हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

प्रिलिम्स फैक्ट्स

  • 11 Nov, 2020
  • 15 min read
प्रारंभिक परीक्षा

प्रिलिम्स फैक्ट्स: 11 नवंबर, 2020

द्वितीय राष्ट्रीय जल पुरस्कार

2nd National water Awards

हाल ही में जल शक्ति मंत्रालय द्वारा वर्ष 2019 के लिये राष्ट्रीय जल पुरस्कार प्रदान करने की घोषणा की गई है।

2nd-National-water-Awards

प्रमुख बिंदु:

  • यह मंत्रालय द्वारा प्रदान किया जाने वाला द्वितीय राष्‍ट्रीय जल पुरस्कार है। 
  • पुरस्कार वितरण वर्चुअल तरीके से किया जाएगा।
  • यह पुरस्कार जल संसाधन संरक्षण और प्रबंधन के क्षेत्र में सराहनीय कार्य करने वाले व्यक्तियों/संगठनों को प्रोत्साहित करने के लिये दिया जाता है।
  • साथ ही इसके माध्यम से लोगों में जल के महत्त्व के संबंध में जागरूकता पैदा करने और उन्हें जल के इस्तेमाल के बेहतरीन तरीके अपनाने के लिये प्रेरित करने का प्रयास किया जाता है।
  • विभिन्न श्रेणियों में दिये जाने वाले इस पुरस्कार के तहत विजेताओं को एक प्रशस्ति पत्र, ट्रॉफी और नकद राशि प्रदान की जाती है।

उद्देश्य:

  • राष्‍ट्रीय जल पुरस्‍कार का उद्देश्य जल संरक्षण के क्षेत्र में देश भर में व्यक्तियों और संगठनों द्वारा किये जा रहे अच्छे कार्यों तथा प्रयासों के साथ भारत सरकार के जल समृद्ध दृष्टिकोण पर मुख्‍य रूप से ध्‍यान केंद्रित करना है।
  • इसके अलावा पुरस्कार समारोह जल क्षेत्र से जुड़े विषयों पर स्टार्टअप के साथ-साथ अग्रणी संगठनों को जुड़ने और विचार व्यक्त करने का एक अच्छा अवसर प्रदान करता है।
  • यह आयोजन सभी लोगों और संगठनों की एक मज़बूत साझेदारी को आगे बढ़ाने तथा जल संसाधन संरक्षण एवं प्रबंधन गतिविधियों में हितधारकों को जोड़ने के लिये एक बेहतर मौका देता है।

थर्टी मीटर टेलीस्कोप प्रोजेक्ट 

Thirty Meter Telescope Project

ब्रह्मांड के गूढ़ रहस्यों का पता लगाने के उद्देश्य से हवाई द्वीप के मौना किया (Mauna Kea) में थर्टी मीटर टेलीस्कोप प्रोजेक्ट (TMT) की स्थापना की जा रही है। 

TMT

प्रमुख बिंदु:

  • इस अंतर्राष्ट्रीय परियोजना में दूरबीन से जुड़े उपकरणों के संबंध में भौतिक विज्ञान के 2020 के नोबेल पुरस्कार विजेता प्रोफेसर एंड्रिया घेज़ ने भारतीय खगोलविदों के साथ काफी सक्रियता से कार्य किया है।
    • हमारी आकाशगंगा के केंद्र में स्थित एक विशालकाय ठोस वस्तु का पता लगाने के लिये प्रोफेसर घेज़ को प्रोफेसर रोजर पेनरोस और प्रोफेसर रिनहार्ड गेंजेल के साथ संयुक्त रूप से यह पुरस्कार दिया गया है। 
  • प्रोफेसर घेज़ ने दूरबीन परियोजना में इस्तेमाल किये जाने वाले बैक एंड उपकरणों और परियोजना की वैज्ञानिक संभावनाओं से जुड़े तकनीकी पहलुओं के विकास में अहम भूमिका निभाई है।  

TMT परियोजना के संबंध में:

  • TMT परियोजना एक अंतर्राष्ट्रीय साझेदारी वाली परियोजना है जिसमें कैल टेक, कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय, कनाडा, जापान, चीन और भारत विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग तथा परमाणु ऊर्जा विभाग के माध्यम से सहयोग कर रहे हैं।
  • इसमें हमारे सौरमंडल से संबंधित डेटा सिम्युलेटर, ऊर्जावान क्षणिक वस्तुओं, आकाशगंगाओं की सक्रिय नाभिक और गुरुत्वाकर्षण-लेंस वाली आकाशगंगाओं का अध्ययन किया गया।
  • इसके अलावा इसमें हमारी आकाशगंगा के केंद्र में सुपरमैसिव कॉम्पैक्ट ऑब्जेक्ट की प्रकृति तथा इससे संबंधित अज्ञात चीज़ों की खोज करने के लिये कई और नए पहलुओं को समझने हेतु निकट भविष्य में आईआरआईएस/टीएमटी (Infrared Imaging Spectrograph- IRIS/ TMT) की क्षमता को दिखाया गया है। 
  • वैज्ञानिकों ने एक उन्नत डेटा प्रबंधन प्रणाली और डेटा कटौती की आवश्यकता पर भी प्रकाश डाला है।

