प्रयागराज शाखा पर IAS GS फाउंडेशन का नया बैच 10 जून से शुरू :   संपर्क करें
ध्यान दें:

स्टेट पी.सी.एस.

  • 06 Dec 2023
  • 0 min read
  • Switch Date:  
उत्तर प्रदेश Switch to English

यूपी पुलिस की 25वीं वार्षिक घुड़सवारी प्रतियोगिता में मुरादाबाद बना चैंपियन

चर्चा में क्यों?

4 दिसंबर, 2023 को मुरादाबाद के डॉ. भीमराव अंबेडकर पुलिस अकादमी के मैदान में संपन्न हुए यूपी पुलिस की 25वीं वार्षिक घुड़सवारी प्रतियोगिता में मुरादाबाद के घोड़े और घुड़सवार एक बार फिर चैंपियन बन गए। मुरादाबाद ने अपने शानदार प्रदर्शन से ट्रॉफी अपने कब्ज़े में रखी है।

प्रमुख बिंदु

  • मुख्य अतिथि एडीजी बरेली जोन पी.सी. मीणा ने विजेता और उप-विजेता टीमों को शील्ड, पदक और पुरस्कार देकर सम्मानित किया।
  • विदित हो कि मुरादाबाद हर प्रतियोगिता में चैंपियन का खिताब अपने नाम करता आ रहा है।
  • 1 दिसंबर, 2023 को शुरू हुई 25वीं वार्षिक घुड़सवारी प्रतियोगिता के दौरान टेंट पेगिंग, व्रवो जंप, पुलिस रिमाउंड ड्रेसाज, रिले कॉम्पटीशन गुरु-चेला, मिडले रिले, शो जंपिंग टॉप स्कोर, शो जंपिंग ट्रेनी और नए घोड़े, जंपिंग सिक्सवार की स्पर्द्धा कराई गई।
  • प्रतियोगिता में बरेली, अलीगढ़, मुरादाबाद लखनऊ सहित सात जोन के घोड़े और घुड़सवारों ने प्रतिभाग किया था।
  • अंतिम दिन शो जंपिंग ओपन सिक्सवार स्पर्द्धा में प्रशिक्षण जोन के वीर सिंह अपने घोड़े गुलाब के साथ प्रथम, महेश बाबू अपने घोड़े रिमझित के साथ तथा भगवान सिंह अपने घोड़े मोंटीना के साथ संयुक्त रूप से द्वितीय स्थान पर रहे। घोड़ा अदा के साथ लखनऊ जोन के सत्यम सिंह को तृतीय स्थान मिला।
  • टेंट पेंगिंग व्यक्तिगत स्पर्द्धा में प्रशिक्षण जोन मुरादाबाद के एसआई राजनरेश ने डायमंड के साथ पहला, कानपुर जोन के अनुज कुमार घोड़े पार्थ के साथ तथा बरेली जोन के तरुण सांगवान घोड़े फैंटम के साथ संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर रहे। प्रशिक्षण जोन के वीर सिंह घोड़े भारत के साथ तीसरे स्थान पर रहे।
  • इस अवसर पर एडीजी पी.सी. मीणा ने कहा कि मानव सभ्यता के विकास में घोड़ों का योगदान सदैव सराहनीय रहा है। आज भी पुलिस कार्यप्रणाली में यातायात नियंत्रण, मेला नियंत्रण और भीड़ नियंत्रण में घोड़े और घुड़सवार पुलिसकर्मियों का कोई विकल्प नहीं है।
  • घुड़सवारी प्रतियोगिता में प्रशिक्षण जोन मुरादाबाद के एसआईएमपी राजनरेश ने व्रवो जंपिंग, टीम टेंट पेगिंग, ड्रेसाज टीम और व्यक्तिगत, गुरु चेला, मिडले रिले, टेंट पेगिंग व्यक्तिगत में पहला स्थान हासिल किया। उन्हें सर्वश्रेष्ठ घुड़सवार घोषित किया गया। प्रशिक्षण जोन मुरादाबाद के घोड़े राठौर को सर्वश्रेष्ठ घोड़े का खिताब मिला।


बिहार Switch to English

बिहार में 13 दिसंबर से दो दिन का वैश्विक निवेशक शिखर सम्मेलन

चर्चा में क्यों?

