हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

स्टेट पी.सी.एस.

  • 04 Oct 2022
  • 0 min read
  • Switch Date:  
उत्तर प्रदेश Switch to English

निजी क्षेत्र की फर्मों का उत्तर प्रदेश के हरित ऊर्जा क्षेत्र में 19 हज़ार करोड़ रुपए निवेश करने का प्रस्ताव

चर्चा में क्यों?

3 अक्टूबर, 2022 को उत्तर प्रदेश सरकार के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि निजी क्षेत्र की फर्मों ने राज्य के हरित ऊर्जा क्षेत्र में लगभग 19,000 करोड़ रुपए का निवेश करने का प्रस्ताव दिया है।

प्रमुख बिंदु 

  • इन प्रस्तावों में ग्रीनको और जेएसडब्ल्यू ग्रुप द्वारा विभिन्न अक्षय ऊर्जा परियोजनाओं में क्रमश: लगभग 13,000 करोड़ रुपए और 5,900 करोड़ रुपए के निवेश प्रस्ताव शामिल हैं। यह पहली बार है कि उत्तर प्रदेश सरकार को घरेलू हरित ऊर्जा क्षेत्र में इतने बड़े निवेश प्रस्ताव मिले हैं।
  • आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, राज्य 2030 तक नवीकरणीय ऊर्जा में 450 गीगावाट (जीडब्ल्यू) और गैर-जीवाश्म ऊर्जा क्षमता में 500 गीगावाट प्राप्त करने के केंद्र के व्यापक लक्ष्य के साथ संरेखित कर रहा है। यह अपने अंतर्राष्ट्रीय जलवायु और हरित ऊर्जा लक्ष्यों को पूरा करने के लिये भारत की प्रतिबद्धता का हिस्सा है।
  • हरित ऊर्जा भविष्य में कार्बन उत्सर्जन को कम करने और पर्यावरण प्रदूषण को रोकने में प्रमुख भूमिका निभाएगा।
  • अगले साल मेगा यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट 2023 के लिये राज्य सरकार हरित ऊर्जा सहित कई क्षेत्रों में निजी क्षेत्र की कंपनियों को लुभाने के लिये सभी प्रयास कर रही है। राज्य जनवरी 2023 में घरेलू और बहुराष्ट्रीय कंपनियों (एमएनसी) से नए निवेश प्रस्तावों में 10 लाख करोड़ रुपए का लक्ष्य बना रहा है।
  • शिखर सम्मेलन को गति देने के लिये राज्य ने अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा, संयुक्त अरब अमीरात, स्वीडन, सिंगापुर, नीदरलैंड, इजराइल, फ्राँस, जर्मनी, दक्षिण कोरिया और ऑस्ट्रेलिया सहित प्रमुख देशों में रोड शो आयोजित करने की योजना बनाई है।
  • पिछले छह महीनों में राज्य ने बहुराष्ट्रीय कंपनियों सहित 55 निजी क्षेत्र की कंपनियों से 45,000 करोड़ रुपए के कुल निवेश प्रस्ताव प्राप्त करने का दावा किया है। इनमें हरित ऊर्जा क्षेत्र की परियोजनाएँ शामिल हैं।
  • कॉसिस ग्रुप ने ग्रीन मास ट्रांजिट प्रोजेक्ट्स में 6,000 करोड़ रुपए का निवेश करने का प्रस्ताव दिया है, जबकि वरुण बेवरेजेज चार अलग-अलग बेवरेज प्रोजेक्ट्स में लगभग 3,600 करोड़ रुपए का निवेश करेगा। इसी तरह जेके पेंट्स और कीयान डिस्टिलरीज अपनी परियोजनाओं में क्रमश: 600 करोड़ रुपए और 500 करोड़ रुपए का निवेश करेंगी।
  • सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) और इलेक्ट्रॉनिक्स क्षेत्र ने पिछले पाँच वर्षों में लगभग 95,000 करोड़ रुपए के अधिकतम निवेश प्रस्तावों को हासिल किया है। इनमें लगभग 20,000 करोड़ रुपए के कुल निवेश प्रोफाइल के साथ डेटा सेंटर स्पेस में सात परियोजनाएँ शामिल हैं। इनमें से पांच परियोजनाओं को मंजूरी दे दी गई है, शेष दो को जल्द ही राज्य कैबिनेट की मंजूरी मिलने की उम्मीद है।

राजस्थान Switch to English

प्रदेश में गांधी जयंती पर 1.5 करोड़ लोगों ने बनाया विश्व रिकॉर्ड

चर्चा में क्यों?

