हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

मध्य प्रदेश स्टेट पी.सी.एस.

  • 01 Dec 2021
  • 0 min read
  • Switch Date:  
मध्य प्रदेश Switch to English

6 चिकित्सा महाविद्यालयों के निर्माण को मंजूरी

Star marking (1-5) indicates the importance of topic.

चर्चा में क्यों?

30 नवंबर, 2021 को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में हुई मंत्रि-परिषद की बैठक। प्रदेश में 1547 करोड़ 45 लाख रुपए से 6 नवीन चिकित्सा महाविद्यालय के निर्माण कार्य की मंज़ूरी दी गई।

प्रमुख बिंदु

  • इसमें मंडला, सिंगरौली, श्योपुर, राजगढ़, नीमच तथा मंदसौर में नवीन चिकित्सा महाविद्यालयों की स्थापना के लिये क्रमश: राशि रुपए 249.63 करोड़, 258.07 करोड़, 256.83 करोड़, 256.55 करोड़, 255.78 करोड़ तथा 270.59 करोड़ रुपए की प्रशासकीय स्वीकृति दी गई।
  • इसके साथ ही मंत्रि-परिषद द्वारा निर्णय लिया गया कि मध्य प्रदेश राज्य शैक्षिक प्रबंधन एवं प्रशिक्षण संस्थान (सीमेट) को वर्तमान में प्रशासन अकादमी से पृथक् कर एक स्वतंत्र इकाई के रूप में स्थापित किया जाएगा। 
  • सीमेट की स्थापना का मुख्य उद्देश्य शैक्षणिक योजना एवं शैक्षणिक प्रबंधकीय क्षमता का विकास तथा इसके विकेंद्रीकरण के संबंध में उचित प्रक्रिया का निर्धारण एवं विकास करना है। इसके लिये व्यावसायिक दक्षता के विकास, शैक्षिक प्रबंधन में पाठ्यक्रमों का संचालन, शिक्षा से जुड़े अधिकारियों की क्षमता संवर्द्धन एवं प्रशिक्षण वातावरण के निर्माण में सहयोग करना शामिल है। 
  • सीमेट में स्कूल शिक्षा विभाग एवं स्कूल प्रबंधन से जुड़े जनजाति कार्य विभाग, अनुसूचित जाति कल्याण विभाग तथा श्रम विभाग के अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जा सकेगा।

मध्य प्रदेश Switch to English

एमएसएमई विभाग और वॉलमार्ट एवं फ्लिपकार्ट के बीच एमओयू

Star marking (1-5) indicates the importance of topic.

चर्चा में क्यों?

30 नवंबर, 2021 को मध्य प्रदेश के कुशाभाऊ ठाकरे हाल (मिंटो हाल) में प्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने की सुनियोजित नीति के तहत एमएसएमई विभाग ने मध्य प्रदेश के 14 लाख से अधिक नवउद्यमियों के उत्पादों को अंतर्राष्ट्रीय गुणवत्ता का बनाने और प्रतिस्पर्द्धा तथा मार्केटिंग चेन बनाने के लिये वॉलमार्ट एवं फ्लिपकार्ट के साथ एमओयू पर हस्ताक्षर किये।

प्रमुख बिंदु

</ul style="list-style-type: square;">

  • सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा की उपस्थिति में विभाग के सचिव पी. नरहरि और वॉलमार्ट के डायरेक्टर जोसफ जूलियन के बीच एमओयू पर हस्ताक्षर तथा आदान-प्रदान हुआ। फ्लिपकार्ट के रीजनल हेड डी.पी. वानकानी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।
  • एमएसएमई मंत्री ने कहा कि नवउद्यमियों को इस एमओयू से संबल मिलेगा। यह एमओयू रिटेल और होलसेल मार्केटिंग के साथ ही उत्पाद की पैकिंग, प्रतिस्पर्द्धा, गुणवत्ता और लागत को उपभोक्ता के हिसाब से सुनिश्चित करने के लिये नवउद्यमियों को प्रशिक्षित भी करेगा।
  • आयुक्त और एमएसएमई सचिव पी. नरहरि ने कहा कि इस एमओयू से मध्य प्रदेश के उद्यमियों के उत्पादों के लिये देश और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर उपभोक्ताओं के बीच नए द्वार खुलेंगे। इस एमओयू में नए-नए मॉड्यूल, उद्योगों के विकास, प्रशिक्षण, सेमीनार आदि को भी समाहित किया गया है। राज्य के नवउद्यमी इससे लाभांवित होंगे। 
  • वॉलमार्ट वृद्धि के डायरेक्टर जोसफ जूलियन ने कहा कि वे उद्योगों के विकास, बाज़ार और प्रतिस्पर्द्धा के लिये प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाएंगे। 
  • फ्लिपकार्ट के रीजनल हेड डी.पी. वेलीकान ने कहा कि मध्य प्रदेश की उद्योग मित्र नीतियाँ उनके नेटवर्क के अनुकूल हैं। उन्होंने कोरोनाकाल में राज्य शासन द्वारा उद्योगों को दी गई सहूलियतों का उल्लेख करते हुए कहा कि फ्लिपकार्ट एमएसएमई सेक्टर को आगे ले जाने का हर संभव प्रयास करेगा।

 Switch to English
एसएमएस अलर्ट
Share Page