हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

मध्य प्रदेश स्टेट पी.सी.एस.

  • 09 Aug 2022
  • 0 min read
  • Switch Date:  
मध्य प्रदेश Switch to English

संपूर्ण कायाकल्प अभियान

चर्चा में क्यों?

8 अगस्त, 2022 को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कुशाभाऊ ठाकरे सभागृह में स्वास्थ्य विभाग के ‘संपूर्ण कायाकल्प अभियान’ का शुभारंभ किया और अभियान में 66 करोड़ रुपए की राशि प्रदेश की स्वास्थ्य संस्थाओं के प्रभारियों के खातों में ट्रांसफर की।

प्रमुख बिंदु 

  • इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने ज़िला अस्पतालों और अन्य स्वास्थ्य संस्थाओं को कायाकल्प पुरस्कार से सम्मानित भी किया तथा अलग-अलग श्रेणियों में पुरस्कार प्रदान किये।
  • मुख्यमंत्री ने ज़िला अस्पतालों को स्वास्थ्य सेवाओं का श्रेष्ठ संचालन के लिये कायाकल्प अवार्ड प्रदान किये। इनमें विदिशा ज़िला अस्पताल को 50 लाख रुपए का प्रथम पुरस्कार, ज़िला अस्पताल देवास को 20 लाख रुपए का द्वितीय पुरस्कार और ज़िला अस्पताल सतना को 10 लाख रुपए का तृतीय पुरस्कार प्रदान किया।
  • लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने कहा कि कायाकल्प अभियान की शुरुआत वर्ष 2015 में की गई थी। पहले 65 स्वास्थ्य संस्थाएँ पुरस्कृत हुई थीं। वर्ष 2021-22 में प्रदेश की 395 स्वास्थ्य संस्थाओं को कायाकल्प अवार्ड दिया जा रहा है।
  • उन्होंने कहा कि शासकीय अस्पतालों को अधिक सुविधा संपन्न बनाने के लिये संपूर्ण कायाकल्प अभियान शुरू किया जा रहा है।
  • इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि संपूर्ण कायाकल्प अभियान के अंतर्गत अधो-संरचना का विकास एवं भवन रख-रखाव, चिकित्सा उपकरण एवं फर्नीचर की उपलब्धता, संस्थाओं में जाँच, सेवाओं एवं दवाओं की पर्याप्त उपलब्धता, डायलिसिस एवं कैंसर की नई उपचार सेवाओं का विकास, ब्लड बैंक एवं ब्लड स्टोरेज का सुदृढ़ीकरण, विशेषज्ञों की कमी को दूर करने के लिये टेलीमेडिसिन सेवाओं का विस्तार, रोगियों के लिये हितग्राही मूलक सेवाओं का विकास और स्वास्थ्य सेवाओं में जन-भागीदारी को बढ़ावा देना आदि शामिल हैं।

मध्य प्रदेश Switch to English

प्रदेश में इलेक्ट्रिक वाहन औद्योगिक क्षेत्र में डेढ़ हज़ार करोड़ के निवेश का प्रस्ताव

चर्चा में क्यों?

8 अगस्त, 2022 को कुशाभाऊ ठाकरे सभागृह में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से वोल्वो आयशर कमर्शियल व्हीकल्स लिमिटेड के एमडी विनोद अग्रवाल ने भेंटकर प्रदेश में 1,500 करोड़ रुपए के प्रस्तावित निवेश की जानकारी दी। 

प्रमुख बिंदु 

  • मुख्यमंत्री चौहान को प्रस्तावित परियोजना की प्रति सौंपते हुए विनोद अग्रवाल ने कंपनी की वर्तमान इकाइयों के क्षमता विस्तार के लिये तैयार परियोजना प्रस्ताव से अवगत करवाया।
  • वोल्वो आयशर कमर्शियल व्हीकल लिमिटेड द्वारा प्रदेश में वर्ष 1986 में पहली इकाई लगाई गई थी। वर्तमान में पीथमपुर और बागरोदा में 8 इकाइयाँ संचालित हैं, जिनमें 32,000 से अधिक लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोज़गार प्राप्त हो रहा है।
  • मध्य प्रदेश की 110 ऑटो कंपोनेंट इकाइयों द्वारा कंपनी की सभी यूनिट्स में सामग्री की आपूर्ति की जाती है। इकाइयों की वर्तमान क्षमता के विस्तार के लिये नवीन उत्पाद निर्माण प्रस्तावित है।
  • मुख्यमंत्री चौहान ने कंपनी के एमडी को आश्वस्त करते हुए कहा कि राज्य शासन द्वारा कंपनी को पूर्ण सहयोग प्रदान किया जाएगा। निर्धारित नीति के अनुसार सभी आवश्यक सुविधाएँ प्रदान की जाएंगी। उन्होंने कहा कि ऐसे उद्योग आज की आवश्यकता है और इससे बड़ी संख्या में युवाओं को रोज़गार भी प्राप्त होगा।

 Switch to English
एसएमएस अलर्ट
Share Page