दृष्टि ज्यूडिशियरी का पहला फाउंडेशन बैच 11 मार्च से शुरू अभी रजिस्टर करें
ध्यान दें:

मेन्स प्रैक्टिस प्रश्न

  • प्रश्न :

    आप ऐसे ज़िले के पुलिस अधीक्षक (SP) हैं जहाँ पंचायत चुनाव हो रहे हैं। इन चुनावों में व्यापक हिंसा होने के कारण कई लोगों की मृत्यु होने के साथ गंभीर चोटें आईं हैं। इस संदर्भ में सत्ताधारी दल और विपक्षी दलों ने एक दूसरे पर भ्रष्टाचार, धमकी और बूथ कैप्चरिंग का आरोप लगाया है। राज्य निर्वाचन आयोग (SEC) द्वारा इस स्थिति पर रिपोर्ट मांगने के साथ स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करने के लिये आपसे आवश्यक कदम उठाने को कहा गया है।

    आपके ज़िले में हिंसा के प्रमुख कारणों में से एक, बाहुबली नेता है जो सत्ताधारी दल से संबंधित है और उसके खिलाफ कई आपराधिक मामले भी दर्ज हैं। यह अपने क्षेत्र से चुनाव लड़ रहा है और कथित तौर पर उसने अपने प्रतिद्वंद्वियों और मतदाताओं को बलपूर्वक अपने पक्ष में करने की कोशिश की है। उसे कुछ प्रभावशाली राजनेताओं और धार्मिक गुरुओं का भी संरक्षण प्राप्त है जिन्होंने अपने अनुयायियों से उसे वोट देने की अपील की है।

    a) इस मामले में कौन से नैतिक मुद्दे शामिल हैं?
    b) SP के रूप में इस संदर्भ में आपके समक्ष कौन से विकल्प उपलब्ध हैं? प्रत्येक विकल्प का उसके गुण-दोषों के आधार पर मूल्यांकन कीजिये।
    c) SP के रूप में इस संदर्भ में आप क्या कार्रवाई करेंगे? अपने निर्णय के पक्ष में उचित कारण दीजिये।

    07 Jul, 2023 सामान्य अध्ययन पेपर 4 केस स्टडीज़

    उत्तर :

    हल करने का दृष्टिकोण:

    • परिचय: इस मामले का संक्षिप्त परिचय देते हुए अपने उत्तर की शुरुआत कीजिये।
    • मुख्य भाग: इसमें शामिल नैतिक मुद्दे एवं उपलब्ध विकल्पों के साथ अपनी कार्रवाई के क्रम का उल्लेख कीजिये।
    • निष्कर्ष: उचित एवं संक्षिप्त निष्कर्ष दीजिये।

    परिचय:

    यह मामला ज़िले में स्वतंत्र और निष्पक्ष पंचायत चुनाव सुनिश्चित करने में पुलिस अधीक्षक (SP) के समक्ष उत्पन्न नैतिक चुनौतियों से संबंधित है। इसमें कुख्यात बाहुबली नेता की भूमिका, हिंसा और धाँधली तथा धमकी के आरोपों के आलोक में सैद्धांतिक और निर्णायक प्रतिक्रिया की आवश्यकता है।

    मुख्य भाग:

    a) इस मामले में शामिल नैतिक मुद्दे:

    • निष्पक्षता और पारदर्शिता:
      • यह सुनिश्चित करना महत्त्वपूर्ण है कि चुनाव किसी भी राजनीतिक दल या व्यक्ति के प्रभाव के बिना निष्पक्ष रूप से आयोजित हों।
      • इस मामले में आपराधिक मामलों में संलग्न कुख्यात बाहुबली नेता की भूमिका से असंतुलन पैदा होने के साथ चुनावी प्रक्रिया की निष्पक्षता कमजोर होती है।
    • विधि का शासन:
      • लोकतांत्रिक समाज के लिये विधि के शासन को बनाए रखना आवश्यक है।
      • बाहुबली नेता द्वारा हिंसा और डराने-धमकाने की रणनीति को अपनाने से कानून एवं व्यवस्था के सिद्धांतों का उल्लंघन होता है जिससे नागरिकों की सुरक्षा और अधिकारों पर प्रश्नचिन्ह लगता है।
    • जवाबदेहिता और पारदर्शिता:
      • SP के रूप में चुनावी प्रक्रिया में पारदर्शिता सुनिश्चित करना मेरा कर्त्तव्य है।
      • किसी भी प्रकार के भ्रष्टाचार, बूथ कैप्चरिंग या धमकी से चुनाव की पारदर्शिता से समझौता होने के साथ लोकतांत्रिक प्रणाली में लोगों के विश्वास में कमी आती है।
    • निष्पक्ष प्रवर्तन:
      • प्रभावशाली राजनेताओं और धार्मिक नेताओं से संबंधित बाहुबली नेता को मिलने वाले लाभ एवं संरक्षण की स्थिति का समाधान करना महत्त्वपूर्ण है। राजनीतिक संबद्धता या प्रभाव के बिना, कानून को लागू करने में निष्पक्षता बनाए रखना चुनावी प्रक्रिया की अखंडता को बनाए रखने के लिये आवश्यक है।
    • सार्वजनिक सुरक्षा:
      • व्यापक हिंसा के परिणामस्वरूप होने वाली मौतें और चोट लगने की घटनाओं से नैतिक चिंताएँ पैदा होती हैं।
      • नागरिकों की सुरक्षा करना एक मौलिक कर्तव्य है और हिंसा का समाधान करने में विफलता से शासन प्रणाली में लोगों के विश्वास में और भी कमी आएगी।

