दृष्टि ज्यूडिशियरी का पहला फाउंडेशन बैच 11 मार्च से शुरू अभी रजिस्टर करें
ध्यान दें:

State PCS Current Affairs


मध्य प्रदेश

कौशल विकास, सीमेंस इंडिया और जीआईज़ेड इंडिया के मध्य हुआ त्रिपक्षीय एमओयू

  • 09 Mar 2022
  • 2 min read

चर्चा में क्यों?

8 मार्च, 2022 को औद्योगिक मूल्य संवर्द्धन के लिये कौशल सुदृढ़ीकरण योजना (STRIVE) में इंडो-जर्मन इनिशिएटिव फॉर टेक्निकल एजुकेशन प्रोग्राम (IGNITE) के लिये मध्य प्रदेश कौशल विकास, सीमेंस इंडिया एवं जीआईज़ेड (GIZ) इंडिया के मध्य त्रिपक्षीय एमओयू संपादित किया गया।।

प्रमुख बिंदु 

  • मध्य प्रदेश कौशल विकास के संचालक जितेंद्र सिंह राजे, सीमेंस इंडिया के धर्मवीर सिंह एवं जीआईज़ेड इंडिया की उषा गणेश ने इस एमओयू पर हस्ताक्षर किये।
  • संचालक जितेंद्र सिंह ने बताया कि इंडो-जर्मन इनिशिएटिव फॉर टेक्निकल एजुकेशन प्रोग्राम (IGNITE) का उद्देश्य जर्मन डूअल व्यावसायिक शिक्षा और प्रशिक्षण मॉडल के आधार पर भारत में उच्च गुणवत्ता वाले प्रशिक्षण के लिये रूपरेखा की स्थिति निर्मित करना है। 
  • उन्होंने बताया कि मध्य प्रदेश के चार इंडस्ट्री क्लस्टर एवं संबंधित 34 शासकीय आईटीआई को आईजीएनआईटीई प्रोग्राम के लिये चयन किया गया है। इसमें ग्वालियर-शिवपुरी इंडस्ट्री क्लस्टर में 7 शासकीय आईटीआई तथा जबलपुर-कटनी क्लस्टर, सागर-दमोह क्लस्टर एवं रीवा-सतना इंडस्ट्री क्लस्टर में 9-9 शासकीय आईटीआई का चयन किया गया है।
  • इस एमओयू के तहत सीमेंस इंडिया और जीआईज़ेड. (GIZ) के विशेषज्ञों द्वारा आईटीआई के प्राचार्य, संस्था प्रमुख, ट्रेनिंग एवं प्लेसमेंट अधिकारी, ट्रेड के प्रशिक्षण अधिकारियों की क्षमता निर्माण एवं आईटीआई के 5 ट्रेड इलेक्ट्रिशन, फिटर, टर्नर, मशीनिस्ट और इलेक्ट्रानिक्स मेकैनिक के ट्रेनीज़ को इंडस्ट्री क्लस्टर में ‘इन प्लांट ट्रेनिंग’और ‘ग्रीन स्किल्स’में प्रशिक्षण दिया जाएगा।
close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2