दृष्टि ज्यूडिशियरी का पहला फाउंडेशन बैच 11 मार्च से शुरू अभी रजिस्टर करें
ध्यान दें:

राजस्थान स्टेट पी.सी.एस.

  • 11 Dec 2023
  • 0 min read
  • Switch Date:  
राजस्थान Switch to English

प्रदेश के राजकीय विद्यालयों में किया गया ‘नो बैग डे’ पर ‘लैब डे’ का आयोजन

चर्चा में क्यों?

9 दिसंबर, 2023 को राजस्थान के स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से प्रदेश के राजकीय विद्यालयों में ‘नो बैग डे’ की एक्टिविटी के तहत ‘लैब डे’ का आयोजन किया गया।

प्रमुख बिंदु

  • स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से विद्यालयों में प्रयोगशालाओं के व्यवस्थित, नियमित, सुचारू एवं प्रभावी संचालन से विद्यार्थियों के सीखने की प्रक्रिया में निखार लाने के लिये ‘लैब डे’ के तहत विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया गया।
  • इस अवसर पर विभाग के राज्य, संभाग, ज़िला और ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों द्वारा विद्यालय की भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, भूगोल, जीवविज्ञान, कंप्यूटर लैब, गृह विज्ञान, व्यवसायिक शिक्षा की लैब (प्रयोगशालाओं) का अवलोकन किया गया।
  • इस अवसर पर विभाग द्वारा दिये गए निर्देशों के अनुरूप लैब्स को बहुत ही अच्छी प्रकार व्यवस्थित किया गया। रासायनिक पदार्थों पर लेबलिंग की गई। रसायन विज्ञान व भौतिक विज्ञान के प्रयोगों को करने में विद्यार्थियों ने विशेष रुचि प्रदर्शित की। इस अवसर पर विद्यार्थियों द्वारा प्रोजेक्ट कार्य, सांइस प्रोजेक्ट का प्रदर्शन किया गया।
  • शासन सचिव नवीन जैन ने बताया कि नो बैग डे के अवसर पर ‘लैब डे’ मनाने का उद्देश्य, प्रदेश के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालयों में संचालित प्रयोगशालाओं के माध्यम से प्रभावी शिक्षण एवं विद्यार्थियों के लिये सीखने के अवसरों में वृद्धि करना है।


राजस्थान Switch to English

अलवर के गौरव यादव को मिला आईएमए का सबसे प्रतिष्ठित अवॉर्ड ‘स्वॉर्ड ऑफ ऑनर

चर्चा में क्यों?

9 दिसंबर, 2023 को भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) देहरादून में पासिंग आउट परेड में राजस्थान के अलवर ज़िले के गौरव यादव को आईएमए का सबसे प्रतिष्ठित अवॉर्ड ‘स्वॉर्ड ऑफ ऑनर’ मिला, साथ ही वे गोल्ड मैडल विजेता भी रहे।

प्रमुख बिंदु

  • विदित हो कि भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) से 343 युवा कैडेट्स पास आउट होकर देश सेवा के लिये सेना की मुख्यधारा में जुड़ गए। इसके साथ ही मित्र राष्ट्रों के 29 कैडेट्स भी पास आउट हुए।
  • पासिंग आउट परेड में गौरव यादव को ऑर्डर ऑफ मैरिट में पहला स्थान मिलने पर गोल्ड मैडल मिला। चमोली, उत्तराखंड के सौरव बधानी को ऑर्डर ऑफ मैरिट में दूसरा स्थान मिलने पर सिल्वर मैडल तथा कानपुर, उत्तर प्रदेश के आलोक सिंह को तीसरा स्थान मिलने पर ब्रॉन्ज मैडल मिला।
  • विदित हो कि अलवर के गौरव यादव के पिता बलवंत सिंह यादव किसान हैं और माँ कमलेश यादव गृहणी हैं। गौरव ने केरल पब्लिक स्कूल से पढ़ाई की थी। उनके भाई विनीत कुमार सेना में नायक के पद पर कार्यरत हैं।
  • गौरव ने बताया कि उन्होंने पाँच बार एनडीए की परीक्षा दी। चार बार वह असफल रहे, लेकिन पाँचवीं बार एनडीए पास किया। उन्हें पिछले साल अकादमी के 143वें कोर्स में राष्ट्रपति का स्वर्ण पदक (प्रेसीडेंट गोल्ड मेडल) मिला था।


 Switch to English
close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2