हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

उत्तराखंड स्टेट पी.सी.एस.

  • 12 Oct 2021
  • 0 min read
  • Switch Date:  
उत्तराखंड Switch to English

अन्नोत्सव कार्यक्रम

चर्चा में क्यों?

11 अक्टूबर, 2021 को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने छह लाभार्थियों को राशन किट वितरित करते हुए ‘अन्नोत्सव कार्यक्रम’ का शुभारंभ किया।

प्रमुख बिंदु

  • ‘अन्नोत्सव कार्यक्रम’, ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना’ के तहत प्रारंभ किया गया महत्त्वपूर्ण कार्यक्रम है, जिसका उद्देश्य प्रत्येक लाभार्थी को खाद्य एवं सम्मान प्रदान करना है।
  • राज्य के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले विभाग द्वारा क्रियान्वित किये जा रहे इस कार्यक्रम के तहत राज्य के गरीब लाभार्थियों को 14 लाख राशन किट्स उचित मूल्य की दुकानों (Fair Price Shops) के माध्यम से वितरित की जाएंगी।
  • उल्लेखनीय है कि कोविड-19 महामारी की चुनौतियों से निपटने के लिये वर्ष 2020 में भारत सरकार द्वारा ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना’ प्रारंभ की गई थी, जिसके तहत प्रत्येक व्यक्ति को एन.एफ.एस.ए. (NFSA) के अंतर्गत मिलने वाले 5 किग्रा. अनुदानित अनाज़ के अतिरिक्त 5 किग्रा. मुफ्त खाद्यान्न प्रदान किया जाएगा।

उत्तराखंड Switch to English

ऋषिकेश एम्स में इनविट्रो फर्टिलाइज़ेशन (I.V.F.) सुविधा का शुभारंभ

चर्चा में क्यों?

11 अक्टूबर, 2021 को ऋषिकेश एम्स के निदेशक डॉ. अरविंद राजवंशी द्वारा एम्स के गाइनेकोलॉजी विभाग में आईवीएफ (I.V.F.)  केंद्र का उद्घाटन किया गया।

प्रमुख बिंदु

  • इसके साथ ही ऋषिकेश एम्स उत्तराखंड राज्य का पहला सरकारी अस्पताल बन गया है, जहाँ इनविट्रो फर्टिलाइज़ेशन की सुविधा उपलब्ध है।
  • एम्स ऋषिकेश यह सुविधा भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के दिशा-निर्देशों के अनुसार 45 वर्ष तक की महिलाओं और 50 वर्ष तक की आयु के पुरुषों के लिये प्रदान करेगा।
  • उल्लेखनीय है कि आईवीएफ (I.V.F.) एक सहायक प्रजनन तकनीक है, जिसके अंतर्गत प्रयोगशाला में किसी मादा के अंडाशय से प्राप्त अंडों का संपर्क द्रव माध्यम में शुक्राणुओं से कराया जाता है। इस प्रक्रिया से प्राप्त निषेचित अंडे को मादा के गर्भ में स्थानांतरित कर दिया जाता है। इस पूरी प्रक्रिया से पैदा हुए बच्चों को ही ‘टेस्ट ट्यूब बेबी’ कहा जाता है।
  • आईवीएफ (I.V.F.) तकनीक का जनक रॉबर्ट एडवर्ड को माना जाता है।

 Switch to English
एसएमएस अलर्ट
Share Page