5 दिसंबर, 2023 को बिहार के उद्योग विभाग के मंत्री समीर महासेठ तथा सूचना जनसंपर्क मंत्री संजय झा ने मीडिया को बताया कि उद्योग विभाग द्वारा 13-14 दिसंबर, 2023 को पटना के ज्ञान भवन में ‘बिहार बिजनेस कनेक्ट-2023... एक वैश्विक निवेशक शिखर सम्मेलन’ (Bihar Business Connect-2023 : A Global Investors’ Summit) का आयोजन किया जाएगा।

प्रमुख बिंदु

  • इस सम्मेलन में देश-विदेश और प्रदेश के 600 से अधिक उद्यमियों के शामिल होने की संभावना है।
  • उद्योग विभाग के अपर मुख्य सचिव ने बताया कि उद्योग विभाग द्वारा संयुक्त राज्य अमेरिका, ढाका (बांग्लादेश), दुबई (यूएई), ताइवान और जापान में इन्वेस्टर्स मीट आयोजित किया गया और वहाँ के निवेशकों को बिहार में निवेश तथा बिहार बिजनेस कनेक्ट-2023 में भाग लेने के लिये आमंत्रित किया गया।
  • देश के सात बड़े औद्योगिक शहरों- नई दिल्ली, चंडीगढ़, मुंबई, बंगलुरू, चेन्नई, तिरुप्पुर और कोलकाता में रोड शो आयोजित किया गया।
  • बिहार बिजनेस कनेक्ट-2023 में 22 से अधिक देशों के प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया गया हैं। उनमें से मुख्य रूप से यूएसए, ज़र्मनी, हंगरी, यूएई, हॉन्गकॉन्ग, जापान, ताइवान, बांग्लादेश, वियतनाम, रूस, थाईलैंड जैसे देश हैं।
  • अपर मुख्य सचिव ने कहा कि बिहार बिजनेस कनेक्ट-2023 के पहले दिन प्राथमिकता
  • वाले चार उद्योगों (टेक्सटाइल, फूड प्रोसेसिंग, आईटी/आईटीईएस/ईएसडीएम और जनरल मैन्यूफैक्चरर) पर चर्चा होगी, जिसमें भाग लेने के लिये सात मंत्रियों को आमंत्रित किया गया हैं।
  • दूसरे दिन मुख्य सत्र का आयोजन किया गया है, जिसमें मुख्यमंत्री, उप-मुख्यमंत्री एवं अन्य मंत्रिगण शामिल होंगे। दोनों दिन उद्यमियों के साथ बी-टू-बी बैठक का आयोजन किया जाएगा।


राजस्थान Switch to English

राजस्थान गृह रक्षा विभाग के 2 अधिकारियों, 5 कार्मिकों तथा एक स्वयं सेवक को ‘महानिदेशक प्रशस्ति-पत्र एवं डिस्क’ से सम्मानित करने की घोषणा

चर्चा में क्यों?

5 दिसंबर, 2023 को 61वें गृह रक्षा स्थापना दिवस-2023 की पूर्व संध्या पर राजस्थान गृह रक्षा विभाग के 2 अधिकारियों, 5 कार्मिकों तथा एक स्वयं सेवक को महानिदेशक गृह मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा ‘महानिदेशक प्रशस्ति-पत्र एवं डिस्क’ से सम्मानित करने की घोषणा की गई है।

प्रमुख बिंदु

  • विभाग के सीनियर स्टाफ ऑफिसर नवनीत जोशी ने बताया कि राजस्थान गृह रक्षा विभाग के समादेष्टा विकास लांबा, उप-समादेष्टा रवींद्र सिंह, कंपनी कमांडर बलवीर सिंह, रघुनाथ सिंह, अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी भंवर विरेंद्र सिंह, प्लाटून कमांडर नारणाराम, वरिष्ठ सहायक मदन मोहन जोशी एवं स्वयं सेवक भगवत सिंह को यह अवार्ड दिया जाएगा।
  • इसी प्रकार महानिदेशक एवं महासमादेष्टा, गृह रक्षा राजस्थान द्वारा विभाग में की गई सराहनीय सेवाओं के लिये समादेष्टा विकास लांबा, उप-समादेष्टा रामजीलाल एवं ललित बिहारी, कंपनी कमांडर गंगा सिंह, अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी राम प्रकाश सिंह, प्लाटून कमांडर देशराज एवं शुभकरण शर्मा, स्वयं सेवक दिनेश डामोर, गौतम गहलोत, मोहम्मद अफजल, उम्मेद सिंह एवं स्वर्गीय संतोष कुमार मुद्गल को ‘महानिदेशक प्रशस्ति डिस्क’ एवं महानिदेशक प्रशस्ति-पत्र दिये जाने की घोषणा की गई है।


राजस्थान Switch to English

राजस्थान के सबसे लंबे हाईलेवल ब्रिज का निर्माण कार्य शुरू

चर्चा में क्यों?

