दृष्टि ज्यूडिशियरी का पहला फाउंडेशन बैच 11 मार्च से शुरू अभी रजिस्टर करें
ध्यान दें:

मध्य प्रदेश स्टेट पी.सी.एस.

  • 30 Dec 2021
  • 0 min read
  • Switch Date:  
मध्य प्रदेश Switch to English

विभिन्न निगम, मंडल, बोर्ड तथा प्राधिकरण के अध्यक्षों को तथा कैबिनेट मंत्री का दर्जा और उपाध्यक्षों को मिला राज्य मंत्री का दर्जा

चर्चा में क्यों?

29 दिसंबर, 2021 को राज्य शासन ने निगम, मंडल, बोर्ड और प्राधिकरण के नव-नियुक्त अध्यक्षों को केबिनेट मंत्री का दर्जा प्रदान करने के आदेश जारी कर दिये हैं। केबिनेट मंत्री का दर्जा उनके कार्यभार ग्रहण करने की तिथि से प्राप्त होगा।

प्रमुख बिंदु

  • इसी प्रकार निगम, मंडल, बोर्ड और प्राधिकरण के नव-नियुक्त उपाध्यक्षों को राज्य मंत्री का दर्जा प्रदान करने के आदेश भी जारी हो गए हैं। यह भी संबंधित नव-नियुक्त उपाध्यक्षों को उनके कार्यभार ग्रहण करने की तिथि से प्राप्त होगा।
  • मध्य प्रदेश शासन ने शैलेंद्र बरूआ को मध्य प्रदेश पाठ्य-पुस्तक निगम, शैलेंद्र शर्मा को मध्य प्रदेश राज्य कौशल विकास एवं रोज़गार निर्माण बोर्ड, जितेंद्र लिटौरिया को मध्य प्रदेश खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड, इमरती देवी को मध्य प्रदेश लघु उद्योग निगम लिमिटेड, एंदल सिंह कंषाना को मध्य प्रदेश स्टेट एग्रो इंडस्ट्रीज डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन लिमिटेड, गिर्राज दंडोतिया को मध्य प्रदेश ऊर्जा विकास निगम, रणवीर जाटव को संत रविदास मध्य प्रदेश हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास निगम लिमिटेड, जसवंत जाटव को मध्य प्रदेश राज्य पशुधन एवं कुक्कुट विकास निगम तथा मुन्नालाल गोयल को मध्य प्रदेश राज्य बीज एवं फार्म विकास निगम का अध्यक्ष बनाया है। 
  • इसी प्रकार रघुराज कंसाना को मध्य प्रदेश पिछड़ा वर्ग तथा अल्पसंख्यक वित्त एवं विकास निगम, आशुतोष तिवारी को मध्य प्रदेश गृह निर्माण एवं अधोसंरचना विकास मंडल, विनोद गोंटिया को मध्य प्रदेश राज्य पर्यटन विकास निगम मर्यादित, जयपाल चावड़ा को इंदौर विकास प्राधिकरण, अमिता चपरा को मध्य प्रदेश महिला वित्त एवं विकास निगम, निर्मला बारेला को मध्य प्रदेश आदिवासी वित्त एवं विकास निगम और सावन सोनकर को मध्य प्रदेश राज्य सहकारी अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम मर्यादित का अध्यक्ष बनाया गया है।
  • वहीं राज्य शासन ने प्रहलाद भारती को मध्य प्रदेश पाठ्य-पुस्तक निगम, नरेंद्र बिरथरे को मध्य प्रदेश राज्य कौशल विकास एवं रोज़गार निर्माण बोर्ड, राजकुमार कुशवाहा को मध्य प्रदेश राज्य बीज एवं फार्म विकास निगम, अजय यादव को मध्य प्रदेश पिछड़ा वर्ग तथा अल्पसंख्यक वित्त विकास निगम, मंजू दादू को मध्य प्रदेश राज्य कृषि विपणन बोर्ड, नरेंद्र सिंह तोमर को मध्य प्रदेश राज्य पर्यटन विकास निगम मर्यादित, राजेंद्र सिंह मोकलपुर को दि मध्य प्रदेश स्टेट माइनिंग कार्पोरेशन लिमिटेड, रमेश खटीक को मध्य प्रदेश राज्य सहकारी अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम मर्यादित एवं राजेश अग्रवाल को मध्य प्रदेश राज्य नागरिक आपूर्ति निगम का उपाध्यक्ष बनाया है।

मध्य प्रदेश Switch to English

उज्जैन के माधव विज्ञान महाविद्यालय को मिला नैक से सर्वोच्च ए+ ग्रेड

चर्चा में क्यों?

29 दिसंबर, 2021 को उज्जैन के माधव विज्ञान महाविद्यालय को नेशनल असेसमेंट एंड एक्रीडिएशन काउंसिल (नैक) में सर्वोच्च ग्रेड ए+ मिला है।

प्रमुख बिंदु

  • प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि महाविद्यालय ने प्रदेश के सभी शासकीय महाविद्यालयों में से सबसे ज़्यादा अंक अर्जित किये हैं। यह गौरव की बात है। महाविद्यालय ने 3.48 अंक के साथ ए+ ग्रेड अर्जित किया है।
  • उच्च शिक्षा मंत्री ने बताया कि मध्य प्रदेश में प्रथम चरण में 55, द्वितीय चरण में 75 तथा तृतीय चरण में 80 शासकीय महाविद्यालय को नैक ग्रेड दिलाने के प्रयास किये जा रहे हैं। लगभग 85 प्रतिशत पात्र शासकीय महाविद्यालय को वर्ष 2023 तक नैक ग्रेड मिल सकेगी। 
  • उच्च शिक्षा में सुधारों की इसी  श्रृंखला में सभी महाविद्यालयों में मास्टर फैसिलिटेटर नियुक्त किये गए हैं। शासन द्वारा सेल्फ स्टडी रिपोर्ट के लिये भी मदद की जा रही है। 
  • गौरतलब है कि नैक मूल्यांकन एसएसआर पर ही निर्धारित होता है। प्रदेश के लगभग 107 शासकीय महाविद्यालयों को अभी तक नैक ग्रेड प्राप्त हैं।

 Switch to English
close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2