2 अक्टूबर, 2022 को वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स संस्था ने विश्व अहिंसा दिवस और राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती पर प्रदेश भर में लगभग डेढ़ करोड़ लोगों द्वारा सर्वधर्म प्रार्थना सभा आयोजित करने के लिये कला एवं संस्कृति विभाग को प्रोविजनल प्रमाण-पत्र दिया।

प्रमुख बिंदु 

  • मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को कला एवं संस्कृति मंत्री डॉ. बीडी कल्ला, प्रमुख शासन सचिव गायत्री राठौड़ और संयुक्त शासन सचिव पंकज ओझा ने यह प्रमाण-पत्र सौंपा।
  • उल्लेखनीय है कि 2 अक्टूबर को राज्य भर में आयोजित सभा में प्रदेश के गणमान्य लोग, गांधीवादी, विचारक चिंतक, स्कूल और कॉलेज के विद्यार्थी, स्वयं सहायता समूह, राजीविका समूह सेल्फ हेल्प ग्रुप, अभिभावकगण, जनप्रतिनिधिगण, सांसदगण, विधायकगण, मंत्रीगण एवं आमजन द्वारा सहभागिता कर लगभग5 करोड़ लोगों ने यह विश्व रिकॉर्ड बनाया।

राजस्थान Switch to English

‘राजस्थान रत्न’ पुरस्कार

चर्चा में क्यों?

3 अक्टूबर, 2022 को राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ‘राजस्थान रत्न’ पुरस्कार के लिये चुने गए व्यत्तियों के नामों की घोषणा की।

प्रमुख बिंदु

  • इस वर्ष ‘राजस्थान रत्न’ पुरस्कार से न्यायमूर्ति दलवीर भंडारी, न्यायमूर्ति आरएम लोढ़ा, उद्योगपति अनिल अग्रवाल, उद्योगपति एलएन मित्तल, शीन कौफ निजाम और केसी मालू को सम्मानित किया जाएगा।
  • मुख्यमंत्री अशोक गहलोत 7 और 8 अक्टूबर को आयोजित होने वाले राजस्थान शिखर सम्मेलन के दौरान गणमान्य व्यत्तियों को यह पुरस्कार प्रदान करेंगे। इस सम्मेलन में भारत और विदेशों से लगभग 3,000 प्रतिभागी भाग लेंगे।
  • विदित है कि ‘राजस्थान रत्न’, राजस्थान सरकार द्वारा दिया जाने वाला सर्वोच्च पुरस्कार है। इस अवार्ड की शुरुआत साल 2012 में हुई थी। साल 2012 से यह अवार्ड हर साल दिया जाता है।
  • ज्ञातव्य है कि भारत का सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार ‘भारत रत्न’ है। उसी के तर्ज़ पर राजस्थान का सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार ‘राजस्थान रत्न’ है। राजस्थान रत्न अवार्ड में 1 लाख रुपए और एक प्रशस्ति पत्र दिया जाता है।             

हरियाणा Switch to English

झज्जर के बॉक्सर भारत जून का यूथ बॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में हुआ चयन

चर्चा में क्यों?

3 अक्टूबर, 2022 को हरियाणा के झज्जर ज़िले के बॉक्सर भारत जून का स्पेन में आयोजित होने वाली यूथ बॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप (14 नवंबर से 26 नवंबर तक) में चयन होने की जानकारी उनके कोच हितेश देशवाल ने दी।

प्रमुख बिंदु

  • उल्लेखनीय है कि भारत जून ने गुवाहाटी में संपन्न हुई यूथ वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिये भाग लिया था। वहीं, अब उनका चयन भारतीय मुक्केबाजी यूथ टीम में हुआ है, जिससे अब वह स्पेन में आयोजित होने वाली यूथ बॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में भाग लेगा।
  • कोच हितेश देशवाल ने बताया कि भारत जून ने सर्बिया में 12 से 19 सितंबर तक चलने वाले 92 प्लस मुकाबले में स्वर्ण पदक जीता है। सर्बिया में उनका यह तीसरा स्वर्ण पदक था। भारत जून ने इससे पहले एशियन खेलों में भी दो स्वर्ण पदक जीते हैं।     

झारखंड Switch to English

खाद्य आपूर्ति विभाग वाहनों पर लगाएगा जीपीएस सिस्टम

चर्चा में क्यों?

