हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

बिहार स्टेट पी.सी.एस.

  • 08 Dec 2022
  • 0 min read
  • Switch Date:  
बिहार Switch to English

महाराष्ट्र व तमिलनाडु के तर्ज पर गया में विकसित होगा टेक्सटाइल पार्क

चर्चा में क्यों?

7 दिसंबर, 2022 को बिहार के गया ज़िले के डीएम डॉ. त्यागराजन ने बताया कि गया में मानपुर के शादीपुर बालू घाट के समीप महाराष्ट्र व तमिलनाडु के तर्ज पर टेक्सटाइल पार्क विकसित किया जाएगा। इस पार्क के लिये चिह्नित लगभग 23 एकड़ जमीन को अतिक्रमण मुक्त कराने का आदेश दिया गया है।

प्रमुख बिंदु 

  • इस पार्क के बनने के बाद फल्गु नदी को प्रदूषणमुक्त रखने व लोगों को रोज़गार के लिये सुनहरा अवसर मिलेगा। वर्तमान में कपड़ा रँगाई का रंगीन पानी नदी में ही गिराया जाता है, जिसको लेकर कई बार शिकायत की गई है।
  • डीएम डॉ. त्यागराजन ने बताया इस पार्क के निर्माण में अत्याधुनिक 435 यूनिट लगाने की योजना बनाई जा रही है, जिसमें कोट, पैंट सहित नये प्रकार के अत्याधुनिक कपड़ों का निर्माण किया जाएगा। टेक्सटाइल पार्क निर्माण होने से लोकल स्तर के साथ-साथ ज़िला स्तर पर अधिक संख्या में रोज़गार मिलेगा, जिससे यह क्षेत्र भविष्य में काफी विकसित हो जाएगा।
  • उन्होंने बुनकर सेवा समिति के अध्यक्ष को बताया कि विभिन्न बैंकों के साथ बैठक कर वस्त्र उद्योग व अत्याधुनिक मशीन खरीदने के लिये ऋण वितरण में सहयोग देने को लेकर हर संभव प्रयास किये जाएंगे।
  • वस्त्र उद्योग बुनकर सेवा समिति के अध्यक्ष प्रेम नारायण पटवा ने टेक्सटाइल पार्क के बारे में बताया कि वर्तमान में पटवाटोली में अपने घरों में 980 यूनिट, जो लगभग 12500 पावर लूम मशीन से कपड़ा बुनाई का काम कर रहे हैं, इसमें लगभग 30 से 35 हज़ार कामगार व श्रमिक काम करते हैं। इसके अलावा इसमें लगभग 50 प्रतिशत महिला कामगार हैं।

बिहार Switch to English

बिहार के जहानाबाद के वाणावर में रोपवे का निर्माण शुरू

चर्चा में क्यों?

7 दिसंबर, 2022 को मीडिया से मिली जानकारी के अनुसार बिहार के जहानाबाद ज़िले के ऐतिहासिक ‘मगध का हिमालय’नाम से मशहूर मखदुमपुर प्रखंड के वाणावर पहाड़ पर लंबे अरसे के बाद रोपवे निर्माण का कार्य शुरू हो गया है।

प्रमुख बिंदु 

  • जहानाबाद ज़िले के इस पहाड़ी इलाके के हथियाबोर में निर्माण कंपनी के द्वारा कैंप कार्यालय खोला गया है तथा पहाड़ी इलाके में लगे जंगल की सफाई भी की गई है।
  • रोपवे के निर्माण का कार्य बिहार राज्य पुल निगम ने बंगाल की कंपनी दामोदर रोपवे निर्माण लिमिटेड को सौंपा है। पहाड़ी इलाके में निर्माण कंपनी के मज़दूर पहाड़ के चिह्नित स्थानों पर पत्थरों को तोड़कर ड्रिल मशीन के सहयोग से पत्थर में पीलिंग का कार्य कर रहे हैं।
  • ज्ञातव्य है कि वाणावर पहाड़ पर रोपवे निर्माण के लिये राज्य के मखदुमपुर के पूर्व विधायक सह बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने 16 नवंबर, 2016 को कैबिनेट की बैठक में स्वीकृति प्रदान की थी।
  • हालाँकि कुछ माह पूर्व वन विभाग ने भी रोपवे निर्माण के लिये अपनी मंज़ूरी एवं एनओसी दे दिया है, जिसके बाद दामोदर रोपवे कंपनी के द्वारा कार्य शुरू किया गया।
  • वाणावर पहाड़ में रोपवे निर्माण दो इलाकों से कराया जाएगा। प्रथम फेज में हथियाबोर एवं दूसरे फेज में पाताल गंगा से कार्य कराया जाएगा।

 Switch to English
एसएमएस अलर्ट
Share Page