हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

मेन्स प्रैक्टिस प्रश्न

  • प्रश्न :

    प्रश्न: भारतीय संविधान में निहित नैतिक मूल्य क्या हैं? (250 शब्द)

    27 Oct, 2022 सामान्य अध्ययन पेपर 4 सैद्धांतिक प्रश्न

    उत्तर :

    हल करने के दृष्टिकोण:

    • नैतिक मूल्यों को संक्षेप में परिभाषित कीजिये।
    • भारतीय संविधान में निहित विभिन्न नैतिक मूल्यों की चर्चा कीजिये।
    • उचित निष्कर्ष लिखिये।

    पृष्ठभूमि

    नैतिक मूल्य, कौन सा कार्य सही है या विभिन्न कृत्यों के महत्त्व को निर्धारित करने के उद्देश्य से कार्यो के महत्त्व की कोटि को दर्शाता है।

    प्रारूप

    • भारतीय संविधान में निहित नैतिक मूल्य हैं::
      • प्रस्तावना:
        • समाजवाद, पंथनिरपेक्षता और लोकतंत्र।
        • सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक न्याय।
        • विचार, अभिव्यक्ति, विश्वास, आस्था और उपासना की स्वतंत्रता।
        • स्थिति और अवसर की समानता।
        • व्यक्ति की बंधुता और गरिमा।
        • राष्ट्रीय एकता और अखंडता।
      • मौलिक अधिकार और मौलिक कर्तव्य: मौलिक अधिकारों में निहित नैतिक मूल्य सम्मानजनक जीवन का अधिकार, उपासना का अधिकार, शिक्षा का अधिकार आदि के रूप में मौजूद हैं और मौलिक कर्तव्यों में साथी नागरिकों के बीच बंधुत्व बनाए रखना, प्रकृति के प्रति सम्मान और उनका संरक्षण करके पर्यावरण नैतिकता को प्रोत्साहित करना शामिल है।
      • राज्य के नीति-निदेशक तत्त्व:
        • राज्य के नीति निदेशक तत्त्व 'देश के शासन के प्रमुख सिद्धांत' हैं। सरकार को कानून बनाते समय इन सिद्धांतों का पालन करना होता है।
          • पूंजी का समान वितरण या समाजवादी विचारधारा के अनुरूप पुरुषों और महिलाओं दोनों को बिना किसी लैंगिक भेदभाव के समान काम के लिए समान वेतन।
          • सभी नागरिकों, पुरुषों और महिलाओं के लिए आजीविका के पर्याप्त साधन का प्रावधान।
          • सभी के लिये रोज़गार का प्रावधान।
          • बच्चों के लिए मुफ्त और अनिवार्य शिक्षा।
          • श्रमिकों के लिए उचित पारिश्रमिक।
          • नैतिक और भौतिक परित्यजन तथा शोषण के खिलाफ बच्चों एवं युवाओं का संरक्षण।
          • स्वशासन की इकाइयों के रूप में ग्राम पंचायतों का संगठन।
          • चिकित्सा प्रयोजनों को छोड़कर, नशीले पेय और स्वास्थ्य के लिए हानिकारक दवाओं के सेवन का निषेध।
          • आधुनिक और वैज्ञानिक तर्ज़ पर कृषि और पशुपालन का संगठन।
          • अंतर्राष्ट्रीय शांति और सुरक्षा को बढ़ावा देना और विश्व के देशों के बीच न्यायसंगत और सम्मानजनक संबंधों को बनाए रखना।
          • सामाजिक कल्याण के उपाय।

    निष्कर्ष:

    संविधान में निहित उपरोक्त मूल्य लोक सेवकों को उनके प्रदर्शन में उत्तरोतर वृद्धि करने में मदद करते हैं और आगे कई आधिकारिक स्थितियों में उनकी मदद करते हैं, जिनमें नैतिक प्रश्न शामिल हैं।

    To get PDF version, Please click on "Print PDF" button.

    Print
एसएमएस अलर्ट
Share Page