हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

हरियाणा स्टेट पी.सी.एस.

  • 16 Aug 2022
  • 1 min read
  • Switch Date:  
हरियाणा Switch to English

हरियाणा सरकार ने 10 गाँवों को मिलाकर नई नगर परिषद, पटौदी-मंडी बनाने की घोषणा की

चर्चा में क्यों?

14 अगस्त, 2022 को हरियाणा सरकार ने पटौदी नगर पालिका तथा हेलीमंडी नगर पालिका (राजस्व संपदा जाटौली) तथा आसपास के 10 गाँवों को मिलाकर नगर परिषद, पटौदी-मंडी बनाने की घोषणा की है। इस संबंध में शहरी स्थानीय निकाय विभाग द्वारा अधिसूचना जारी कर दी गई है।

प्रमुख बिंदु

  • जारी अधिसूचना के अनुसार गाँव नरहेड़ा, जनौला, रामपुर, छावन, मिल्कपुर, मिर्जापुर, मुबारकपुर, देवलावास, हेड़ाहेडी तथा खानपुर इस नए नगर परिषद, पटौदी-मंडी का हिस्सा होंगे।
  • पटौदी-मंडी नगर परिषद बनाने पर पटौदी के विधायक सत्यप्रकाश जरावता ने कहा कि आखिरकार आजादी के 75 वर्ष बाद गुलामी के प्रतीक हेली शब्द से मुक्ति मिली है। लोगों का कहना था कि हेली एक अंग्रेज गवर्नर था। उसके नाम से नगर का नाम उचित नहीं है। अब नए नगर परिषद का गठन होने से यह विवाद समाप्त हो गया है।
  • नई सीमाओं की जानकारी उत्तर-बिंदु ‘ए’जो कि नगरपालिका, हेलीमंडी (राजस्व संपदा जाटौली), ग्राम लुहारी तथा फरीदपुर का त्रि-मिलन है, से आरंभ होकर पूर्व की तरफ नगरपालिका हेलीमंडी (राजस्व संपदा जाटौली) की उतरी सीमा के साथ तथा ग्राम फरीदपुर, महचाना तथा खंडेवला की संयुत्त राजस्व सीमाओं के साथ-साथ बिंदु ‘बी’तक होगी जो कि नगरपालिका, हेलीमंडी, ग्राम खंडेवला तथा रामपुर की राजस्व सीमाओं का त्रि-मिलन है।
  • इसके उपरांत बिंदु ‘बी’से पूर्व दक्षिण की तरफ ग्राम रामपुर की उतरी सीमा के साथ तथा ग्राम खंडेवला, जाटौला तथा जोड़ी की संयुक्त राजस्व सीमाओं के साथ-साथ बिंदु ‘सी’ तक होगी जो कि ग्राम रामपुर, जोड़ी तथा जनौला की राजस्व सीमाओं का त्रि-मिलन है।
  • बिंदु ‘सी’से पूर्व की तरफ ग्राम जनौला की उतरी सीमा के साथ तथा ग्राम जोड़ी तथा घोषगढ़ की संयुक्त राजस्व सीमाओं के साथ-साथ बिंदु ‘डी’तक होगी जो कि ग्राम जनौला, घोषगढ तथा नरहेड़ा की राजस्व सीमाओं का त्रि-मिलन है।
  • बिंदु ‘डी’से पूर्व की तरफ ग्राम नरहेड़ा की उत्तरी सीमा के साथ तथा ग्राम घोषगढ़ तथा नरहेड़ा की संयुक्त राजस्व सीमाओं के साथ-साथ बिंदु ‘ई’तक होगी जो कि ग्राम नरहेड़ा, घोषगढ़ और भौड़ा कला की राजस्व सीमाओं का त्रि-मिलन है।
  • पूर्व-बिंदु ‘ई’से दक्षिण की तरफ ग्राम नरहेड़ा की पूर्व सीमा के साथ तथा ग्राम भौड़ाकला तथा ऊँचा माजरा की संयुक्त राजस्व सीमाओं के साथ-साथ बिंदु ‘एफ’तक होगी जो कि ग्राम नरहेड़ा, ऊँचा माजरा तथा बाँस पदम्का की राजस्व सीमाओं का त्रि-मिलन है।
