दृष्टि ज्यूडिशियरी का पहला फाउंडेशन बैच 11 मार्च से शुरू अभी रजिस्टर करें
ध्यान दें:

उत्तराखंड स्टेट पी.सी.एस.

  • 11 Dec 2023
  • 0 min read
  • Switch Date:  
उत्तराखंड Switch to English

उत्तराखंड में जल्द शुरू होगी जायरो कॉप्टर सफारी

चर्चा में क्यों?

10 दिसंबर, 2023 को राजस एयरो स्पोर्ट्स एंड एडवेंचर लिमिटेड (RAAAPL) के सीईओ मनीष सैनी ने बताया कि जल्द ही उत्तराखंड में जायरो कॉप्टर सफारी शुरू की जाएगी।

प्रमुख बिंदु

  • मनीष सैनी ने बताया कि RAAAPL ने ऋषिकेश में 2013-14 में एयर सफारी शुरू की थी। यह इंडिया की पहली एयर सफारी थी।
  • उन्होंने बताया कि इसी माह राज्य में जायरो कॉप्टर सेवा की शुरुआत भी की जा रही है, जो भारत और दक्षिण एशिया की पहली जायरो कॉप्टर सफारी होगी।
  • गौरतलब हो कि राजस एयरोस्पोर्ट्स एंड एडवेंचर लिमिटेड (RAAAPL) एक प्राइवेट लिमिटेड भारतीय गैर-सरकारी कंपनी है, जिसे 30 मई, 2013 को भारत में निगमित किया गया था और इसका पंजीकृत कार्यालय पौड़ी गढ़वाल, उत्तराखंड में है।
  • यह कॉर्पोरेट कला मनोरंजन और मनोरंजन सेवाएँ प्रदान करने के व्यवसाय में लगा हुआ है। वर्तमान में राजस एयरोस्पोर्ट्स मसूरी के जॉर्ज एवरेस्ट से हिमालयन दर्शन हेलिकॉप्टर सेवा संचालित कर रही है।


उत्तराखंड Switch to English

प्रदेश में खुलेंगे 10 निजी विश्वविद्यालय, तीन नए मेडिकल कॉलेज

चर्चा में क्यों?

9 दिसंबर, 2023 को उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने वैश्विक निवेशक सम्मेलन में निवेशकों को संबोधित करते हुए कहा कि उत्तराखंड में 10 नए निजी विश्वविद्यालय और तीन नए मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे।

प्रमुख बिंदु

  • शिक्षा मंत्री ने कहा कि नए स्कूल और विश्वविद्यालयों के लिये सरकार सभी बुनियादी सुविधाएँ उपलब्ध कराएगी। राज्य में निवेशकों को स्कूल और विश्वविद्यालय के लिये ज़मीन का चयन खुद करना है। बिजली, पानी, सड़क की सुविधा सरकार देगी। 25 प्रतिशत सब्सिडी भी दी जाएगी।
  • उन्होंने निवेशकों से पिथौरागढ़, अल्मोड़ा, पौड़ी आदि पर्वतीय ज़िलों में निवेश करने के लिये कहा।
  • उन्होंने बताया कि राज्य सरकार का लक्ष्य है कि उत्तराखंड में 2024 तक पाँच लाख बच्चे अन्य राज्यों से पढ़ने आएँ, जबकि एक लाख विदेशी बच्चे यहाँ आकर पढ़ें।
  • विदित हो कि वैश्विक निवेशक सम्मेलन में शिक्षा और माध्यमिक शिक्षा में 9000 करोड़ रुपए के निवेश का करार हुआ। इसमें करीब 17 निजी उच्च शिक्षण संस्थान और चार माध्यमिक विद्यालय शामिल थे।
  • इसमें अपोलो ग्रुप, साबरमती इंस्टीट्यूट गुजरात, सलोनी यूनिविर्सिटी, दून मॉर्डन एजुकेशन सोसाइटी, न्यू फाउंडेशन, शिवालिक हिल फाउंडेशन, डीआईटी यूनिवर्सिटी, गोंडवाना रिसर्च फाउंडेशन, राइट पार्क फाउंडेशन, ग्रीन फील्ड स्कूल, जन कल्याण एजुकेशन, गुरुनानक ट्रस्ट रुड़की, उत्तराखंड उत्थान समिति आदि के बीच करार हुआ।


उत्तराखंड Switch to English

आईएमए पासिंग आउट परेड 2023: भारत के 343 और मित्र राष्ट्रों के 29 कैडेट्स पास आउट हुए

चर्चा में क्यों?

9 दिसंबर, 2023 को भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) देहरादून में पासिंग आउट परेड में 343 भारतीय कैडेट्स और बारह मित्र देशों के 29 विदेशी कैडेट पास आउट हुए। श्रीलंका के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल शैवेंद्र सिल्वा ने परेड की सलामी ली।

प्रमुख बिंदु

  • भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) में पासिंग आउट परेड में देश और विदेश के 372 कैडेट्स अफसर बनकर अपनी सेनाओं की मुख्य धारा में जुड़ गए। इनमें 343 अफसर भारतीय सेना को मिले।
  • आईएमए की स्थापना के बाद से अब तक यहाँ से 65,234 देशी एवं विदेशी कैडेट्स पास आउट होकर अपने-अपने देश की सेना में सैन्य अधिकारी बन चुके हैं। इनमें 34 मित्र देशों की सेना के 2,914 सैन्य अधिकारी भी शामिल हैं।
  • विदित हो कि आईएमएम में होने वाले पासिंग आउट परेड (पीओपी) में बड़ी संख्या में उत्तराखंड के युवा अफसर निकलते हैं। आबादी में अन्य प्रदेशों से काफी छोटा होने के बाद भी अफसर देने में उत्तराखंड देशभर में पहले स्थान पर है।
  • पीओपी में इस बार भी उत्तर प्रदेश सबसे ज्यादा कैडेट्स देने वाला राज्य बना है। उत्तर प्रदेश के 68 कैडेट्स पासआउट होकर अफसर बनेंगे। वहीं, उत्तराखंड इस बार दूसरे स्थान पर है। उत्तराखंड के 42 कैडेट्स पासआउट हुए।
  • पिछली बार 20 राज्यों के कैडेट पीओपी में शामिल थे, लेकिन इस बार 27 राज्यों के कैडेट्स ने पीओपी में भाग लिया।
  • पासिंग आउट परेड में निम्नलिखित कैडेट्स को विभिन्न अवार्ड/पदक मिले-
    • स्वॉर्ड ऑफ ऑनर और गोल्ड मेडल- गौरव यादव (अवलर, राजस्थान)
    • सिल्वर मेडल- सौरभ बधानी (ग्वाल्दम चमोली, उत्तराखंड)
    • ब्रॉन्ज मेडल- आलोक सिंह (कानपुर, उत्तर प्रदेश)
    • सिल्वर मेडल (टीजीसी)- अजय पंत (रानीखेत अल्मोड़ा, उत्तराखंड)
    • श्रेष्ठ विदेशी कैडेट- शैलेश भट्टा (नेपाल) चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ बैनर, कोहिमा कंपनी
  • भारत सहित अन्य देशों को मिले अधिकारी- भारत-343, भूटान-9, मालद्वीव-4, श्रीलंका-4, मॉरीशस-3, नेपाल-2, म्यांमार-1, बांग्लादेश-1, तजाकिस्तान-1, उज़्बेकिस्तान-1, सूडान-1, तुर्कमेस्तिान-1, किर्गिस्तान-1

 


 Switch to English
close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2