    b) एसपी के रूप में मेरे समक्ष उपलब्ध विकल्प:

    • विकल्प 1: ज़िले में बाहुबली नेता और उसके दबदबे और प्रभाव से डरकर उसकी गतिविधियों को नज़रअंदाज करना।
      • गुण:
        • इस विकल्प से बाहुबली नेता और उसके समर्थकों के साथ किसी भी प्रकार के प्रत्यक्ष टकराव या संघर्ष से बचा जा सकता है।
        • इससे मैं उसकी ऐसी किसी भी प्रतिक्रिया या प्रतिशोध से बच सकता हूँ जो मेरे जीवन या करियर के लिये जोखिमपूर्ण हो।
      • दोष:
        • इस विकल्प से विधि के शासन का उल्लंघन होने के साथ चुनाव के दौरान हिंसा और कदाचार को बढ़ावा मिल सकता है।
        • इससे मतदाता, उम्मीदवार और चुनाव कर्मचारी अपने लोकतांत्रिक अधिकारों से भी वंचित हो सकते हैं।
        • इससे चुनाव कराने के लिये एक जिम्मेदार और निष्पक्ष एजेंसी के रूप में पुलिस की विश्वसनीयता और अखंडता भी कमजोर हो सकती है।
    • विकल्प 2: बाहुबली नेता और उसके समर्थकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करना।
      • गुण:
        • इस विकल्प से विधि के शासन को बनाए रखने के साथ चुनाव के दौरान हिंसा को नियंत्रित करके सार्वजनिक व्यवस्था को बनाए रखा जा सकता है।
        • इससे स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव द्वारा मतदाताओं, उम्मीदवारों और चुनाव कर्मचारियों के लोकतांत्रिक अधिकारों को भी सुनिश्चित किया जा सकता है।
        • इससे चुनाव कराने के लिये एक जिम्मेदार और निष्पक्ष एजेंसी के रूप में पुलिस के अधिकार और सत्यनिष्ठा को बल मिल सकता है।
      • दोष:
        • इससे सत्तारूढ़ दल या बाहुबली नेता और उसके समर्थकों के विरोध का सामना करना पड़ सकता है, जो पुलिस पर पक्षपात या मनमानी का आरोप लगा सकते हैं। इससे विभिन्न दलों या समूहों के बीच हिंसा या संघर्ष भी बढ़ सकता है।
        • शक्तिशाली या प्रभावशाली व्यक्तियों या समूहों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिये पुलिस को साहस और प्रतिबद्धता की भी आवश्यकता हो सकती है।
    • विकल्प 3: बाहुबली नेता के साथ बातचीत करने के साथ उसे चुनाव के दौरान हिंसा या कदाचार से दूर रहने के लिये सहमत करना और उसे चुनाव लड़ने का उचित मौका देने का आश्वासन देना।
      • गुण:
        • इससे ज़िले में हिंसा या तनाव को कम किया जा सकता है।
        • इससे स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव कराने के लिये अनुकूल माहौल भी बन सकता है।
        • इससे चुनाव कराने के लिये पुलिस, ज़िला प्रशासन और SEC के बीच सहयोग और समन्वय भी बनाए रखा जा सकता है।
      • दोष:
        • इस विकल्प से बाहुबली नेता सहमत नहीं हो सकता है क्योंकि हिंसा या कदाचार में लिप्त होने के उसके अन्य राजनीतिक या आपराधिक उद्देश्य हो सकते हैं।
        • इसके लिये पुलिस से समझौते या रियायत देने की भी आवश्यकता हो सकती है जिससे इनकी सत्यनिष्ठा या निष्पक्षता प्रभावित हो सकती है।
        • इससे अन्य दलों या समूहों द्वारा चुनाव प्रक्रिया में अविश्वास या हस्तक्षेप की धारणा भी बन सकती है।
    • विकल्प 4: अर्धसैनिक बलों से सहायता लेना:
      • गुण:
        • अर्धसैनिक बलों के सहयोग से इस अस्थिर स्थिति से प्रभावी ढंग से निपटने हेतु अतिरिक्त जनशक्ति एवं विशेषज्ञता प्राप्त हो सकती है।
        • इससे संभावित उपद्रव को रोका जा सकता है।
      • दोष:
        • अर्धसैनिक बलों के साथ समन्वय में समय लगने के साथ अधिक संसाधनों की आवश्यकता हो सकती है।
