इंदौर शाखा: IAS और MPPSC फाउंडेशन बैच-शुरुआत क्रमशः 6 मई और 13 मई   अभी कॉल करें
ध्यान दें:

डेली अपडेट्स


रैपिड फायर

रक्षा निर्यात में रिकॉर्ड स्तर की वृद्धि

  • 02 Apr 2024
  • 2 min read

स्रोत: पी.आई.बी.

वित्त वर्ष 2023-24 में रक्षा निर्यात रिकॉर्ड 21,083 करोड़ रुपए (लगभग 2.63 बिलियन अमेरिकी डॉलर) तक पहुँच गया जो विगत वित्त वर्ष की तुलना में 32.5 प्रतिशत की वृद्धि को दर्शाता है। वित्त वर्ष 2013-14 की तुलना में पिछले 10 वर्षों में रक्षा निर्यात 31 गुना बढ़ा है।

  • प्रमुख आँकड़े:
    • वर्ष 2004-05 से वर्ष 2013-14 और वर्ष 2014-15 से वर्ष 2023-24 तक दो दशकों की तुलना करने पर रक्षा निर्यात में 21 गुना वृद्धि दर्ज की गई।
    • इसमें निजी क्षेत्र का योगदान लगभग 60% रहा जबकि रक्षा सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों (Defence Public Sector Undertakings- DPSU) ने लगभग 40% योगदान दिया।
    • वित्त वर्ष 2022-23 की तुलना में वित्त वर्ष 2023-24 में रक्षा निर्यातकों को जारी किये गए निर्यात प्राधिकरणों की संख्या में भी वृद्धि हुई।
  • प्रमुख कारक:
    • भारतीय रक्षा क्षेत्र में महत्त्वपूर्ण वृद्धि का श्रेय नीतिगत सुधारों, व्यापार की सुगमता पहल और व्यापक डिजिटल समाधानों को दिया जाता है जो भारतीय रक्षा उत्पादों तथा प्रौद्योगिकियों की वैश्विक स्वीकृति को दर्शाते हैं।

और पढ़ें…भारत का रक्षा निर्यात

close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2
× Snow