हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

डेली अपडेट्स

भारतीय अर्थव्यवस्था

इंफ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट ट्रस्ट्स

  • 23 Sep 2020
  • 6 min read

प्रिलिम्स के लिये 

इन्फ्रास्ट्रक्चर इंवेस्टमेंट ट्रस्ट (InvIT), भारतमाला परियोजना

मेन्स के लिये 

भारत में बुनियादी ढाँचा एवं निवेश प्रारूप

चर्चा में क्यों?

हाल ही में भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (National Highways Authority of India- NHAI) ने इन्फ्रास्ट्रक्चर इंवेस्टमेंट ट्रस्ट (Infrastructure Investment Trusts- InvIT) को सड़क बुनियादी ढाँचे के निर्माण हेतु धन जुटाने के लिये एक उपकरण के रूप में उपयोग करने का निर्णय लिया है।

प्रमुख बिंदु: 

इन्फ्रास्ट्रक्चर इंवेस्टमेंट ट्रस्ट (InvIT):

  • InvITs ऐसे उपकरण हैं जो म्यूचुअल फंड की तरह कार्य करते हैं। ये संपत्ति में निवेश करने हेतु कई निवेशकों से धनराशि की छोटी रकम को हासिल करने के लिये डिज़ाइन किये गए हैं जो एक समयावधि में नकदी प्रवाह देते हैं। इस नकदी प्रवाह के हिस्से को निवेशकों में लाभांश के रूप में वितरित किया जाता है।
  • एक ‘InvIT इनिशियल पब्लिक ऑफर’ (Initial Public Offer- IPO) में न्यूनतम निवेश राशि 10 लाख रुपए है इसलिये उच्च नेटवर्थ व्यक्तियों, संस्थागत एवं गैर-संस्थागत निवेशकों के लिये InvITs उपयुक्त हैं।
    • IPO के माध्यम से स्टॉक की तरह ही एक्सचेंजों में भी InvITs सूचीबद्ध हैं।
  • हालाँकि भारतीय InvIT बाज़ार अभी परिपक्व नहीं हुआ है और उसने अब तक 10 InvIT के गठन का समर्थन किया है जिनमें से केवल दो सूचीबद्ध हैं।
    • स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध InvIT, आईआरबी InvIT फंड (IRB InvIT Fund)  एवं इंडिया ग्रिड ट्रस्ट (India Grid Trust) हैं।
  • InvIT को सेबी (इन्फ्रास्ट्रक्चर इंवेस्टमेंट ट्रस्टस) विनियमन, 2014 द्वारा विनियमित किया जाता है।

InvIT की संरचना:

  • म्यूचुअल फंड की तरह, इसके पास ट्रस्टी, प्रायोजक, निवेश प्रबंधक एवं परियोजना प्रबंधक होते हैं।
    • ट्रस्टी के पास InvIT के प्रदर्शन का निरीक्षण करने की ज़िम्मेदारी है।
    • प्रायोजक (Sponsor) कंपनी के प्रमोटर हैं जिन्होंने InvIT स्थापित किया है।
    • निवेश प्रबंधक को InvIT की परिसंपत्तियों एवं निवेशों की देखरेख का कार्य सौंपा जाता है।
    • प्रोजेक्ट के निष्पादन के लिये परियोजना प्रबंधक ज़िम्मेदार होता है।

आवश्यकता क्यों?

  • अक्तूबर, 2017 में भारत सरकार ने 5,35,000 करोड़ रुपए के निवेश के साथ 34,800 किलोमीटर की सड़कों के विकास के लिये भारतमाला परियोजना की शुरूआत की थी। 
    • इन परियोजनाओं को पूरा करने के लिये NHAI को पर्याप्त धनराशि की आवश्यकता है,  परियोजनाओं को पूरा करने हेतु धनराशि जुटाने हेतु राष्ट्रीय राजमार्गों के निर्माण में निवेश करने के लिये ‘पूर्ण एवं परिचालित राष्ट्रीय राजमार्ग परिसंपत्तियों’ का मुद्रीकरण करना तथा निजी हितधारकों को आकर्षक योजनाएँ प्रदान करना है। 

लाभ: 

  • ऐसे समय में जब अर्थव्यवस्था में निजी क्षेत्र के निवेश में गिरावट आई है, NHAI द्वारा फंड जुटाने एवं बुनियादी ढाँचे पर खर्च करने से न केवल अर्थव्यवस्था को राहत मिलेगी बल्कि निजी क्षेत्र के निवेश में भी बढ़ोतरी होगी।
  • NHAI का InvIT ऑफर जो जल्द ही आने की उम्मीद है, भारत सरकार द्वारा सड़कों एवं बुनियादी ढाँचे के क्षेत्र में सार्वजनिक खर्च को बढ़ावा देने के लिये वित्तपोषण के वैकल्पिक स्रोतों को खोलने का एक तरीका है।
  • एक InvIT भी कंपनी को अपने ऋण दायित्त्वों को जल्द पूरा करने के लिये मार्ग प्रदान करता है।
  • यदि InvIT इकाइयों को 3 वर्ष से अधिक समय तक रखा जाता है तो InvIT धारकों को भी अनुकूल कर मानदंडों से लाभ होता है जिसमें लाभांश आय पर छूट एवं कोई पूंजीगत लाभ कर शामिल नहीं होता है।

निवेशकों के लिये सुरक्षा उपाय:

  • प्रायोजक को तीन वर्षों की लॉक-इन अवधि के साथ न्यूनतम 15% InvIT इकाइयों को बनाए रखना होता है।
  • InvIT को अपने शुद्ध नकदी प्रवाह का 90% निवेशकों को वितरित करना होता है।
  • InvIT राजस्व उत्पन्न करने वाली बुनियादी ढाँचा संपत्ति में न्यूनतम 80% निवेश करना आवश्यक है।

स्रोत: इंडियन एक्सप्रेस

एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close