हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

डेली अपडेट्स

शासन व्यवस्था

दूरस्थ शिक्षा कार्यक्रम

  • 04 Apr 2020
  • 5 min read

प्रीलिम्स के लिये:

COVID-19, NIOS, दीक्षा पोर्टल

मेंस के लिये:

COVID-19 से निपटने हेतु भारत सरकार द्वारा किये गए प्रयास

चर्चा में क्यों?

केंद्र सरकार आगामी शैक्षणिक वर्ष को आभासी (Virtually) रूप में शुरू करने की योजना बना रही है।

प्रमुख बिंदु:

  • गौरतलब है कि देश भर में मार्च की शुरुआत से ही (लॉकडाउन से पहले ही) COVID-19 महामारी के कारण कई स्कूल  बंद हैं।
  • केंद्र सरकार ने अंग्रेजी और हिंदी में समर्पित टीवी तथा रेडियो चैनलों के माध्यम से दूरस्थ शिक्षा कार्यक्रम फिर से शुरू करने की योजना बनाई है।
    • दरअसल स्वयंप्रभा 32 डीटीएच चैनलों का एक समूह के साथ एक पहले से मौजूद कार्यक्रम है जो जीसैट -15 उपग्रह का उपयोग करते हुए 24X7 के आधार पर उच्च गुणवत्ता वाले शैक्षिक कार्यक्रमों का प्रसारण करने के लिये समर्पित है।
  • राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान (National Institute of Open Schooling- NIOS) को स्कूल कक्षाओं के लिये एक संरचित कार्यक्रम बनाने की ज़िम्मेदारी सौंपी गई है। 
    • यह प्रयास राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (National Council of Educational Research and Training-NCERT) के साथ उसके पाठ्यक्रम का उपयोग करके किया जा रहा है।  

राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान

(National Institute of Open Schooling- NIOS):

  • NIOS एक 'मुक्त विद्यालय' है जो पूर्व-स्नातक स्तर तक के विभिन्न प्रकार के शिक्षार्थियों को शिक्षा प्रदान करता है।
  • मानव संसाधन विकास मंत्रालय (Ministry of Human Resource Development- MHRD), द्वारा नवंबर 1989 में राष्ट्रीय मुक्त विद्यालय की स्थापना की गई थी।
  • मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा जुलाई, 2002 में राष्ट्रीय मुक्त विद्यालय का नाम बदलकर राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान कर दिया गया । 
  • इसका उद्देश्य औपचारिक प्रणाली के विकल्प के रूप में मुक्त शिक्षा प्रणाली द्वारा
  • प्राथमिकता प्राप्त शिक्षार्थी समूहों को पूर्व-स्नातक स्तर की शिक्षा प्रदान करना है। 

राज्य बोर्डों के लिये:

  • राज्यों के लिये दीक्षा (Digital Infrastructure for Knowledge Sharing- DIKSHA) पोर्टल को स्थानीय भाषाओं में सामग्री प्रदान करने के लिये एक मंच के रूप में प्रदान किया गया है।
  • यदि राज्य स्थानीय भाषाओं में शैक्षिक सामग्री (Content) प्रस्तुत करने के इच्छुक हैं, तो केंद्र सरकार उन्हें चैनल पर 2-3 घंटे उपलब्ध करा सकती है।

दीक्षा पोर्टल (DIKSHA Portal):

  • मानव संसाधन विकास मंत्रालय (Ministry of Human Resource Development- MHRD) द्वारा शिक्षकों के लिये राष्ट्रीय डिजिटल माध्यम दीक्षा पोर्टल की शुरुआत की गई।
  • दीक्षा पोर्टल की शुरुआत शिक्षक समुदाय को समाचार, किसी प्रकार की घोषणा, आकलन तथा शिक्षक प्रशिक्षण सामग्री उपलब्ध कराने के लिये की गई थी।
  • इस पोर्टल पर शिक्षकों को ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों माध्यमों से प्रशिक्षण प्राप्त होगा।
  • यह पोर्टल शिक्षकों को टीचर एजुकेशन इंस्टीट्यूट (Teacher Education Institutes- TEIs) में शामिल होने के उद्देश्य से शिक्षकों को स्वयं निर्देशित करने में मदद करेगा।
  • यह नियमित स्कूल पाठ्यक्रम के बाद, NCERT पाठ्यपुस्तकों और पाठों (lessons) तक पहुँच प्रदान करता है।

स्रोत: द हिंदू

एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close