हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:
झारखण्ड संयुक्त असैनिक सेवा मुख्य प्रतियोगिता परीक्षा 2016 -परीक्षाफलछत्तीसगढ़ पीसीएस प्रश्नपत्र 2019छत्तीसगढ़ पी.सी.एस. (प्रारंभिक) परीक्षा, 2019 (महत्त्वपूर्ण अध्ययन सामग्री).छत्तीसगढ़ पी.सी.एस. प्रारंभिक परीक्षा – 2019 सामान्य अध्ययन – I (मॉडल पेपर )
हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स (Hindi Literature: Pendrive Course)
मध्य प्रदेश पी.सी.एस. (प्रारंभिक) परीक्षा , 2019 (महत्वपूर्ण अध्ययन सामग्री)मध्य प्रदेश पी.सी.एस. परीक्षा मॉडल पेपर.Download : उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (प्रवर) प्रारंभिक परीक्षा 2019 - प्रश्नपत्र & उत्तर कुंजीअब आप हमसे Telegram पर भी जुड़ सकते हैं !यू.पी.पी.सी.एस. परीक्षा 2017 चयनित उम्मीदवार.UPSC CSE 2020 : प्रारंभिक परीक्षा टेस्ट सीरीज़

मेन्स प्रैक्टिस प्रश्न

  • ‘प्लेट विवर्तनिकी’ की अवधारणा को समझाएं। प्लेटो के संचरण के परिणाम स्वरुप बनने वाली सीमाओं का वर्णन करें।

    19 Dec, 2017 सामान्य अध्ययन पेपर 1 भूगोल

    उत्तर :

    प्लेट विवर्तनिकी की अवधारणा को स्पष्ट करें।
    प्लेट-संचरण के परिणाम स्वरूप बनने वाली संरचना के बारे में लिखें।

    प्लेट विवर्तनिकी अवधारणा पृथ्वी पर महाद्वीपों तथा महासागरों के वितरण से जुड़ी हुई है, जिसका प्रतिपादन 1967 मैकेंजी के द्वारा किया गया था।

    प्लेट विवर्तनिकी अवधारणा

    इसके तहत हमारा स्थलमंडल 7 बड़े तथा कुछ छोटे प्लेटों में बटाँ हुआ है, जो दुर्लभ मंडल पर तैर रहे हैं। प्लेटों के किनारे जो अन्य प्लेटों  से जुड़े होते हैं विवर्तनिक कहलाते हैं। ये ज्वाला मुखी और भूकंप से प्रभावित होते हैं। दुर्बल मंडल में द्रव्य तथा तरंगों की गति के कारण इन प्लेटों में विभिन्न प्रकार की गतियाँ होती है जिससे स्थलमंडल में परिवर्तन होता रहता है। इन प्लेटों के संचरण से तीन प्रकार की सीमाओं का निर्धारण होता है।

    plate

    अपसरण सीमा:  जब दो प्लेटें एक दूसरे के विपरीत दिशा में संचारित होती है तो संलग्न सीमा को अपसारी सीमा कहते हैं। इससे भूपर्पटीका निर्माण होता है। मध्य अटलांटिक कटक अपसारी सीमा का एक सुंदर उदाहरण है।

    apsaran-sima

    अभिसरण सीमा: अभिसरण सीमा का निर्माण तब होता है जब दो प्लेटें एक दूसरे की ओर गति करती हैं। यह तीन प्रकार से हो सकता है:
    महासागरीय और महाद्वीपीय प्लेट के बीच
    दो महासागरीय प्लेटों के बीच
    दो महाद्वीपीय प्लेटों के बीच 
    अभिसरण की सीमा सर्वाधिक विनाशकारी होती है। एंडीज पर्वतमाला अभिसारी सीमा का परिणाम है।

    abhisaran-sima

    रूपांतरण सीमा: इसमें प्लेटें एक दूसरे के समांतर गति करती है। आघात अथवा अलगाव नहीं होने के कारण 
    यहाँ न तो भूपर्पटी का निर्माण होता है और न ही विनाश। यद्यपि रूपांतरण सीमा पर हलके भूकंपीय तरंगो का अनुभव किया जा सकता है।

    rupantaran-sima

एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close