प्रयागराज शाखा पर IAS GS फाउंडेशन का नया बैच 10 जून से शुरू :   संपर्क करें
ध्यान दें:

उत्तराखंड स्टेट पी.सी.एस.

  • 19 Apr 2024
  • 0 min read
  • Switch Date:  
उत्तराखंड Switch to English

उत्तराखंड में हताहत-मुक्त लोकसभा चुनाव की तैयारी

चर्चा में क्यों?

उत्तराखंड के अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी के मुताबिक, लोकसभा चुनाव की तैयारियाँ चल रही हैं। उत्तराखंड की सभी पाँच लोकसभा सीटों पर 19 अप्रैल 2024 को एक ही चरण में मतदान होना है।

मुख्य बिंदु:

  • अधिकारियों के मुताबिक, उन्होंने आपातकालीन सेवा के लिये दो हेलीकॉप्टरों की व्यवस्था की है और मतदान हताहत-मुक्त होगा जिसमें कोई आपातकालीन स्थिति उत्पन्न नहीं होगी।
  • पहाड़ी राज्य में मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिये राज्य भर में 11,000 से अधिक मतदान केंद्र स्थापित किये जा रहे हैं।
    • वोटों की गिनती 4 जून 2024 को होनी है।

एक राष्ट्र-एक चुनाव 

  • परिचय:
    • यह अवधारणा एक ऐसे परिदृश्य की कल्पना करती है जहाँ प्रत्येक पाँच वर्ष पर सभी राज्यों के चुनाव लोकसभा के आम चुनावों के साथ-साथ संपन्न होंगे
    • विचार यह है कि चुनावी प्रक्रिया को सुव्यवस्थित किया जाए और चुनावों की आवृत्ति को कम किया जाए, जिससे समय तथा संसाधनों की बचत होगी
  • पृष्ठभूमि:
    • यह विचार वर्ष 1983 से ही अस्तित्त्व में है, जब निर्वाचन आयोग ने पहली बार इसे पेश किया था। हालाँकि वर्ष 1967 तक भारत में एक साथ चुनाव आयोजित कराना एक सामान्य परिदृश्य रहा था
      • लोकसभा के प्रथम आम चुनाव और सभी राज्य विधानसभाओं के चुनाव 1951-52 में एक साथ आयोजित कराए गए थे
      • यह अभ्यास वर्ष 1957, 1962 और 1967 में आयोजित अगले तीन आम चुनावों में भी जारी रहा।
    • लेकिन वर्ष 1968 और 1969 में कुछ विधानसभाओं के समय-पूर्व विघटन के कारण यह चक्र बाधित हो गया
      • वर्ष 1970 में स्वयं लोकसभा का समय-पूर्व विघटन हो गया और वर्ष 1971 में नए चुनाव आयोजित कराए गए। इस प्रकार, वर्ष 1970 तक केवल प्रथम, द्वितीय और तृतीय लोकसभा ने पाँच वर्ष का नियत कार्यकाल पूरा किया

 Switch to English
close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2