हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

उत्तराखंड स्टेट पी.सी.एस.

  • 09 Aug 2022
  • 0 min read
  • Switch Date:  
उत्तराखंड Switch to English

उत्तराखंड की 12 महिलाओं-किशोरियों को मिला तीलू रौतेली पुरस्कार

चर्चा में क्यों?

8 अगस्त, 2022 को उत्तराखंड के राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से.नि.) ने राज्य की 12 महिलाओं और किशोरियों को तीलू रौतेली पुरस्कार से सम्मानित किया, साथ ही 35 महिलाओं को राज्य स्तरीय आँगनबाड़ी कार्यकर्त्ता सम्मान दिया गया।

प्रमुख बिंदु 

  • उत्तराखंड सरकार द्वारा विभिन्न क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाली महिलाओं को वीरबाला तीलू रौतेली के नाम पर प्रतिवर्ष यह पुरस्कार दिया जाता है।
  • गौरतलब है कि प्रदेश सरकार ने उत्तराखंड की वीरांगना तीलू रौतेली की जयंती पर वर्ष 2006 से महिला सशक्तीकरण के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाली महिलाओं और किशोरियों के लिये तीलू रौतेली पुरस्कार की शुरूआत की थी।
  • इसके तहत राज्य सरकार 31 हज़ार रुपए व प्रशस्ति पत्र देती है। पिछले साल मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पुरस्कार राशि 31 हज़ार रुपए से बढ़ाकर 51 हज़ार रुपए किये जाने की घोषणा की थी, लेकिन इस बार भी पुरस्कार राशि 31 हज़ार ही प्रदान की गई है।
  • हाल ही में महिला सशक्तीकरण एवं बाल विकास विभाग की ओर से आदेश में बदलाव कर पुरस्कारों की अधिकतम संख्या तय की गई है। प्रदेश में अब हर साल अधिकतम 13 महिलाओं को तीलू रौतेली पुरस्कार मिलेगा। हर ज़िले से एक महिला को इसके लिये चयनित किया जाएगा। वहीं 35 आँगनबाड़ी कार्यकर्त्ताओं को भी सम्मानित किया जाएगा।
  • विभिन्न क्षेत्रों में तीलू रौतेली पुरस्कार से सम्मानित महिलाएँ एवं किशोरियाँ-
    • साहित्यिक क्षेत्र - डॉ. शशि जोशी (ज़िला- अल्मोड़ा),
    • खेल - दीपा आर्य (ज़िला- बागेश्वर), प्रेमा नौटियाल (ज़िला- ऊधमसिंहनगर), प्रियंका प्रजापति (ज़िला- हरिद्वार),
    • सामाजिक क्षेत्र - मीना तिवारी (ज़िला- चमोली), लता नौटियाल (ज़िला- उत्तरकाशी)
    • बालिका शिक्षा एवं सामाजिक कार्य - मंजू बाला (ज़िला-चंपावत),
    • पत्रकारिता - नलिनी गोसाई (ज़िला- देहरादून),
    • शिक्षा एवं स्वच्छता - विद्या मर्तोलिया (ज़िला- नैनीताल),
    • अदम्य साहसिक कार्य - सावित्री देवी (ज़िला- पौड़ी),
    • महिला स्वयं सहायता - दुर्गा खड़ायत (ज़िला- पिथौरागढ़),
    • आजीविका संवर्द्धन - गीता रावत (ज़िला- रुद्रप्रयाग),
  • आँगनबाड़ी कार्यकर्त्ता पुरस्कार से सम्मानित महिलाएँ हैं- सुनीता कोहली, कुसुम बिष्ट, जानकी व कमला नेगी (ज़िला- अल्मोड़ा), हेमा सती (ज़िला- बागेश्वर), भागा देवी, शोभा व अभिलाषा देवी (ज़िला- चमोली), अनिता रावत (ज़िला- चंपावत), अर्चना राणा, सरोज सुयाल व किर्तना शर्मा (ज़िला- देहरादून), सीमा रानी, कमलेश धीमान, रचना व उमेश कुमारी (ज़िला- हरिद्वार), ज्योति रावत, अंजू सागर व गीता नयाल (ज़िला- नैनीताल), अनिता देवी, आशा देवी,मीना देवी, हेमलता बिष्ट व गिन्नी डंगवाल, (ज़िला- पौड़ी), दीपा पांडेय व ज्योति टम्टा (ज़िला- पिथौरागढ़), रंजना अवस्थी (ज़िला- रुद्रप्रयाग), मंगला थपलियाल, उमा भट्ट व सविता सेमवाल, (ज़िला- टिहरी), स्नेहलता मलिक, रचना रानी व मीरा देवी (ज़िला- ऊधमसिंह नगर) सुमित्रा और लक्ष्मी नौटियाल (ज़िला- उत्तरकाशी)।

 Switch to English
एसएमएस अलर्ट
Share Page