5 दिसंबर, 2023 को पीडब्ल्यूडी के अधिशासी अभियंता मुकेश मीणा ने बताया कि सवाई माधोपुर-इटावा मार्ग पर झरेर के बालाजी केतुदा गाँव के पास चंबल नदी पर राजस्थान के सबसे लंबे हाईलेवल ब्रिज का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है।

प्रमुख बिंदु

  • पीडब्ल्यूडी के अधिशासी अभियंता मुकेश मीणा ने बताया कि यह हाईलेवल ब्रिज 165 करोड़ रुपए की लागत से करीब 2 साल में बनकर तैयार हो जाएगा। इसकी लंबाई 1880 मीटर होगी।
  • इसका निर्माण होने से राजस्थान सहित मध्य प्रदेश के लोगों को भी आवागमन में सुविधा मिलेगी। इसके अलावा खातोली, इटावा, बारां ज़िले से सवाई माधोपुर का सीधा जुड़ाव हो जाएगा।
  • वर्तमान में चंबल नदी पर बना गैंता माखीदा का ब्रिज प्रदेश में सबसे लंबा ब्रिज है। इसकी लंबाई करीब 1562 मीटर है। यह भी पूर्व में इटावा क्षेत्र में बना था। यह ब्रिज कोटा ज़िले के साथ ही भरतपुर संभाग के सवाई माधोपुर को भी जोड़ेगा।
  • राज्य सरकार ने पिछले साल बजट घोषणा में झरेर के बालाजी ब्रिज की डीपीआर निर्माण के लिये 30 लाख रुपए जारी किये थे। उसके बाद सार्वजनिक निर्माण विभाग ने इसकी 165 करोड़ रुपए की डीपीआर तैयार कर जयपुर भिजवाई थी। इस पर मुख्यमंत्री गहलोत ने बजट घोषणा में इस पुल के निर्माण की घोषणा की थी।
  • मुकेश मीणा ने बताया कि यह प्रेस्ट्रस्ड कंक्रीट गर्डन ब्रिज होगा। इसमें चार गर्डर होंगे। वहीं 12 मीटर चौड़े पुल में साढ़े सात मीटर का केरीज-वे होगा। पुल से सवाई माधोपुर की तरफ 280 मीटर एप्रोच सड़क भी बनेगी। इस प्रकार कोटा की तरफ 486 मीटर की एप्रोच सड़क बनेगी। इसमें दो छोटे छोटे माइनर पुल भी बनाए जाएंगे।
  • ब्रिज के निर्माण में 48 पिल्लर खड़े किये जाएंगे। इसमें दोनों तरफ दो अबेटमेंट भी होंगे, जो सवाई माधोपुर और कोटा की तरफ पुल की शुरुआत में बनेंगे। इन 48 पिलरों पर हर पिलर के बीच 40 मीटर लंबे स्थान रखे जाएंगे। इसमें चट्टान के ऊपर पाँच पिलर बनेंगे और साथ बेल फाउंडेशन वाले होंगे। इसके अलावा 36 पायल फाउंडेशन बनाए जाएंगे, जो मिट्टी और चट्टानों पर बनते हैं। इनमें दो अबेटमेंट शामिल हैं।


मध्य प्रदेश Switch to English

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव-2023 में आपराधिक पृष्ठभूमि के 90 विधायक विजेता

चर्चा में क्यों?

5 दिसंबर, 2023 को मीडिया से मिली जानकारी के अनुसार मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव-2023 में जीतने वाले विधायकों में 90 आपराधिक पृष्ठभूमि के हैं। इनमें से 34 पर गंभीर अपराध दर्ज है।

प्रमुख बिंदु

  • मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव-2023 में कुल विजेताओं में से 39 प्रतिशत अपराधी तो 15 प्रतिशत पर गंभीर अपराध दर्ज हैं। भाजपा के 51, कॉन्ग्रेस के 38 और भारत आदिवासी पार्टी के एक विजेता ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किये हैं।
  • वर्ष 2018 में 94 विधायकों ने अपराध एवं 47 ने अपने ऊपर गंभीर आपराधिक मामले घोषित किये थे। अर्थात कुल विजेताओं में से 41 प्रतिशत अपराधी तो 20 प्रतिशत पर गंभीर अपराध दर्ज थे।
  • उम्मीदवारों द्वारा निर्वाचन आयोग को सौंपें गए शपथ पत्र के आधार पर तैयार रिपोर्ट के अनुसार विजेताओं में 205 करोड़पति हैं और इनकी औसत संपत्ति 11.77 करोड़ रुपए है। 2018 में विधायकों की औसत संपत्ति 10.17 करोड़ रुपए थी।
  • पुन: निर्वाचित होने वाले 101 विधायकों की औसत संपत्ति में पाँच वर्ष में 4.60 करोड़ (37 प्रतिशत) की वृद्धि हुई है।
  • मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव-2023 में तीन अधिक संपत्ति रखने वाले विजेता हैं- चेतन्य कश्यप (रतलाम सीट), संजय पाठक (विजयराघवगढ़) तथा कमलनाथ (छिंदवाड़ा)।
  • मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव-2023 में तीन सबसे कम संपत्ति रखने वाले विजेता हैं- कमलेश्वर डोडियार (सैलाना), संतोष वरकडे (सीहोरा), कंचन मुकेश तन्वे (खंडवा)।

 


हरियाणा Switch to English

जींद ज़िले के लिये 590 करोड़ रुपए की कुल 39 परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास

चर्चा में क्यों?

