हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

उत्तराखंड स्टेट पी.सी.एस.

  • 28 Sep 2021
  • 0 min read
उत्तराखंड Switch to English

‘ज़िम्मेदार पर्यटन’ पर कार्यशाला

Star marking (1-5) indicates the importance of topic.

चर्चा में क्यों?

27 सितंबर, 2021 को विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर उत्तराखंड अंतरिक्ष अनुप्रयोग केंद्र (USAC) ने हिमालयन नॉलेज नेटवर्क (HKN) के साथ ‘ज़िम्मेदार पर्यटन’ पर एकदिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया।

प्रमुख बिंदु

  • इस कार्यशाला में भारतीय वन्यजीव संस्थान (WII), भारत तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) और गढ़वाल एवं कुमाऊँ विश्वविद्यालयों के साथ-साथ पर्यटन और वन जैसे विभिन्न विभागों के अधिकारियों ने भाग लिया।
  • कार्यशाला में प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए यूएसएसी के निदेशक एम.पी.एस. बिष्ट ने कहा कि उत्तराखंड में पर्यटन की बहुत संभावनाएँ हैं। राज्य भर में ज़िम्मेदार पर्यटन लाने की आवश्यकता है। इस तरह की पहल से स्थानीय लोगों के लिये भी रोज़गार के अवसर पैदा होंगे। 
  • एचकेएन के नोडल अधिकारी गजेंद्र सिंह ने कहा कि हिमालयी क्षेत्र में 145 से अधिक विश्वविद्यालय, 2,000 प्रोफेसर और 500 वैज्ञानिक अनुसंधान में शामिल हैं। अधिकांश संगठनों में सूचना साझा करना काफी सीमित है और इस मामले से निपटने के लिये एचकेएन की स्थापना की गई है।
  • उल्लेखनीय है कि उत्तराखंड अंतरिक्ष अनुप्रयोग केंद्र (USAC) अंतरिक्ष-प्रौद्योगिकी संबंधी गतिविधियों के लिये उत्तराखंड राज्य में नोडल एजेंसी है तथा राज्य और उसके लोगों के लाभ के लिये अंतरिक्ष-प्रौद्योगिकी को नियोजित करने का अधिकार रखता है। इसका गठन 2005 में विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग, उत्तराखंड सरकार के तहत एक स्वायत्त संगठन के रूप में किया गया था।

उत्तराखंड Switch to English

दून में ‘उत्तराखंड एडवेंचर फेस्ट’ शुरू

Star marking (1-5) indicates the importance of topic.

चर्चा में क्यों?

26-27 सितंबर, 2021 को देवभूमि उत्तराखंड में साहसिक खेलों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से दोदिवसीय ‘उत्तराखंड एडवेंचर फेस्ट’ का आयोजन किया गया।

प्रमुख बिंदु

  • 26 सितंबर को वन एवं पर्यावरण मंत्री हरक सिंह रावत ने इस फेस्ट का उद्घाटन करते हुए उत्तराखंड में पर्वतारोहण संबंधी सेवाओं के लिये ‘सिंगल विंडो सिस्टम’ का शुभारंभ किया।
  • इस एडवेंचर फेस्ट का आयोजन फिक्की एफएलओ के सहयोग से उत्तराखंड पर्यटन विकास बोर्ड (यूटीडीबी) द्वारा किया गया। 
  • इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने विभिन्न घोषणाएँ कीं। उन्होंने कहा कि पर्यटन उद्योगों से संबंधित सभी प्रस्तावों पर विशेष रूप से उद्योग विभाग की जगह पर्यटन विभाग द्वारा ही कार्यवाही की जाएगी। 
  • शहरी विकास विभाग और आवास विभाग द्वारा विशेष रूप से उत्तराखंड के पर्यटन स्थलों के लिये बहुस्तरीय कार-लिफ्ट स्थान स्थापित करने हेतु परियोजना शुरू की जाएगी। 
  • उन्होंने उत्तराखंड के पर्यटन उद्योग को एक स्थायी, पर्यावरण के अनुकूल उद्योग के रूप में विकसित करने के मार्ग तलाशने के लिये राज्य में पर्यटन सुविधा एवं निवेश प्रकोष्ठ व पर्यटन मंत्रालय के तहत एक समर्पित ईको टूरिज्म विंग का गठन करने की घोषणा की। 
  • इसके साथ ही उन्होंने पंडित नैन सिंह सर्वेयर पर्वतारोहण प्रशिक्षण संस्थान को पर्यटन विभाग को सौंपने की घोषणा की। अभी नैन सिंह सर्वेयर पर्वतारोहण प्रशिक्षण संस्थान को खेल विभाग संचालित करता है। 
  • वन मंत्री ने कहा कि उत्तराखंड में रोमांच से भरपूर ‘साहसिक पर्यटन’ की असीम संभावनाएँ हैं, जो भारत और विश्वस्तर पर पर्यटकों के बीच अपार उत्साह पैदा कर सकती हैं। उन्होंने कहा कि इसी साल नवंबर में कुमाऊँ के रामनगर में साहसिक कार्य पर निवेश सम्मेलन का आयोजन भी किया जाएगा। 
  • लॉन्च किये गए ‘सिंगल-विंडो पोर्टल’ के बारे में उन्होंने कहा कि यह पोर्टल राज्य में आने वाले पर्यटकों के लिये सुगमता सुनिश्चित करेगा। 
  • इस फेस्ट में राफ्टिंग, पैराग्लाइडिंग, माउंटेन बाइकिंग, हॉट एयर बलून, कैंपनिंग, आईसकिंग, कयाकिंग समेत स्थानीय व्यंजन के विभिन्न स्टॉल और कार्यशालाएँ शामिल थे, जो आकर्षण का केंद्र रहे।

 Switch to English
एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close