        • इससे तनाव भी बढ़ सकता है।
    • विकल्प 5: प्रभावशाली हितधारकों के साथ बातचीत करना:
      • गुण:
        • प्रभावशाली राजनेताओं और धार्मिक नेताओं के साथ बातचीत करने से बाहुबली नेता के प्रति उनके समर्थन को कम किया जा सकता है।
        • इससे इन्हें लोकतांत्रिक प्रक्रिया को प्राथमिकता देने हेतु सहमत किया जा सकता है।
      • दोष:
        • इस बातचीत की सफलता लोकतांत्रिक सिद्धांतों को बनाए रखने के प्रति इन हितधारकों की भागीदारी की इच्छा और उनकी प्रतिबद्धता पर निर्भर करती है।
        • इस बातचीत के असफल होने से लोगों के हितों के साथ समझौता होने का जोखिम शामिल है।
    • इस संदर्भ में SP के रूप में मेरी कार्रवाई का क्रम:
      • अतिरिक्त पुलिस कर्मियों को तैनात करना:
        • मैं अतिरिक्त पुलिस कर्मियों को तैनात करके मतदान केंद्रों एवं अन्य संवेदनशील क्षेत्रों में सुरक्षा उपायों को मजबूत करने पर ध्यान दूँगा।
        • मैं यह सुनिश्चित करूँगा कि पुलिस कर्मियों की तैनाती हिंसा वाले क्षेत्रों को ध्यान में रखकर की जाए।
      • अर्धसैनिक बलों के साथ समन्वय करना:
        • सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाने के लिये अर्धसैनिक बलों के साथ समन्वय करने के साथ ही इस स्थिति के बेहतर प्रबंधन हेतु पुलिस कर्मियों को आवश्यक प्रशिक्षण प्रदान करने पर बल दूँगा।
      • एक समर्पित हेल्पलाइन स्थापित करना:
        • हिंसा या धमकी की किसी भी घटना की रिपोर्ट करने के लिये नागरिकों हेतु एक समर्पित हेल्पलाइन स्थापित करूँगा।
        • इस हेल्पलाइन नंबर का व्यापक रूप से प्रचार करने के साथ लोगों को गोपनीयता और सुरक्षा का आश्वासन दूँगा।
      • इस संदर्भ में गहन जाँच करना:
        • बाहुबली नेता और उसके समर्थकों के खिलाफ आपराधिक मामलों की गहन जाँच शुरू करूँगा।
        • इस संदर्भ में सबूत इकट्ठा करने, अपराधियों की पहचान करने के साथ यह सुनिश्चित करने पर बल दूँगा कि इस संदर्भ में आवश्यक कार्रवाई की जाए।
      • सामुदायिक समन्वय पर बल देना:
        • स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव के महत्त्व के बारे में लोगों को शिक्षित करने के लिये जागरूकता अभियान चलाने पर बल दूँगा।
        • लोकतांत्रिक प्रक्रिया के प्रति जिम्मेदारी की भावना को बढ़ावा देने के लिये जन नेताओं, नागरिक समाज संगठनों और प्रभावशाली व्यक्तियों के साथ समन्वय करूँगा।
      • नियमित निगरानी करना:
        • तकनीक की सहायता से जमीनी स्तर पर निगरानी के माध्यम से (विशेष रूप से मतदान के दिनों में) संबंधित स्थिति से लगातार अवगत रहूँगा।
        • समन्वित प्रतिक्रिया सुनिश्चित करने के लिये राज्य चुनाव आयोग और अन्य संबंधित अधिकारियों को नियमित अपडेट दूँगा।

    निष्कर्ष:

    इस संदर्भ में अंतिम लक्ष्य एक ऐसा वातावरण बनाना है जहाँ प्रत्येक मतदाता स्वतंत्र हो, उम्मीदवार समान प्रतिस्पर्धा कर सकें एवं निष्पक्षता, पारदर्शिता और जवाबदेहिता जैसे लोकतांत्रिक मूल्य स्थापित हो सकें। इन सिद्धांतों को बनाए रखने से न केवल चुनावी प्रक्रिया में पारदर्शिता आती है बल्कि लोकतांत्रिक मूल्यों को बढ़ावा मिलने से नागरिकों के बीच विश्वास और सद्भाव को बढ़ावा मिलता है।

    To get PDF version, Please click on "Print PDF" button.

    Print
close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2