मौना की (Mauna Kea):Site-for-telescope

  • मौना की (Mauna Kea) हवाई द्वीप समूह का एक निष्क्रिय ज्वालामुखी द्वीप है जिसकी सागर तल (Sea Level) तथा सागर आधार तल (Sea Base) से ऊँचाई क्रमश: 4,207.3 मीटर और 10,200 मीटर है।
  • सागर तल के आधार यह हवाई राज्य का सबसे ऊँचा स्थान है जबकि सागर आधार तल के आधार पर दुनिया का सबसे ऊँचा पर्वत है।

 राष्ट्रीय शिक्षा दिवस कार्यक्रम

National Education Day programme

हाल ही में केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय द्वारा भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान बॉम्बे में राष्ट्रीय शिक्षा दिवस कार्यक्रम (ऑनलाइन) का शुभारंभ किया गया।

Inaugurating

प्रमुख बिंदु:

  • IIT बॉम्बे ने 11 नवंबर को भारत के प्रथम शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आज़ाद की जयंती के अवसर पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया, जिसे प्रत्येक वर्ष राष्ट्रीय शिक्षा दिवस के रूप में भी मनाया जाता है।
  • राष्ट्रीय शिक्षा दिवस कार्यक्रम का उद्देश्य "भारत में अध्ययन, भारत में रहें ( ‘Study in India, Stay in India) और शिक्षा के अंतर्राष्ट्रीयकरण 'के माध्यम से भारत को शिक्षा के वैश्विक केंद्र के रूप में स्थापित करना है।
  • शिक्षा की उच्च गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिये भी यह आवश्यक है कि विश्व के अग्रणी विश्वविद्यालयों के साथ सहयोग, समन्वय और समझौते के साथ आगे बढ़ें।
  • इसके अलावा कार्यक्रम के दौरान IIT के R&D प्रयासों को मान्यता देने के लिये स्थापित IIT बॉम्बे रिसर्च एक्सीलेंस अवार्ड्स 2019 भी प्रदान किये गए।
  • इस पुरस्कार में एक प्रशस्ति पत्र और 1,00,000 रुपए का नकद प्रोत्साहन राशि शामिल है।
  • पुरस्कार की श्रेणियों में शामिल हैं-
    • रिसर्च पब्लिकेशन पुरस्कार- सहकर्मी समीक्षा प्रकाशनों में मूल शोध परिणामों को पहचानने और/ या अन्य रूपों जैसे- प्रदर्शनी (डिज़ाइन, फिल्म) के लिये।
    • अनुसंधान प्रसार पुरस्कार- मोनोग्राफ/पुस्तकों/समीक्षा अध्यायों/समीक्षा पत्रों के माध्यम से अनुसंधान के प्रसार के लिये उत्कृष्ट प्रयासों को पहचानने के लिये।
    • युवा शोधकर्त्ताओं के लिये प्रारंभिक अनुसंधान उपलब्धि पुरस्कार जो पहले से ही उत्कृष्ट कार्य करने के लिये अपनी क्षमता दिखा चुके हो।

विविध

Rapid Fire (करेंट अफेयर्स): 11 नवंबर, 2020

‘ओवर द टॉप’ प्लेटफॉर्म पर सरकार का नियंत्रण 

केंद्र सरकार ने अपने एक महत्त्वपूर्ण निर्णय में नेटफ्लिक्स, अमेज़न प्राइम और अन्य ‘ओवर द टॉप' (Over The Top- OTT) प्लेटफॉर्म अथवा वीडियो स्ट्रीमिंग सेवा प्रदाताओं को सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के दायरे में लाने की घोषणा की है। ध्यातव्य है कि वर्तमान में भारत में इन प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध डिजिटल कंटेंट को नियंत्रित करने वाला कोई कानून या स्वायत्त निकाय नहीं है। इस संबंध में जारी आधिकारिक सूचना के मुताबिक, अब ऑनलाइन फिल्में, डिजिटल समाचार और करेंट अफेयर्स से संबंधित सामग्री पूर्णतः सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के दायरे में आएगी। ध्यातव्य है कि केंद्र सरकार के इस निर्णय से अब तक पूर्णतः अनियमित ‘ओवर द टॉप' (OTT) प्लेटफॉर्म को नियंत्रित किया जा सकेगा। ध्यातव्य है कि केंद्र सरकार बीते कई वर्षों से इस प्रकार के वीडियो स्ट्रीमिंग सेवा प्रदाताओं को नियंत्रित करने की मांग कर रही है, साथ ही सरकार इन सेवा प्रदाताओं से न्यूज़ ब्रॉडकास्टर्स स्टैंडर्ड अथॉरिटी की तर्ज पर स्व-नियामक निकाय बनाने की भी बात करती रही है। हालाँकि अभी तक इन प्लेटफॉर्म के लिये ऐसा कुछ नहीं बन पाया है। वर्तमान में प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा प्रिंट मीडिया को न्यूज़ ब्रॉडकास्टर्स एसोसिएशन (NBA) समाचार चैनलों को और भारतीय विज्ञापन मानक परिषद द्वारा भारतीय विज्ञापन उद्योग को नियंत्रित किया जाता है, साथ ही ये संगठन इन उद्योगों का प्रतिनिधित्त्व भी करते हैं।

