हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

डेली अपडेट्स

प्रारंभिक परीक्षा

प्रिलिम्स फैक्ट: 21 अप्रैल, 2021

  • 21 Apr 2021
  • 2 min read

ध्रुव MK-III: एडवांस्ड लाइट हेलीकॉप्टर

Dhruv MK III: Advanced Light Helicopter

हाल ही में भारतीय नौसेना एयर स्क्वाड्रन (INAS) 323, स्वदेश निर्मित ALH (एडवांस्ड लाइट हेलीकॉप्टर) ध्रुव MK-III विमान की पहली इकाई, भारतीय नौसेना में कमीशन की गई।

Dhruv-MK-III

प्रमुख बिंदु:

  • स्वदेशी रूप से डिज़ाइन और विकसित एडवांस्ड लाइट हेलीकॉप्टर ‘ध्रुव’ (ALH-DHRUV) 5.5 टन भार वर्ग में एक ट्विन इंजन, मल्टी-रोल, मल्टी-मिशन वाला नई पीढ़ी का हेलीकॉप्टर है।
  • यह हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) द्वारा निर्मित ‘शक्ति इंजन’ के साथ निर्मित एक मल्टी-रोल हेलिकॉप्टर है।
    • HAL भारतीय स्वामित्व वाली एयरोस्पेस और रक्षा कंपनी है, जिसका मुख्यालय भारत के बंगलूरू में है। यह रक्षा मंत्रालय के प्रबंधन के तहत शासित है।
    • HAL ने वर्ष 1984 में एडवांस्ड लाइट हेलीकॉप्टर प्रोग्राम की संकल्पना की। ध्रुव के प्रमुख वेरिएंट्स को ध्रुव MK- I, MK- II, MK- III और MK-IV के रूप में वर्गीकृत किया गया है।

विशेषताएँ:

  • यह एयरक्राफ्ट MK-1 से एक कदम आगे है जो रात में कम दृश्यता के दौरान भी खोज और बचाव कार्यों को करने में सक्षम होगा।
  • यह 0.7 मिमी की बंदूक से युक्त है, जो एक लिमो (LIMO-कम तीव्रता के समुद्री संचालन) दृष्टिकोण से इसे विशाल क्षमता प्रदान करेगी।
  • यह स्वचालित उड़ान नियंत्रण प्रणाली पिछली प्रणालियों से बेहतर है।

भूमिका:

  • ALH के Mk-III संस्करण में ग्लास कॉकपिट का प्रयोग किया गया है जिसका उपयोग खोज और बचाव, विशेष संचालन तथा तटीय निगरानी के लिये किया जाएगा।
एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close