हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

कला की दुनिया से

हिंदी सिनेमा को शेक्सपियर से परिचित कराने वाला फिल्मकार

16 Nov, 2021 | सुंदरम आनंद

कौन भरोसा करेगा कि जो फ़िल्मकार शेक्सपियर के नाटकों को रुपहले परदे में उतारने का हुनर रखता है वो पेशेवर क्रिकेटर हुआ करता था। यह दिलचस्प प्रसंग है फिल्मकार विशाल भारद्वाज...

व्यक्तित्त्व : जिन्हें हम पसंद करते हैं

दिलीप कुमार : कोई क्‍या कहे, क्‍या-क्‍या कहे, कितना कहे, कैसे कहे!

07 Jul, 2021 | सुंदरम आनंद

‘लार्जर दैन लाइफ’ एक ऐसा फिकरा है जिसका इस्‍तेमाल अमूमन तब किया जाता है, जब किसी व्‍यक्ति या काल्‍पनिक पात्र की लोकप्रियता, उसका आभामंडल हमारी कल्‍पना की सीमाओं को...

एसएमएस अलर्ट
Share Page