हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

डेली अपडेट्स

भारतीय अर्थव्यवस्था

लघु वित्त बैंक (SFB)

  • 07 Jan 2020
  • 4 min read

प्रीलिम्स के लिये:

सहकारी बैंक, लघु वित्त बैंक

मेन्स के लिये:

भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा शहरी सहकारी बैंकों लघु वित्त बैंकों में परिवर्तित करने के संदर्भ में दिये गए दिशा-निर्देश

चर्चा में क्यों?

हाल ही में शिवालिक मर्केंटाइल सहकारी बैंक लिमिटेड (Shivalik Mercantile Co-operative Bank Limited) को भारतीय रिज़र्व बैंक (Reseve Bank of India- RBI) द्वारा ‘लघु वित्त बैंक’ (Small Finance Bank-SFB) का दर्जा प्रदान किया गया है।

मुख्य बिंदु:

  • भारतीय रिज़र्व बैंक (Reseve Bank of India- RBI) ने 27 सितंबर, 2018 को शहरी सहकारी बैंकों (Urban Co-operative Bank-UCB) को स्वेच्छा के आधार पर लघु वित्तीय बैंक का दर्जा देने की योजना प्रारंभ की थी।
  • शिवालिक मर्केंटाइल सहकारी बैंक का SFB में यह परिवर्तन 18 महीनों के लिये मान्य होगा, इस अवधि के दौरान इस बैंक को SFB के सभी मानकों का पालन करना होगा।
  • इस बात से संतुष्ट होने पर कि आवेदक ने अनुमोदन के लिये निर्धारित अपेक्षित शर्तों का अनुपालन किया है, RBI इसे SFB के रूप में बैंकिंग व्यवसाय शुरू करने के लिये लाइसेंस देने पर विचार करेगा।

निजी क्षेत्र में लघु वित्त बैंकों का लाइसेंस प्रदान करने संबंधी RBI के दिशा-निर्देश:

  • इसके तहत आवेदक बैंक की न्यूनतम आवश्यक पूंजी को बढ़ाकर 200 करोड़ रुपए कर दिया गया है।
  • RBI ने शहरी सहकारी बैंक जो कि ऐच्छिक रूप से लघु वित्त बैंक में परिवर्तित होना चाहते हैं, के लिये आवश्यक पूंजी की सीमा 100 करोड़ रुपए निर्धारित की है।
    • उल्लेखनीय है कि ऐसे बैंकों को परिचालन आरंभ होने के अगले 5 वर्षों में अपने निवल मूल्य को बढ़ाकर 200 करोड़ रुपए करना होगा।
  • निर्देश के अनुसार, लघु वित्त बैंकों को कारोबार शुरू करते ही अनुसूचित बैंक का दर्जा दिया जाएगा और इन्हें बैंकिंग आउटलेट्स खोलने की सामान्य अनुमति प्राप्त होगी।
  • पेमेंट्स बैंक भी 5 वर्ष के परिचालन के बाद लघु वित्त बैंक में परिवर्तन के लिये आवेदन कर सकते हैं।

शिवालिक मर्केंटाइल सहकारी बैंक:

  • बहुराज्यीय सहकारी समिति अधिनियम के तहत पंजीकृत शिवालिक मर्केंटाइल सहकारी बैंक का संचालन मध्य प्रदेश के पाँच ज़िलों, उत्तराखंड के दो ज़िलों, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में किया जाता है।
  • वर्ष 2010 में शिवालिक मर्केंटाइल सहकारी बैंक ने मध्य प्रदेश के धार ज़िले में स्थित ‘भोज नागरिक सहकारी बैंक मर्यादित’ का अधिग्रहण किया था और वर्ष 2012 में मालवा वाणिज्यिक सहकारी बैंक लिमिटेड का अधिग्रहण किया था।
  • इस बैंक के दो मुख्यालय नोएडा तथा सहारनपुर में स्थित हैं।

स्रोत- द हिंदू

एसएमएस अलर्ट
Share Page