हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

प्रिलिम्स फैक्ट्स

  • 01 Oct, 2022
  • 11 min read
प्रारंभिक परीक्षा

36वें राष्ट्रीय खेल

हाल ही में प्रधानमंत्री द्वारा गुजरात में 36वें राष्ट्रीय खेलों का उद्घाटन किया गया।

36-National_Games

राष्ट्रीय खेल क्या हैं?

  • पृष्ठभूमि: वर्ष 1920 के दशक में राष्ट्र का ध्यान आकर्षित करने वाले ओलंपिक में राष्ट्रीय खेल शामिल हैं। भारत में राष्ट्रीय खेलों को पहली बार भारतीय ओलंपिक खेलों के रूप में राष्ट्र में ओलंपिक खेलों को बढ़ावा देने के लक्ष्य के साथ शुरू किया गया था।
    • वर्ष 1924 में अविभाजित पंजाब के लाहौर में भारतीय ओलंपिक खेलों का पहला संस्करण संपन्न हुआ।
    • वर्ष 1940 की शुरुआत में भारतीय ओलंपिक खेलों को राष्ट्रीय खेलों के रूप में नामित किया गया था। इस प्रतियोगिता में भारतीय राज्यों के एथलीटों को विभिन्न प्रकार के खेलों में शामिल किया जाता है।
  • उद्देश्य:
    • इन्हें भारतीय एथलीटों, खेल संगठनों आदि के लाभ के लिये आयोजित किया जाता है।
    • यह अंतर्राष्ट्रीय स्तर के खेल के बुनियादी ढाँचे के विकास की आवश्यकता के बारे में राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों के बीच जागरूकता बढ़ाने में मदद करते हैं।
    • यह खेल गतिविधियों में भाग लेने के लिये बड़ी संख्या में युवाओं को आकर्षित करता है।
    • इसका उद्देश्य जीवन के सभी क्षेत्रों के व्यक्तियों में खेल संस्कृति को विकसित करना और उन्हें स्वस्थ समाज के निर्माण हेतु खेल के मूल्यों के बारे में शिक्षित करना है।
  • क्षेत्राधिकार: राष्ट्रीय खेलों की अवधि और नियम पूरी तरह से भारतीय ओलंपिक संघ के अधिकार क्षेत्र में हैं।

36वें राष्ट्रीय खेलों की मुख्य विशेषताएँ क्या हैं?

  • आयोजन: सात साल बाद होने वाले राष्ट्रीय खेलों में भारत के सर्वश्रेष्ठ एथलीट गुजरात के छह शहरों में 36 खेलों में प्रतिस्पर्द्धा करेंगे।  
  • शुभंकर: 36वें राष्ट्रीय खेलों के लियेआधिकारिक शुभंकर ‘सावज’ (SAVAJ) हैयह खिलाड़ी के व्यक्तित्व के सबसे प्रमुख लक्षणों जैसे- आत्मविश्वास, जोश, प्रेरणा, सफल होने की आंतरिक इच्छा, ध्यान और लक्ष्य पर ध्यान केंद्रित होना अदि पर बल देता है  
    • गुजराती में सावज- तारनहार (તારણાર) का हिंदी में अर्थ है "उद्धारकर्त्ता"। सााज एशियाई शेर का प्रतिनिधित्व है, जो आज केवल भारत के जंगलों में जीवित हैं।

  UPSC सिविल सेवा परीक्षा विगत वर्ष के प्रश्न  

प्रश्न. 32वें ग्रीष्मकालीन ओलंपिक के संबंध में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिये:

  1. इस ओलंपिक का आधिकारिक आदर्श वाक्य- 'एक नई दुनिया' है।
  2. इस ओलंपिक में स्पोर्ट क्लाइंबिंग, सर्फिंग, स्केटबोर्डिंग, कराटे और बेसबॉल खेलों को शामिल किया गया है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

(a) केवल 1
(b) केवल 2
(c) 1 और 2 दोनों
(d) न तो 1 और न ही 2

उत्तर: (b)

व्याख्या:

  • 32वें ग्रीष्मकालीन ओलंपियाड (टोक्यो 2020) को 23 जुलाई से 8 अगस्त, 2021 तक आयोजित किया गया था। ओलंपिक खेल वर्ष 1948 से प्रत्येक चार वर्ष में आयोजित किये जाते हैं। हालाँकि टोक्यो ओलंपिक खेल, 2020 के आयोजन को कोविड महामारी के कारण वर्ष 2021 तक के लिये स्थगित कर दिया गया था।
  • ओलंपिक खेल, 2020 के लिये आधिकारिक आदर्श वाक्य- "यूनाइटेड बाय इमोशन"(United by Emotion) था। इस आदर्श वाक्य ने विविध पृष्ठभूमि के लोगों को एक साथ लाने के लिये खेल की क्षमता पर बल दिया और उन्हें इस तरह से जुड़ने एवं जश्न मनाने की अनुमति दी जो प्रचलित मतभेदों से परे हो। अतः कथन 1 सही नहीं है।
  • टोक्यो ओलंपिक खेल, 2020 में रग्बी, स्पोर्ट क्लाइंबिंग, फेंसिंग, फुटबॉल, स्केटबोर्डिंग, हैंडबॉल, सर्फिंग, कराटे, बेसबॉल सहित कुल 46 ओलंपिक खेलों को शामिल किया गया। अत: कथन 2 सही है।

स्रोत: इंडियन एक्सप्रेस


प्रारंभिक परीक्षा

महेश्वर बाँध: नर्मदा नदी

मध्य प्रदेश सरकार ने महेश्वर जलविद्युत परियोजना से विद्युत खरीदने के लिये सहमत होने के लगभग तीन दशक बाद उसके साथ सभी अनुबंध रद्द कर दिये हैं।