4 दिसंबर, 2023 को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जींद ज़िले के लिये कुल 590 करोड़ रुपए की 39 परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास किया। इनमें लगभग 51 करोड़ रुपए की 8 परियोनाओं का उद्घाटन व 539 करोड़ रुपए की 31 परियोजनाओं का शिलान्यास शामिल है।

प्रमुख बिंदु

  • मुख्यमंत्री ने जींद ज़िले को बड़ी सौगात देते हुए जींद शहर में पेयजल आपूर्ति में संवर्द्धन के लिये नरवाना ब्रॉन्च से भाखड़ा मेन लाइन का पानी उपलब्ध करवाने के लिये 388 करोड़ रुपए की लागत से नहर आधारित पेयजल आपूर्ति परियोजना का शिलान्यास किया।
  • मुख्यमंत्री ने लगभग 15 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित नगर परिषद कार्यालय भवन का उद्घाटन किया।
  • 3 करोड़ 53 लाख रुपए की लागत से जींद- हांसी सड़क के चौड़ाकरण व सुदृढ़ीकरण कार्य, 2 करोड़ 52 लाख रुपए की लागत से जींद-भिवानी सड़क की विशेष मरम्मत, 7 करोड़ 88 लाख रुपए की लागत से कालवा-कालावटी-भुटानी-हाट सड़क की विशेष मरम्मत कार्य का उद्घाटन किया।
  • साथ ही 5 करोड़ 79 लाख रुपए की लागत से कुरड़ वाया मलार, रोजला सड़क के चौड़ाकरण व सुदृढ़ीकरण, 7 करोड़ 11 लाख रुपए की लागत से पिल्लूखेड़ा मंडी से भेरों खेड़ा-धड़ौली-भरताना-ललित खेड़ा सड़क का सुधार कार्य का भी उद्घाटन किया।
  • इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने आसन व शिवा गाँव में सुचारू पेयजल आपूर्ति के लिये आसन गाँव वॉटर वर्क्स के निर्माण कार्य का भी उद्घाटन किया। इस पर लगभग 5 करोड़ 30 लाख रुपए की लागत आएगी।


उत्तराखंड Switch to English

लोहाघाट में बनेगा प्रदेश का पहला बालिका स्पोर्ट्स कॉलेज

चर्चा में क्यों?

5 दिसंबर, 2023 को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने देहरादून के महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स में आयोजित समारोह में कहा कि लोहाघाट में प्रदेश का पहला बालिका स्पोर्ट्स कॉलेज बनेगा, इसके लिये 500 नाली भूमि हस्तांतरण के लिये अनुमोदन दिया जा चुका है।

प्रमुख बिंदु

  • मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने समारोह में 37वें राष्ट्रीय खेलों के पदक विजेता खिलाड़ियों को सम्मानित किया तथा खेल मंत्री रेखा आर्य ने मुख्यमंत्री को 38वें राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी के लिये भारतीय ओलंपिक संघ का ध्वज सौंपा, जिसे राष्ट्रीय खेल सचिवालय रायपुर में स्थापित किया गया।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के खिलाड़ी राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं। गुजरात में 36वें राष्ट्रीय खेलों में राज्य के खिलाड़ियों ने 18 पदक जीते, जबकि इस साल गोवा में 37वें राष्ट्रीय खेलों में खिलाड़ियों ने 24 पदक जीते।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि गाँवों में ओपन जिम के लिये 10 करोड़ रुपए के बजट की व्यवस्था की गई है, जबकि विश्वविद्यालयों में व्यवसायिक पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिये सरकार पाँच प्रतिशत स्पोर्ट्स कोटे को लेकर नियमावली बनाने जा रही है।
  • उन्होंने कहा कि निजी खेल क्षेत्रों के माध्यम से खेल अवस्थापना सुविधाओं के निर्माण के लिये अनुदान दिए जाने की भी व्यवस्था की गई है। खिलाड़ियों के लिये सरकारी नौकरी में चार प्रतिशत खेल कोटे की प्रक्रिया अंतिम चरण में है।


 Switch to English
close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2