प्रयागराज शाखा पर IAS GS फाउंडेशन का नया बैच 10 जून से शुरू :   संपर्क करें
ध्यान दें:

डेली अपडेट्स


रैपिड फायर

मसान होली

  • 27 Mar 2024
  • 1 min read

स्रोत: द हिंदू 

मसान होली वाराणसी में मनाया जाने वाला दो दिवसीय विशेष कार्यक्रम है। इस उत्सव के दौरान लोग एक-दूसरे पर चिता की राख और गुलाल लगाते हैं। इस आयोजन को मरण का उत्सव मनाने के रूप में भी जाना जाता है।

  • इस उत्सव के दौरान कई लोग नदी के किनारे अथवा घाट पर बड़ी संख्या में एकजुट होते हैं। वे नाचते हैं, गाते हैं और "हर-हर महादेव" का जाप करते हैं।
  • उत्पत्ति: वाराणसी में मसान होली की रस्म होलिका-प्रहलाद की पौराणिक घटना की स्मृति में चिता की राख का उपयोग कर मनाई जाती है।

महत्त्व:

  • वाराणसी की मसान होली में चिता की राख का उपयोग जीवन की अल्पता और इस भौतिकवादी दुनिया में मनुष्य के अस्तित्त्व की चक्रीय प्रकृति का प्रतीक है।
  • ऐसा माना जाता है कि मसान होली में इस्तेमाल की जाने वाली राख में शुद्धिकरण गुण होते हैं जो शरीर, मन और आत्मा की अशुद्धियों को दूर करते हैं।
  • होली के दौरान एक-दूसरे को राख लगाकर, लोग आध्यात्मिक कायाकल्प और आंतरिक शुद्धि की कामना करते हैं
close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2