हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

मेन्स प्रैक्टिस प्रश्न

  • संपूर्ण विश्व के लोकतांत्रिक इतिहास में 1952 का आम चुनाव मील का पत्थर साबित हुआ। आलोचनात्मक मूल्यांकन कीजिये।

    27 Sep, 2018 सामान्य अध्ययन पेपर 1 इतिहास

    उत्तर :

    भूमिका में :- 1952 के आम चुनावों के सामान्य परिचय से उत्तर की शुरुआत करें इसमें लोकतांत्रिक प्रणाली में चुनावों की महत्ता को बताते हुए 1947 में आज़ाद हुए भारत जैसे नवस्वतंत्र लोकतांत्रिक गणराज्य में 1952 में चुनावों के माध्यम से लोकतंत्र का प्रथम उत्सव मनाने की चर्चा करें।

    विषय-वस्तु में :-

    भूमिका से लिंक रखते हुए प्रथम पैराग्राफ में 1952 के चुनावों की कुछ मुख्य विशेषताओं पर चर्चा करें, इसमें निम्नलिखित बिंदुओं पर चर्चा की जा सकती है :

    • भारत ने बहुपार्टी प्रणाली अपनाई। 
    • मतदान का अधिकार वयस्कता के आधार पर दिया, न कि संपत्ति या लिंग के आधार पर।
    • निर्धनों ने भी मतदान के अधिकार का लाभ उठाया इत्यादि।

    चूँकि प्रश्न में आलोचनात्मक मूल्यांकन करने के लिये कहा गया है इसलिये इसके नकारात्मक प्रभावों पर चर्चा करें, जैसे-

    • एक पार्टी सिस्टम का प्रारंभ हुआ। 
    • एक पार्टी सिस्टम ने अन्य दलों की उपस्थिति को उपेक्षित कर दिया। 
    • कॉन्ग्रेस ने स्वतंत्रता आंदोलन के अपने सशक्त आधार का लाभ उठाया, जबकि नवगठित पार्टियाँ देश के दूरदराज़ के स्थानों तक अपनी पहुँच नहीं बना पाईं। 
    • लोकतांत्रिक अधिनायकवाद की स्थिति उभरी। 
    • बहुमत के आधार पर कॉन्ग्रेस ने नागरिक स्वतंत्रता को सीमित करने का प्रयास किया। 

    अंत में प्रश्नानुसार संक्षिप्त, संतुलित एवं सारगर्भित निष्कर्ष प्रस्तुत करें।

    नोट : निर्धारित शब्द-सीमा में विश्लेषित करके लिखें।

एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close