प्रयागराज शाखा पर IAS GS फाउंडेशन का नया बैच 10 जून से शुरू :   संपर्क करें
ध्यान दें:

झारखंड स्टेट पी.सी.एस.

  • 30 Jun 2022
  • 0 min read
  • Switch Date:  
झारखंड Switch to English

पंचकठिया/बाबूपुर, बरहेट, साहिबगंज में दुग्ध शीतक केंद्र का उद्घाटन

चर्चा में क्यों?

29 जून, 2022 को झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पंचकठिया/बाबूपुर, बरहेट, साहिबगंज में दुग्ध शीतक केंद्र का उद्घाटन किया।

प्रमुख बिंदु

  • इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इन केंद्रों में दुग्ध कलेक्शन कराने वालों दूध की उचित कीमत मिलेगी और राज्य सरकार बाजार मूल्य 2 रुपए प्रति लीटर सम्मान राशि भी देगी।
  • साथ ही, मेधा डेयरी में निर्मित दुग्ध उत्पादों का आँगनबाड़ी केंद्रों में इस्तेमाल किया जाएगा।
  • किसानों और दुग्ध उत्पादकों को बढ़ावा देने के लिये राज्य सरकार लगातार प्रयास कर रही है। इसी कड़ी में गाँवों में दुग्ध शीतक केंद्र खोले जा रहे हैं।
  • पशुपालकों द्वारा दुग्ध शीतक केंद्रों में जो दूध उपलब्ध कराया जाएगा, उसकी राज्य के बड़े डेयरी प्लांटों में प्रोसेसिंग की जाएगी। इसके उपरांत दूध और दूध से बने उत्पादों को राज्य के हर इलाके में बिक्री के लिये भेजा जाएगा। इन उत्पादों को बाज़ार उपलब्ध कराने का सरकार काम करेगी।

झारखंड Switch to English

मुख्यमंत्री ने किया विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास

चर्चा में क्यों?

29 जून, 2022 को झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने डमरूहाट, सुंदरपहाड़ी, गोड्डा में नियुक्ति-पत्रों का वितरण योजनाओं का शिलान्यास, उद्घाटन एवं परिसंपत्ति का वितरण किया।

प्रमुख बिंदु

  • मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर सरकार द्वारा चलाई जाने वाली सुपोषित गोड्डा योजना का शुभारंभ तथा संबंधित पुस्तिका का विमोचन किया।
  • इस योजना के तहत गोड्डा ज़िले के बच्चों को कुपोषण से मुक्ति हेतु विभिन्न तरह के कार्यक्रम चलाए जाएंगे।
  • इस अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा 18001.17 लाख रुपए की 79 योजनाओं का उद्घाटन एवं 12598.28 लाख रुपए की 10 महती योजनाओं का शिलान्यास किया गया।
  • इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री द्वारा 170 लोगों को विभिन्न विभागों से जुड़े नियुक्ति-पत्र वितरित किया गया। सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना, सोना सोबरण योजना, राशन कार्ड वितरण, मुख्यमंत्री कन्यादान, मुख्यमंत्री रोज़गार सृजन, फूलों-झानों आशीर्वाद योजना समेत अन्य योजनाओं के तहत 2573 लाभुकों के बीच कुल 1767.10 लाख रुपए की परिसंपत्ति का भी वितरण किया गया।
  • मुख्यमंत्री द्वारा इस कार्यक्रम में गोड्डा की तनु कुमारी, जिन्होंने बोर्ड एग्जाम में 97% लाकर पूरे राज्य में संथाल परगना का नाम रोशन किया है, को सम्मानित किया गया।
  • इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में जो बच्चे बोर्ड परीक्षाओं में पहले स्थान पर हैं, उन्हें 3 लाख रुपए की राशि, दूसरे स्थान पर 2 लाख और तीसरे स्थान पर 1 लाख रुपए की पुरस्कार राशि दी जाएगी।

 Switch to English
close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2