  • बिंदु ‘एफ’से पश्चिम की तरफ ग्राम नरहेड़ा की दक्षिण सीमा के साथ तथा ग्राम बाँस पदम्का, बिड़ खुर्द की संयुक्त राजस्व सीमाओं के साथ-साथ बिंदु ‘जी’तक जो कि ग्राम नरहेड़ा, बिड खुर्द तथा नगरपालिका, पटौदी की राजस्व सीमाओं का त्रि- मिलन है।
  • बिंदु ‘जी’से दक्षिण की तरफ नगरपालिका, पटौदी की पूर्व सीमा के साथ तथा ग्राम बिड खुर्द तथा बास पदम्का की संयुक्त राजस्व सीमाओं के साथ-साथ बिंदु ‘एच’तक जो कि नगरपालिका पटौदी, ग्राम बाँस पदम्का तथा मुमताजपुर की राजस्व सीमाओं का त्रि-मिलन है।
  • दक्षिण-बिंदु ‘एच’से पश्चिम उतर की तरफ नगरपालिका, पटौदी की दक्षिण सीमा के साथ तथा ग्राम मुमताजपुर तथा लोहाका की संयुक्त राजस्व सीमाओं के साथ-साथ बिंदु ‘आई’ तक जो कि नगरपालिका पटौदी, ग्राम लोहाका तथा हेड़ाहेड़ी की राजस्व सीमाओं का त्रि-मिलन है।
  • बिंदु ‘आई’से दक्षिण की तरफ ग्राम हेड़ाहेड़ी के पूर्व-दक्षिण सीमा के साथ तथा ग्राम लोहाका, मुमताजपुर तथा हांसाका की संयुक्त राजस्व सीमाओं के साथ-साथ बिंदु ‘जे’तक जोकि ग्राम हेड़ाहेड़ी, खानपुर तथा हांसाका की राजस्व सीमाओं का त्रि-मिलन है।
  • बिंदु ‘जे’से दक्षिण-पश्चिम की तरफ ग्राम खानपुर की पूर्व-पश्चिम सीमाओं के साथ तथा ग्राम हांसाका, नानूकलां, गोरियावास तथा खोड़ की संयुक्त राजस्व सीमाओं के साथ-साथ बिंदु ‘के’तक जो कि ग्राम हेड़ाहेड़ी, खानपुर तथा खोड़ की राजस्व सीमाओं का त्रि-मिलन है।
  • पश्चिम-बिंदु ‘के’से पश्चिम की ओर ग्राम हेड़ाहेड़ी तथा नगरपालिका, पटौदी की दक्षिण सीमाओं के साथ ग्राम खोड़ की राजस्व सीमा के साथ-साथ बिंदु ‘एल’तक जो कि नगरपालिका, पटौदी, ग्राम छावन तथा खोड़ की राजस्व सीमाओं का त्रि-मिलन है।
  • बिंदु ‘एल’से पश्चिम की तरफ ग्राम छावन के दक्षिण सीमा के साथ तथा ग्राम खोड़ तथा रणसिका की संयुक्त राजस्व सीमाओं के साथ-साथ बिंदु ‘एम’तक जो कि ग्राम छावन रणसिका तथा मिलकपुर की राजस्व सीमाओं का त्रि-मिलन है।
  • बिंदु ‘एम’से उतर की तरफ ग्राम मिलकपुर की पश्चिम सीमा के साथ तथा ग्राम रणसिका, इंछापुरी तथा शाहपुरजाट की संयुक्त राजस्व सीमाओं के साथ-साथ बिंदु ‘एन’तक जो कि ग्राम मिलकपुर, शाहपुरजाट तथा नगरपालिका हेलीमंडी (राजस्व संपदा जाटौली) की राजस्व सीमाओं का त्रि-मिलन है।
  • बिंदु ‘एन’से उत्तर की तरफ नगरपालिका हेलीमंडी की पश्चिम सीमा के साथ तथा ग्राम शाहपुरजाट, मुजफरा, राजपुरा, लुहारी की संयुक्त राजस्व सीमाओं के साथ-साथ बिंदु ‘ए’तक जो कि प्रारंभिक बिंदु है।

 Switch to English
एसएमएस अलर्ट
Share Page