हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

राजस्थान स्टेट पी.सी.एस.

  • 13 Sep 2021
  • 0 min read
  • Switch Date:  
राजस्थान Switch to English

केकड़ी गौशाला के सिंहद्वार का लोकार्पण

Star marking (1-5) indicates the importance of topic.

चर्चा में क्यों?

  • 12 सितंबर, 2021 को राजस्थान के चिकित्सा एवं जनसंपर्क मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने अज़मेर ज़िले में केकड़ी गौशाला के नवनिर्मित सिंहद्वार का लोकार्पण किया।

प्रमुख बिंदु

  • डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि विधायक स्थानीय क्षेत्र विकास फंड के माध्यम से गौशाला के विकास कार्यों के लिये 21 लाख रुपए की राशि उपलब्ध कराई जाएगी।
  • इसी प्रकार गौशाला में पशु उप स्वास्थ्य केंद्र खोलने की प्रक्रिया आरंभ की जाएगी। नए केंद्र के स्वीकृत होने तक गायों के उपचार के लिये अस्थायी व्यवस्था तुरंत प्रभाव से आरंभ होगी।
  • दुर्घटना में घायल पशुओं को उपचार सुलभ कराने के लिये नगरपालिका के माध्यम से एक पशुवाहन खरीदा जाएगा। नगरपालिका की तरफ से 10 लाख के विकास कार्य तथा 10 लाख की सड़कें आदि बनाई जाएंगी।
  • उल्लेखनीय है कि यह गौशाला लगभग एक शताब्दी पुरानी है। पूर्व में यह गौशाला देवगाँव में स्थित थी।
  • इसका निर्माण कृषि उपज मंडी की केकड़ी व्यापारिक एसोसिएशन द्वारा करवाया गया है। इसमें 4 कमरे तथा सिंहद्वार शामिल हैं।

राजस्थान Switch to English

ईसरदा बांध परियोजना

Star marking (1-5) indicates the importance of topic.

चर्चा में क्यों?

  • 11 सितंबर, 2021 को श्रम एवं इंदिरा गांधी नहर परियोजना राज्य मंत्री टीकाराम जूली ने बताया कि अलवर ज़िले में सतही पेयजल उपलब्ध कराने के लिये ईसरदा बांध परियोजना के सेकेंड पेज का सर्वे कार्य एवं डीपीआर बनाने की निविदा जारी कर परियोजना का कार्य प्रारंभ किया गया है।

प्रमुख बिंदु

  • पूर्वी राजस्थान के लिये राजस्थान की यह दूसरी बड़ी परियोजना राज्य के अलवर, जयपुर सहित दौसा एवं सवाई माधोपुर को लाभ पहुँचाएगी।
  • परियोजना के सेकेंड पेज से कुल 2547 गाँव एवं 11 कस्बों को पेयजल उपलब्ध होगा। इसमें अलवर ज़िले के 1118 गाँव एवं 4 कस्बे सम्मिलित हैं तथा शेष 1429 गाँव एवं 60 कस्बे जयपुर ज़िले के शामिल हैं।
  • परियोजना के सेकेंड पेज में ज़िले के अलवर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र की उमरैण पंचायत समिति के 110 तथा मालाखेड़ा पंचायत समिति के 90 गाँव सहित अलवर ज़िले के थाना गाजी के 163, राजगढ़ के 140, बानसूर के 147, रैणी के 110, लक्ष्मणगढ़ के 206 तथा कठूमर के 152 गाँव सहित कुल 1118 गाँव तथा 4 कस्बे अलवर, राजगढ़, खेड़ली एवं थाना गाजी को इस परियोजना में सम्मिलित किया गया है।

 Switch to English
एसएमएस अलर्ट
Share Page