3 अक्टूबर, 2022 को झारखंड के खाद्य आपूर्ति मंत्री रामेश्वर उरांव ने मीडियाकर्मियों से बात करते हुए कहा कि प्रदेश में राशन वितरण में हो रही गड़बड़ी पर नज़र रखने के लिये राज्य सरकार द्वारा गोदामों और अन्य केंद्रों से खाद्यान्न उठाने वाले वाहनों की जीपीएस ट्रैकिंग सिस्टम से निगरानी की जाएगी।

प्रमुख बिंदु 

  • खाद्य आपूर्ति मंत्री रामेश्वर उरांव ने कहा कि पीडीएस दुकानदारों और लाभार्थियों को कम खाद्यान्न मिल रहा है, इसकी शिकायत के बाद राज्य सरकार द्वारा यह नई व्यवस्था लागू की जा रही है।
  • उन्होंने बताया कि राशन ले जाने वाले वाहनों में जीपीएस ट्रैकिंग सिस्टम होगा। इसके लिये राज्य खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति निगम लिमिटेड में कमान एवं नियंत्रण कक्ष स्थापित करने की योजना पर काम किया जा रहा है। इसके ज़रिये सरकार इन वाहनों की आवा-जाही पर नज़र रखेगी।
  • राज्य सरकार की ओर से जीपीएस आधारित वाहन ट्रैकिंग सिस्टम और कमांड एंड कंट्रोल सेंटर स्थापित करने के लिये टेंडर जारी कर दिया गया है।
  • उन्होंने बताया कि राज्य में कुल प्राथमिकता वाले घरेलू राशन कार्ड (पीएचएच) 5112307 हैं, जिसमें परिवार के कुल सदस्य 22906422 हैं; राज्य में अंत्योदय राशन कार्डधारक 896614 हैं, अंत्योदय राशन कार्डधारक के परिवार में कुल सदस्य 3519024 हैं; सफेद राशन कार्डधारक 372792 हैं, सफेद राशन कार्डधारक के परिवार में सदस्य 1404506 हैं तथा राज्य में ग्रीन राशन कार्डधारक 461292 हैं और ग्रीन राशन कार्डधारक के परिवार में कुल सदस्य 1478083 हैं।

छत्तीसगढ़ Switch to English

बिलासपुर-इंदौर विमान सेवा का हुआ शुभारंभ

चर्चा में क्यों?

3 अक्टूबर, 2022 को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और केंद्रीय नागरिक उडन्न्यन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बिलासपुर-इंदौर विमान सेवा का वर्चुअल शुभारंभ किया।

प्रमुख बिंदु 

  • मुख्यमंत्री बघेल ने राजधानी रायपुर स्थित अपने निवास कार्यालय से और केंद्रीय मंत्री सिंधिया ने नई दिल्ली से हरी झंडी दिखाकर फ्लाईट को बिलासा देवी केंवट हवाई अड्डा चकरभाटा बिलासपुर से रवाना किया।
  • बिलासपुर-इंदौर-बिलासपुर विमान सेवा सप्ताह में चार दिन सोमवार, बुधवार, शुक्रवार और रविवार को पूर्वाह्न 35 बजे बिलासपुर से रवाना होकर दोपहर 1.25 बजे इंदौर पहुंचेगी और इंदौर से दोपहर 1.55 बजे रवाना होकर अपराह्न 3.45 बजे बिलासपुर वापस लौटेगी।
  • बिलासपुर से इंदौर रवाना हुई पहली फ्लाईट 50 यात्रियों को लेकर रवाना हुई। इस मार्ग पर एलायंस एयर द्वारा 72 सीटर विमान का संचालन किया जा रहा है।
  • मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट, रायपुर से अंतर्राष्ट्रीय विमान सेवा प्रारंभ करने और यहाँ अंतर्राष्ट्रीय कार्गो हब की स्थापना के लिये केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से आग्रह करते हुए कहा कि रायपुर एयरपोर्ट को अंतर्राष्ट्रीय मानक के अनुसार तैयार किया जा चुका है। रायपुर एयरपोर्ट अब अंतर्राष्ट्रीय फ्लाईट के संचालन के लिये तैयार है।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य शासन द्वारा रायपुर एयरपोर्ट हेतु भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण को 20 एकड़ भूमि निशुल्क उपलब्ध कराई गई है। जिस पर रनवे विस्तार, नवीन टर्मिनल भवन निर्माण, एटीसी टॉवर निर्माण कर इसे अंतर्राष्ट्रीय मानक के अनुसार तैयार किया जा चुका है। एयरपोर्ट विकास हेतु भूमि की लंबित मांग, एयरपोर्ट परिसर के सुरक्षा सबंधी समस्याओं का राज्य शासन द्वारा समाधान कर लिया गया है।
  • मुख्यमंत्री बघेल ने केंद्रीय मंत्री सिंधिया से रीजनल कनेक्टिविटी योजनांतर्गत अंबिकापुर से बिलासपुर, रायपुर को जोड़ते हुए निकटवर्ती प्रमुख शहरों वाराणसी, राँची, पटना, भुवनेश्वर जैसे शहरों के लिये विमान सेवा प्रारंभ करने का आग्रह भी किया।
  • मुख्यमंत्री बघेल ने बिलासपुर एयरपोर्ट के विस्तार के लिये राज्य शासन द्वारा किये गए प्रयासों की जानकारी देते हुए कहा कि राज्य सरकार द्वारा बिलासपुर एयरपोर्ट का 3-C VFR श्रेणी में उन्नयन किया गया है।
  • एलायंस एयर कंपनी द्वारा बिलासपुर से दिल्ली-जबलपुर-बिलासपुर-प्रयागराज वायुमार्ग पर 1 मार्च, 2021 को प्रथम नियमित घरेलू विमान सेवा प्रारंभ की गयी तथा 5 जून, 2022 से बिलासपुर से भोपाल के लिये भी नियमित विमान सेवा शुरू की गई।
  • बिलासपुर एयरपोर्ट को 3- C IFR मानक अनुसार तैयार करने एवं यहाँ नाईट लैण्डिंग की सुविधा के विकास के लिये 22 करोड़ रुपए की लागत के कार्यों की स्वीकृति जारी की जा रही है। एयरपोर्ट से विमानों के सुगम संचालन हेतु पीबीएन नेविगेशन प्रणाली की स्थापना के लिये भारतीय विमानपत्तन को राज्य शासन द्वारा राशि का भुगतान कर दिया गया है।
  • राज्य सरकार द्वारा अंबिकापुर एयरपोर्ट को 3- C VFR श्रेणी के अनुसार विकसित करने के लिये रनवे विकास व विस्तार, सिटी साईड के विकास कार्यों हेतु 00 करोड़ के कार्यों की प्रशासकीय स्वीकृति जारी की गयी है। 31 दिसंबर, 2022 तक एयरपोर्ट को विकसित कर इसके लायसेंसिंग हेतु आवेदन करने का लक्ष्य है।
  • केंद्रीय नागरिक उडन्न्यन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि बिलासपुर और इंदौर दोनों ही शहरों का आर्थिक और धार्मिक रूप से काफी महत्त्व है, इन दोनों शहरों के एयर कनेक्टिविटी से जुड़ने पर दोनों शहरों के लोगों को एक अच्छी सुविधा उपलब्ध होगी।

