हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

मेन्स प्रैक्टिस प्रश्न

  • प्रश्न :

    ‘चतुर्भुज सुरक्षा संवाद’ (QUAD) वर्तमान समय में स्वयं को एक सैन्य गठबंधन से व्यापार गुट के रूप में परिवर्तित कर रहा है। चर्चा कीजिये।

    27 Jan, 2021 सामान्य अध्ययन पेपर 2 राजव्यवस्था

    उत्तर :

    हल करने का दृष्टिकोण:

    • क्वाड क्या है? इस पर संक्षेप में चर्चा करके अपना उत्तर शुरू करें।
    • सैन्य गठबंधन के बजाय भू-आर्थिक रूप से क्वाड की आवश्यकता पर चर्चा करें।
    • उचित निष्कर्ष दें।

    चतुर्भुज सुरक्षा संवाद (क्वाड) भारत, अमेरिका, जापान एवं ऑस्ट्रेलिया के बीच अनौपचारिक रणनीतिक वार्ता है। क्वाड की स्थापना मुख्य रूप से एक रणनीतिक ब्लॉक के रूप में दक्षिण चीन सागर में चीन के आक्रामक रुख का मुकाबला करने के लिये की गई थी।

    हालाँकि हिंद-प्रशांत क्षेत्र को "मुक्त, खुला और समृद्ध" क्षेत्र बनने हेतु समर्थन के लिये क्वाड का साझा उद्देश्य एक व्यापारिक समझौते का आधार भी बन सकता है और इसे एक प्रमुख व्यापारिक ब्लॉक में भी बदल सकता है।

    क्वाड का व्यापारिक ब्लॉक में परिवर्तन:

    • जटिल अंतर्निभरता: आज की दुनिया में जहाँ व्यापार के लिये राष्ट्र एक-दूसरे पर निर्भर हैं तथा यह वैश्विक ज़िम्मेदारी है, वहीं एक सैन्य गठबंधन शीत युद्ध के दौर की याद दिलाता है और अप्रासंगिक प्रतीत होता है।
      • इस संदर्भ में यह अधिक प्रशंसनीय है कि क्वाड सदस्य देश भू-आर्थिक रूप से खुद को जोड़ते हैं।
      • साथ ही एक सैन्य गठबंधन सभी महान शक्तियों (अमेरिका, चीन, भारत, रूस) को युद्ध के कगार पर खड़ा कर सकता है, जो कि इन देशों और वैश्विक शांति के हित में नहीं होगा।
    • समावेशी हिंद-प्रशांत क्षेत्र: क्वाड के सदस्य देश इस बात पर सहमत हैं कि एक स्वतंत्र, खुला, समृद्ध और समावेशी हिंद-प्रशांत क्षेत्र इस क्षेत्र के सभी देशों के दीर्घकालिक हितों को संरक्षण प्रदान करेगा और इस प्रकार व्यापक तौर पर वैश्विक हितों की रक्षा होगी।
      • क्वाड इस क्षेत्र में आतंकवाद की चुनौतियों से निपटने के साथ-साथ क्षेत्र में कनेक्टिविटी को बढ़ाने की भी परिकल्पना करता है।
    • ब्लू डॉट नेटवर्क: वैश्विक अवसंरचना विकास के लिये उच्च-गुणवत्ता, विश्वसनीय मानकों को बढ़ावा देने के लिये सरकारों, निजी क्षेत्र और नागरिक समाजों को एक साथ लाने के लिये यह एक बहु-हितधारक पहल है (जापान और ऑस्ट्रेलिया के साथ अमेरिका के नेतृत्व में)। यह चीन की बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव (BRI) से सीधे मुकाबला कर सकती है।
    • वैश्विक चुनौतियों से निपटने में सहायक: कोविड-19 की चुनौतियों ने विश्व में आपूर्ति शृंखलाओं के लचीलेपन में सुधार और आत्मनिर्भरता की आवश्यकता पर भी प्रकाश डाला है।
      • इस संदर्भ में एक व्यापारिक संगठन के रूप में क्वाड का परिवर्तन भविष्य में वैश्विक चुनौतियों से अधिक प्रभावी ढंग से निपटने में मदद कर सकता है।

    आगे की राह

    स्पष्ट दृष्टिकोण की आवश्यकता: क्वाड राष्ट्रों को सभी के आर्थिक और सुरक्षा से जुड़े हितों के संरक्षण के उद्देश्य से एक व्यापक रूपरेखा में हिंद-प्रशांत विज़न को बेहतर ढंग से समझने की आवश्यकता है।

    चीन द्वारा लगाए गए आरोपों कि यह एक सैन्य गठबंधन है, के उलट क्वाड इस क्षेत्र में स्थित देशों को आश्वस्त करता है कि यह क्षेत्रीय हितों के लिये कार्य करेगा।

    परियोजनाओं का एकीकरण: क्वाड सदस्य देशों को कनेक्टिविटी परियोजनाओं को एकीकृत करने की दिशा में अधिक सक्रिय होना चाहिये। उदाहरण के तौर पर यूएस-इंडो-पैसिफिक इकोनॉमिक कॉरिडोर, जापान का एशिया-अफ्रीका आर्थिक गलियारा, भारत का प्रोजेक्ट मौसम।

    क्वाड का विस्तार: क्वाड को एक मज़बूत क्षेत्रीय परामर्श तंत्र के निर्माण पर ध्यान केंद्रित करना चाहिये और क्षेत्रीय महत्त्व के मुद्दों पर आसियान देशों के साथ समन्वय करना चाहिये।

    निष्कर्ष

    अगर कभी भी क्वाड के तहत एक व्यापारिक समझौता हुआ तो व्यापार लागत में कमी के साथ यह गठबंधन की आर्थिक क्षमता को बढ़ाएगा। हालाँकि सैन्य घटक और आर्थिक घटक को एक साथ रखने की आवश्यकता है। इससे क्वाड को एक बहुत मज़बूत गठबंधन के रूप में उभरने में मदद मिलेगी, क्योंकि सैन्य शक्ति के बिना अन्य सभी क्षेत्रों को उत्कृष्ट नहीं बनाया जा सकता है।

    To get PDF version, Please click on "Print PDF" button.

    Print
एसएमएस अलर्ट
Share Page