प्रयागराज शाखा पर IAS GS फाउंडेशन का नया बैच 10 जून से शुरू :   संपर्क करें
ध्यान दें:

मेन्स प्रैक्टिस प्रश्न

  • प्रश्न :

    जल संरक्षण एवं जल सुरक्षा हेतु भारत सरकार द्वारा प्रवर्तित जल शक्ति अभियान की प्रमुख विशेषताएँ क्या हैं? (150 शब्द) (UPSC GS-3 Mains 2020)

    10 Feb, 2021 सामान्य अध्ययन पेपर 3 पर्यावरण

    उत्तर :

    हल करने का दृष्टिकोण:

    • जल शक्ति अभियान पर संक्षिप्त चर्चा करते हुए उत्तर शुरू करें।
    • जल शक्ति अभियान की मुख्य विशेषताओं पर चर्चा करें।
    • उचित निष्कर्ष दें।

    जल शक्ति अभियान (JSA) 2019 में जल शक्ति मंत्रालय द्वारा शुरू किया गया एक समयबद्ध और मिशन-मोड जल संरक्षण अभियान है।

    यह भारत सरकार और राज्य सरकारों के विभिन्न मंत्रालयों के संयुक्त प्रयास से भारत के उच्च जल-तनावग्रस्त ज़िलों में जल संरक्षण और जल सुरक्षा के लिये एक अभियान है।

    जल शक्ति अभियान की मुख्य विशेषताएँ

    जल शक्ति अभियान स्थानीय स्तर पर पानी की एकीकृत मांग और आपूर्ति के प्रबंधन पर ध्यान केंद्रित करता है, जिसमें वर्षा जल संचयन, भू-जल पुनर्भरण और पुन: उपयोग के लिये घरेलू अपशिष्ट जल प्रबंधन हेतु स्थानीय बुनियादी ढाँचे का निर्माण शामिल है।

    यह प्रमुख रूप से पाँच पहलुओं पर केंद्रित है:

    • जल संरक्षण और वर्षा जल संचयन।
    • पारंपरिक और अन्य जल निकायों / टैंकों का नवीनीकरण।
    • पुन: उपयोग और पुनर्भरण संरचनाओं का विकास।
    • वाटरशेड विकास।
    • गहन वनीकरण।

    सिंचाई और बेहतर फसल विकल्पों के लिये कुशल जल उपयोग को बढ़ावा देने हेतु विकासशील ब्लॉक और ज़िला जल संरक्षण योजनाओं और 'कृषि विज्ञान केंद्रों' जैसी पहलों द्वारा संरक्षण प्रयासों को बढ़ावा दिया जाएगा।

    जल शक्ति अभियान के माध्यम से सरकार ने स्वच्छता अभियान यानी स्वच्छ भारत अभियान के समान, जल संरक्षण अभियान चलाने की योजना बनाई है।

    इसका उद्देश्य परिसंपत्ति निर्माण और व्यापक संचार के माध्यम से जल संरक्षण को जन आंदोलन बनाना है।

    निष्कर्ष

    जल शक्ति अभियान का उद्देश्य भारत में बढ़ते जल आपातकाल के खतरे के प्रति जागरूकता पैदा करना है और इसके लिये एक मज़बूत राजनीतिक प्रतिबद्धता अतिआवश्यक है।

    To get PDF version, Please click on "Print PDF" button.

    Print
close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2