उत्तराखंड Switch to English

पर्यटन मंत्री ने किया जॉर्ज एवरेस्ट से हिमालय दर्शन सेवा का शुभारंभ

चर्चा में क्यों?

3 अक्टूबर, 2022 को प्रदेश के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने मसूरी के जॉर्ज एवरेस्ट से हिमालय दर्शन सेवा का विधिवत रूप से उद्घाटन किया। एक सप्ताह के ट्रायल के बाद हिमालय दर्शन सेवा का शुभारंभ किया गया है।

प्रमुख बिंदु 

  • पर्यटन मंत्री ने कहा कि इस हेली सेवा से जहाँ पर्यटकों को नजदीक से हिमालय के दर्शन करने को मिलेंगे। वहीं, प्रदेश की आर्थिकी में भी वृद्धि होगी और रोज़गार के नए अवसर पैदा होंगे।
  • उन्होंने कहा कि जल्द ही जॉर्ज एवरेस्ट मसूरी में महान सर्वेयर जॉर्ज एवरेस्ट की स्मृति में संग्रहालय बनकर तैयार हो जाएगा। इस संग्रहालय में भारतीय कार्टोग्राफी के पुरोधा स्वर्गीय नैन सिंह रावत और राधानाथ सिंकदर की प्रतिमाएँ स्थापित करने के साथ ही उनकी उपलब्धियों को रखा जाएगा।
  • पर्यटन मंत्री ने कहा कि एयर स्पोर्ट्स से जुड़ी अन्य कई आकर्षक गतिविधियाँ भी जॉर्ज एवरेस्ट से शुरू की जा रही हैं। इसके लिये पर्यटन विभाग ने ट्रायल के लिये एक प्रतिष्ठित कंपनी से अनुबंध भी किया है।
  • उन्होंने बताया कि विश्व पर्यटन दिवस पर पर्यटन प्रेमियों के लिये आकर्षक फोटोग्राफी एवं वीडियोग्राफी कॉन्टेस्ट का उद्घाटन किया गया है। इसके अंतर्गत पाँच विभिन्न श्रेणियों में फोटो एवं वीडियो ऑनलाइन आमंत्रित किये जा रहे हैं। इस कॉन्टेस्ट के माध्यम से प्रकृति पर्यटन प्रेमियों को 25 लाख रुपए से अधिक के पुरस्कार प्रदान किये जाएंगे। 

 Switch to English
एसएमएस अलर्ट
Share Page