हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

State PCS Current Affairs

छत्तीसगढ़

मुख्यमंत्री ने जैव-विविधता पर केंद्रित दो लघु वृत्तचित्रों का लोकार्पण तथा विभिन्न लेखकों की 6 पुस्तकों का विमोचन किया

  • 23 May 2022
  • 3 min read

चर्चा में क्यों?

22 मई, 2022 को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अंतर्राष्ट्रीय जैव-विविधता दिवस के अवसर पर आयोजित ‘परिचर्चा एवं पुरस्कार वितरण’कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ की जैव-विविधता पर केंद्रित दो लघु वृत्तचित्रों का लोकार्पण तथा विभिन्न लेखकों की 6 पुस्तकों का विमोचन किया।

प्रमुख बिंदु

  • उन्होंने मनेंद्रगढ़ वनमंडल द्वारा तैयार किये जा रहे मैरिन फॉसिल्स पार्क पर आधारित फिल्म ‘छत्तीसगढ़ में जीवन चिह्न: मानव अस्तित्व के परे’तथा राज्य के वनक्षेत्रों में पाए जाने वाले शैलचित्रों (केव पेंटिंग्स) पर आधारित फिल्म ‘प्रथम अभिव्यक्ति’का लोकार्पण किया।
  • इसके अलावा मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ की जैव-विविधता पर विभिन्न लेखकों की 6 पुस्तकों का विमोचन किया।
  • मुख्यमंत्री ने लेखक डॉ. शिवाजी चवन की पुस्तक ‘छत्तीसगढ़ स्टेट बायोडायवर्सिटी स्ट्रेटेजी एंड एक्शन प्लान, 2022-30’, भारतीय वन सेवा के अधिकारी रामकृष्णा की गुरु घासीदास टाइगर रिज़र्व में गुफा शैलचित्रों पर केंद्रित पुस्तक ‘शेड्स ऑफ पास्ट’, गौरव निहलानी तथा ज्ञानेंद्र पांडेय वसुंधरा प्राकृतिक संरक्षण समिति की पुस्तक ‘छत्तीसगढ़ में ईको पर्यटन - संभावनाएँ एवं चुनौतियां’का विमोचन किया।
  • इसी तरह उन्होंने शैलेंद्र उईके और भारतीय वन सेवा के श्रीनिवास टी. की पुस्तक ‘अ फिल्ड गाइड टू फॉरेस्ट ग्रासेस ऑफ छत्तीसगढ़’, डॉ. विवेक कुमार सिंघल तथा डॉ. हेमकांत चंद्रवंशी अंकित सेवा संस्थान की पुस्तक ‘बायोडायवर्सिटी इन छत्तीसगढ़्स स्वाइल’तथा ‘इनसेक्ट बायोडायवर्सिटी ऑफ छत्तीसगढ़’का भी विमोचन किया।
  • गौरतलब है कि 1993 में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने जैव-विविधता के मुद्दों की समझ और जागरूकता बढ़ाने के लिये 22 मई को अंतर्राष्ट्रीय जैव-विविधता दिवस के रूप में घोषित किया। इस दिन को विश्व जैव-विविधता दिवस के रूप में भी जाना जाता है।
एसएमएस अलर्ट
Share Page