दृष्टि ज्यूडिशियरी का पहला फाउंडेशन बैच 11 मार्च से शुरू अभी रजिस्टर करें
ध्यान दें:

मध्य प्रदेश स्टेट पी.सी.एस.

  • 25 Nov 2023
  • 0 min read
  • Switch Date:  
मध्य प्रदेश Switch to English

बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में शुरू हुई बायसन की गणना

चर्चा में क्यों?

23 नवंबर, 2023 को बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में तीन दिवसीय गौर गणना की शुरुआत हुई। 25 नवंबर को बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के कार्यालय में गणना आंकड़ों को भेजा जाएगा। 

प्रमुख बिंदु  

  • बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के सहायक संचालक विवेक सिंह ने बताया कि बांधवगढ टाइगर रिजर्व में तीन दिवसीय गौर गणना की जा रही है। आंकड़े एकत्रित करने के बाद बांधवगढ टाइगर रिजर्व में बायसन के आंकड़े सामने आएंगे।  
  • बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के सभी परिक्षेत्र के अधिकारी-कर्मचारी गौर (बायसन) गणना में लगे हुए हैं। बायसन की गणना में टाइगर रिजर्व के लगभग सात सौ कर्मचारी लगे हुए हैं।  
  • बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के सभी परिक्षेत्र के अधिकारी और कर्मचारी बायसन की गणना के लिये सुबह 6 से 9 बजे तक पैदल घूमेंगे। ये लोग बायसन दिखने पर फोटो, जीपीएस लोकेशन और समय के साथ प्रपत्र को इसमें भरेंगे और 25 नवंबर को बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के कार्यालय में आंकड़ों को भी भेजेंगे। 
  • विदित हो कि 2012 में कान्हा राष्ट्रीय उद्यान से बायसन को बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में लाकर बसाया गया था। उसके बाद बायसनो की संख्या में लगातार वृद्धि भी देखी गई है। चार वर्षों में बायसन की गणना होती है।  
  • बायसन मुख्य रूप से ताला, मगधी और कल्लवाह परिक्षेत्र में देखने को मिलते हैं। बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में 2023 में लगभग डेढ़ सौ बायसन होने का अनुमान लगाया जा रहा है।

 Switch to English
close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2