हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:
झारखण्ड संयुक्त असैनिक सेवा मुख्य प्रतियोगिता परीक्षा 2016 -परीक्षाफलछत्तीसगढ़ पीसीएस प्रश्नपत्र 2019छत्तीसगढ़ पी.सी.एस. (प्रारंभिक) परीक्षा, 2019 (महत्त्वपूर्ण अध्ययन सामग्री).छत्तीसगढ़ पी.सी.एस. प्रारंभिक परीक्षा – 2019 सामान्य अध्ययन – I (मॉडल पेपर )
हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स (Hindi Literature: Pendrive Course)
मध्य प्रदेश पी.सी.एस. (प्रारंभिक) परीक्षा , 2019 (महत्वपूर्ण अध्ययन सामग्री)मध्य प्रदेश पी.सी.एस. परीक्षा मॉडल पेपर.Download : उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (प्रवर) प्रारंभिक परीक्षा 2019 - प्रश्नपत्र & उत्तर कुंजीअब आप हमसे Telegram पर भी जुड़ सकते हैं !यू.पी.पी.सी.एस. परीक्षा 2017 चयनित उम्मीदवार.UPSC CSE 2020 : प्रारंभिक परीक्षा टेस्ट सीरीज़

डेली अपडेट्स

शासन व्यवस्था

करियर प्रशिक्षण कार्यक्रम

  • 30 May 2020
  • 5 min read

प्रीलिम्स के लिये:

नेशनल करियर सर्विस, करियर प्रशिक्षण कार्यक्रम

मेन्स के लिये:

रोज़गार सृजन हेतु सरकार द्वारा किये गए प्रयास 

चर्चा में क्यों?

‘नेशनल करियर सर्विस’ (National Career Service- NCS) और ‘टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज़ आईओएन’ (Tata Consultancy Services ION) की संयुक्त पहल से नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों के लिये नि:शुल्क ऑनलाइन ‘करियर प्रशिक्षण कार्यक्रम’ (Career Skills Training) शुरू किया गया।

प्रमुख बिंदु:

  • उल्लेखनीय है कि ‘करियर प्रशिक्षण कार्यक्रम’ द्वारा उम्मीदवारों के व्यक्तित्व का विकास तथा वर्तमान में उद्योगों में कौशल की मांग के अनुरूप प्रशिक्षित किया जाएगा।
  • यह प्रशिक्षण कार्यक्रम ‘नेशनल करियर सर्विस’ पोर्टल पर हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में उपलब्ध है।
  • ‘नेशनल करियर सर्विस’ पोर्टल पर रोज़गार संबंधी सभी सेवाएँ जैसे कि रोज़गार की खोज, करियर परामर्श, व्यावसायिक मार्गदर्शन, कौशल विकास, प्रशिक्षुता, इंटर्नशिप, आदि की जानकारी प्रदान की जाएगी।
  • ‘नेशनल करियर सर्विस’ पोर्टल पर लगभग 1 करोड़ सक्रिय नौकरी के इच्छुक उम्मीदवार और लगभग 54 हजार नियोक्ता पंजीकृत हैं। साथ ही पोर्टल के माध्यम से लगभग 73 लाख नियुक्तियाँ की गई हैं।
  • देशभर में 1000 रोज़गार कार्यालयों (जिनमें 200 मॉडल करियर केंद्र) को ‘नेशनल करियर सर्विस’ पोर्टल से जोड़ा गया है।
  • नौकरी खोजने वालों के लिये ‘नेशनल करियर सर्विस’ पोर्टल के मुख्य पेज पर ही ‘घर से काम करने वाली नौकरियाँ (Work from Home Jobs) और ‘ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम’ का एक विशेष लिंक भी बनाया गया है।
  • इस पोर्टल पर नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों के लिये वीडियो प्रोफाइल बनाने की भी सुविधा प्रदान की गई है। इस वीडियो प्रोफाइल क्लिप के माध्यम से नौकरी के इच्छुक उम्मीदवार नियोक्ताओं को अपनी कार्यक्षमता दिखा सकते हैं।

अन्य पहल:

  • इस नि:शुल्क ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम के अलावा COVID-19 के कारण लागू लॉकडाउन से श्रम बाज़ार में उत्पन्न चुनौतियों को कम करने हेतु अन्य पहल भी किये गए हैं जैसे-
    • नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों और नियोक्ताओं के बीच की दूरी को कम करने के लिये ऑनलाइन नौकरी मेलों का आयोजन किया गया जहाँ नौकरियाँ प्रकाशित करने से लेकर उम्मीदवारों के चयन तक की पूर्ण प्रक्रिया पोर्टल के माध्यम से ही पूरी की जा सकेगी।
    • लॉकडाउन की अवधि के दौरान अब तक 76 ऑनलाइन नौकरी मेलों का आयोजन किया जा चुका हैं।

निष्कर्ष:

  • ‘करियर प्रशिक्षण कार्यक्रम’ के माध्यम से रोज़गार सृजन में वृद्धि होगी साथ ही यह कार्यक्रम नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों को वर्तमान में उद्योगों की मांग को समझने में मददगार साबित होगा। आज जहाँ रोज़गार के सीमित अवसर दिख रहे हैं वहीं कृत्रिम बुद्धिमत्ता एवं डिजिटल तकनीक के विस्तार ने चुनौतियाँ और भी बढ़ा दी हैं, इन चुनौतियों से निपटने में यह कार्यक्रम मील का पत्थर साबित हो सकता है। 

नेशनल करियर सर्विस

(National Career Service- NCS):

  • 20 जुलाई, 2015 को ‘नेशनल करियर सर्विस’ की शुरुआत की गई थी। यह एक पंचवर्षीय मिशन मोड परियोजना (Five Year Mission Mode Project) है।
  • यह पोर्टल श्रम एवं रोज़गार मंत्रालय (Ministry of Labour & Employment) के अधीन है।
  • नेशनल करियर सर्विस भारत के नागरिकों को रोज़गार और कैरियर संबंधी सेवाओं की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदान करता है।
  • यह पोर्टल नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों और नियोक्ताओं के बीच की दूरी को कम करने की दिशा में कार्य करता है।

स्रोत: पी.आई.बी.

एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close