  • परियोजना को खराब वित्तीय ट्रैक रिकॉर्ड, कई अनियमितताओं और भ्रष्टाचार के आरोप एवं 61 गाँवों के जलमग्न होने के कारण रद्द किया गया।
  • महेश्वर बाँध नर्मदा घाटी विकास परियोजना के बड़े बाँधों में से एक है, जिसमें नर्मदा घाटी में 30 बड़े और 135 छोटे बाँधों के निर्माण की परिकल्पना की गई है।

नर्मदा नदी:

  • परिचय:
    • नर्मदा नदी, पश्चिम की ओर बहने वाली प्रायद्वीपीय क्षेत्र की सबसे बड़ी नदी है जो उत्तर में विंध्य रेंज और दक्षिण में सतपुड़ा रेंज के बीच एक भ्रंश घाटी से होकर बहती है।
      • नर्मदा नदी, मध्य भारत के उस क्षेत्र से होकर बह रही है जहाँ भूमि का ढाल पूर्व से पश्चिम की ओर नहीं है लेकिन यह भ्रंश घाटियों के कारण पश्चिम की ओर बह रही है।
    • यह मध्य प्रदेश में अमरकंटक के पास मैकाल श्रेणी से निकलती है।
    • यह महाराष्ट्र और गुजरात राज्यों के कुछ क्षेत्रों के अलावा मध्य प्रदेश के बड़े क्षेत्र में प्रवाहित होती है।
    • जबलपुर (मध्य प्रदेश) के पास नदी धुआँधार जलप्रपात बनाती है।
    • नर्मदा के मुहाने में कई द्वीप हैं जिनमें से अलीबेट सबसे बड़ा है।
  • प्रमुख सहायक नदियाँ: हिरन, ओरसांग, बरना और कोलार।
  • जलविद्युत परियोजनाएँ: इंदिरा सागर, सरदार सरोवर, महेश्वर आदि।
  • नर्मदा बचाओ आंदोलन (NBA):
    • यह नर्मदा नदी पर कई बड़ी बाँध परियोजनाओं के खिलाफ स्थानीय जनजातियों (आदिवासियों), किसानों, पर्यावरणविदों और मानवाधिकार कार्यकर्त्ताओं द्वारा संचालित भारतीय सामाजिक आंदोलन है।
    • गुजरात में सरदार सरोवर बाँध, नर्मदा नदी पर सबसे बड़े बाँधों में से एक है और आंदोलन के पहले केंद्र बिंदुओं में से एक था।

Narmada-River

  विगत वर्षों प्रश्न  

नर्मदा नदी पश्चिम की ओर बहती है, जबकि अधिकांश अन्य बड़ी प्रायद्वीपीय नदियाँ पूर्व की ओर बहती हैं, क्यों? (2013)

  1. यह एक रेखीय भ्रंश घाटी में स्थित है।
  2. यह विंध्य और सतपुड़ा के बीच बहती है।
  3. भूमि का ढलान मध्य भारत से पश्चिम की ओर है।

नीचे दिये गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिये:

(a) केवल 1
(b) केवल 2 और 3
© केवल 1 और 3
(d) इनमें से कोई नहीं

उत्तर: (a)

स्रोत: डाउन टू अर्थ


विविध

Rapid Fire (करेंट अफेयर्स): 01- अक्तूबर, 2022

अंतर्राष्ट्रीय  वृद्धजन दिवस

प्रत्येक वर्ष 1 अक्तूबर को संपूर्ण विश्व में अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस (International Day of Elderly Persons) के रूप में मनाया जाता है। संपूर्ण विश्व में बुजुर्गों के प्रति हो रहे दुर्व्यवहार और अन्याय को समाप्त करने, लोगों में जागरुकता बढ़ाने तथा वृद्धों की सामजिक-आर्थिक स्थिति को मज़बूत करने के लिये 14 दिसंबर, 1990 को संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा प्रत्येक वर्ष '1 अक्तूबर' को 'अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस' के रूप में मनाने का निर्णय लिया गया। 1 अक्तूबर, 1991 को पहली बार 'अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस' मनाया गया था। अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस, 2022 की थीम: “बदलती दुनिया में वृद्धजनों का अनुरूपण” (Resilience of Older Persons in a Changing World) है।

भारतीय मोबाइल काॅन्ग्रेस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 01 अक्तूबर, 2022 को नई दिल्ली में 5G सेवाओं की शुरुआत की। यह तकनीक बिना बिलंब के अत्यधिक डेटा दर और उच्च विश्वसनीय संचार प्रदान करेगी। 5G तकनीक ऊर्जा, स्पेक्ट्रम और नेटवर्क की दक्षता में भी वृद्धि करेगी। सरकार का लक्ष्य दो वर्षों में पूरे देश में 5G सेवाओं की सुविधाएँ उपलब्ध कराना है। इसके लिये करीब तीन लाख करोड़ रुपए का निवेश किया जाएगा। डिजिटल कनेक्टिविटी सरकार के प्रमुख नीतिगत कार्यक्रमों डिजिटल इंडिया, स्टार्टअप इंडिया और मेक इन इंडिया का महत्त्वपूर्ण हिस्‍सा रही है। प्रधानमंत्री भारतीय मोबाइल काॅन्ग्रेस (IMC) के छठे संस्करण का भी उद्घाटन किया। 04 अक्तूबर तक चलने वाले IMC 2022 का विषय है- नया डिजिटल ब्रह्मांड। 


एसएमएस अलर्ट
Share Page