हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

बिहार स्टेट पी.सी.एस.

  • 28 May 2022
  • 0 min read
  • Switch Date:  
बिहार Switch to English

बिहार के दो स्थानों पर बनेगा फ्लोटिंग सोलर पावर प्लांट

चर्चा में क्यों? 

हाल ही में बिहार की बिजली कंपनी द्वारा बिहार में दो स्थानों फुलवरिया दुर्गावती पर फ्लोटिंग सोलर पावर प्लांट लगाए जाने की योजना बनाई गई है। 

प्रमुख बिंदु 

  • जानकारी के अनुसार फुलवरिया में 20 मेगावाट दुर्गावती में 30 मेगावाट क्षमता का प्रस्तावित प्लांट नवादा के फुलवरिया डैम रजौली के समीप है। नवादा से इसकी दूरी 30 किमी. के करीब है। इस डैम में 20 मेगावाट के फ्लोटिंग सोलर पावर प्लांट लगाए जाने की योजना है।   
  • कैमूर ज़िले में स्थित दुर्गावती डैम में 30 मेगावाट क्षमता का फ्लोटिंग सोलर पावर प्लांट लगाया जाएगा। इस डैम की ऊँचाई 46.3 मीटर है और लंबाई लगभग 1615.4 मीटर है।
  • गौरतलब है कि हाल ही में दरभंगा में बिहार के पहले फ्लोटिंग सोलर पावर प्लांट का उद्घाटन हुआ था। इसकी क्षमता दो मेगावाट है। इसे बिहार रिन्यूएबल इनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी (ब्रेडा) की देखरेख में तैयार किया गया है।   
  • हाल ही में बिजली कंपनी ने भारतीय सौर ऊर्जा निगम के साथ 210 मेगावाट बिजली क्रय का करार किया है। अगले वर्ष के आखिर तक यह बिजली मिलनी शुरू हो जाएगी। इससे 630 मिलियन टन कार्बन डाइआक्साइड उत्सर्जन में कमी आएगी।   
  • इसी तरह सतलज जलविद्युत निगम के साथ 200 मेगावाट बिजली क्रय के लिये बिजली कंपनी ने करार किया है। यह बिजली भी अगले वर्ष के आखिर में मिलनी शुरू हो जाएगी। इसके तहत जमुई में 175 तथा बाँका में 25 मेगावाट क्षमता की सौर ऊर्जा उत्पादन इकाई लगेगी। 

 Switch to English
एसएमएस अलर्ट
Share Page