अजीम प्रेमजी

भारत में आईटी क्षेत्र की दिग्गज कंपनी विप्रो (Wipro) के पूर्व चेयरमैन अजीम प्रेमजी ने भारत में दान देने के मामले में सबसे शीर्ष स्थान प्राप्त किया है। हाल ही में जारी किये गए एडलिव हुरुन इंडिया फिलैन्थ्रॉपी लिस्ट 2020 के सांतवें संस्करण के अनुसार, अजीम प्रेमजी ने वर्ष 2020 में कुल 7,904 करोड़ रुपए यानी प्रतिदिन लगभग 22 करोड़ रुपए दान दिये हैं, इसलिये वे इस सूची में पहले स्थान पर हैं। 1 अप्रैल, 2020 को अजीम प्रेमजी फाउंडेशन, विप्रो और विप्रो एंटरप्राइज़ेज़ ने कोरोना वायरस महामारी के प्रकोप से निपटने के लिये 1,125 करोड़ रुपए दान करने की घोषणा की थी। यह विप्रो की वार्षिक CSR गतिविधियों और अजीम प्रेमजी फाउंडेशन के सामान्य खर्च से अलग था। HCL के संस्थापक और चेयरमैन शिव नादर को इस सूची में दूसरा स्थान प्राप्त हुआ है, जिन्होंने वर्ष 2020 में कुल 795 करोड़ रुपए दान किये हैं। वहीं रिलायंस इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड के चेयरमैन और एशिया के सबसे अमीर आदमी मुकेश अंबानी को इस सूची में तीसरा स्थान प्राप्त हुआ है और उन्होंने वर्ष 2020 में कुल 458 करोड़ रुपए दान किये हैं। हुरुन इंडिया और एडलिव फाउंडेशन द्वारा तैयार की जाने वाली इस सूची के माध्यम से राष्ट्र के निर्माण में योगदान देने वाले लोगों को रेखांकित करने का प्रयास किया जाता है।

90 प्रतिशत प्रभावी COVID-19 टीका

अपने टीके के तीसरे चरण के नैदानिक परीक्षणों के अंतरिम विश्लेषण के आधार पर अमेरिकी फार्मा कंपनी फाइज़र (Pfizer) ने घोषणा की है कि कंपनी द्वारा विकसित टीका पहली बार कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों में संक्रमण को रोकने में 90 प्रतिशत से अधिक प्रभावी है। अमेरिकी कंपनी फाइज़र (Pfizer) और उसकी जर्मन साझीदार कंपनी बायोएनटेक (BioNTech) ने घोषणा की है कि कंपनी द्वारा बनाई गई एम-आरएनए वैक्सीन (m-RNA Vaccine) के अंतरिम विश्लेषण के मुताबिक, इस टीके के कारण किसी भी व्यक्ति पर कोई गंभीर सुरक्षा खतरा नहीं देखा गया है। हालाँकि टीके की जाँच करने वाली विशेषज्ञ समिति ने सिफारिश की है कि ‘इस टीके से संबंधित और अधिक डेटा एकत्र किया जाए, ताकि विश्लेषण के आधार पर और सटीक जानकारी प्राप्त की जा सके। 

मुंबई इंडियंस

मुंबई इंडियंस ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के फाइनल मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स को पाँच विकेट से हराकर एक बार फिर IPL का खिताब अपने नाम कर लिया है। इस जीत के साथ ही मुंबई इंडियंस ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के अब तक के इतिहास में कुल पाँच बार खिताब जीतकर एक नया रिकॉर्ड स्थापित कर दिया है। मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा IPL फाइनल में दो या दो से अधिक अर्द्धशतक बनाने वाले पहले कप्तान बन गए हैं, इससे पूर्व उन्होंने वर्ष 2015 में चेन्नई सुपर किंग (CSK) के विरुद्ध खेलते हुए 26 गेंदों में 50 रन बनाए थे। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) भारत में आयोजित की जाने वाली T20 क्रिकेट लीग है, जिसकी शुरुआत वर्ष 2008 में हुई थी। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) का पहला खिताब राजस्थान रॉयल्स ने जीता था।


एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close