं और यदि आप चाहें तो इन्हें हमारी वेबसाइट से भी डाउनलोड कर सकते हैं।
    • हमारे Path to Prelims कार्यक्रम के दौरान किसी कठिन प्रश्न को हल न कर पाने की स्थिति में NCERT पुस्तकें आपकी पहली प्राथमिकता होनी चाहिये।
  • हमारे द्वारा उपलब्ध कराई गई मानक पुस्तकों की सूची को काफी विचार-विमर्श के बाद तैयार किया गया है। हम आप पर अनावश्यक रूप से पुस्तकों का बोझ नहीं डालना चाहते हैं इसलिये इस सूची को छोटा रखा गया है।
  • सूची में दी गई सभी पुस्तकों को शुरू से अंत तक पढ़ने की आवश्यकता नहीं है। इन्हें केवल समीक्षा और संदर्भ के लिये इस्तेमाल किया जा सकता है।
    • संदर्भित पुस्तकों के अलावा एम. लक्ष्मीकांत की भारतीय राजव्यवस्था और संक्षिप्त आधुनिक भारतीय इतिहास के लिये स्पेक्ट्रम का अध्ययन किया जा सकता है। इन पुस्तकों का रिवीज़न आपके लिये लाभदायक सिद्ध हो सकता है।
  • जहाँ कहीं भी अतिरिक्त जानकारी प्राप्त करने के लिये हमने आपसे वेबसाइट्स (दृष्टि की वेबसाइट सहित) की सहायता लेने के लिये कहा है, वहाँ यह सुनिश्चित किया गया है कि इनका कंटेंट विश्वसनीय और उच्च गुणवत्ता युक्त हो।



शुभकामनाओं सहित

टीम दृष्टि



शेड्यूल डाउनलोड करें    Join Now

पूर्व में आयोजित 60 Steps To Prelims प्रोग्राम

60 Steps to Prelims 2021

Attempt

60 Steps to Prelims 2020

Attempt

60 Steps to Prelims 2019

Attempt
एसएमएस अलर्ट
Share Page