हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

बिहार स्टेट पी.सी.एस.

  • 05 Dec 2022
  • 0 min read
  • Switch Date:  
बिहार Switch to English

पटना, पूर्णिया और दरभंगा में खतरनाक स्तर पर पहुँचा प्रदूषण

चर्चा में क्यों?

4 दिसंबर, 2022 को जारी आँकड़ों के मुताबिक बिहार के पूर्णिया, दरभंगा और राजधानी पटना में वायु प्रदूषण खतरनाक स्तर पर पहुँच गया है। पूर्णिया और दरभंगा में एयर क्वालिटी इंडेक्स 400 के पार पहुँच चुका है। वहीं राजधानी पटना में एक्यूआई 378 है।

प्रमुख बिंदु

  • 4 दिसंबर शाम चार बजे तक के आँकड़ों के मुताबिक पूर्णिया में एयर क्वालिटी इंडेक्स 423 और दरंभगा में 422 पहुँच गया था। वायु प्रदूषण का यह खतरनाक स्तर मानव स्वास्थ्य के लिये बेहद हानिकारक माना जाता है।
  • बिहार के लगभग सभी शहरों में प्रदूषण का कारण पीएम 5 है। पीएम 2.5 हवा में मौजूद ऐसे धूल कणों को कहा जाता है जिनका आकार 2.5 माइक्रोन से कम होता है। यह साँस के ज़रिये शरीर में प्रवेश कर सकते हैं और हमारे स्वास्थ्य को नुकसान पहुँचाते हैं।
  • इसके साथ ही बिहार के अन्य सभी प्रमुख शहरों में प्रदूषण की स्थिति बेहद खराब है। आँकड़ों के मुताबिक जिन शहरों की हवा बेहद खराब है, उनमें औरंगाबाद का एक्यूआई 342, बेतिया का एक्यूआई 354, भागलपुर का एक्यूआई 335, बिहार शरीफ का एक्यूआई 368, गया का एक्यूआई 313, कटिहार का एक्यूआई 391, मुंगेर का एक्यूआई 301, राजगीर का एक्यूआई 360, सहरसा का एक्यूआई 362, समस्तीपुर का एक्यूआई 345, सासाराम का एक्यूआई 329 रहा।

 Switch to English
एसएमएस अलर्ट
Share Page