इंदौर शाखा: IAS और MPPSC फाउंडेशन बैच-शुरुआत क्रमशः 6 मई और 13 मई   अभी कॉल करें
ध्यान दें:

डेली न्यूज़


शासन व्यवस्था

संयुक्त राज्य अमेरिका में टैक्स हैवन

  • 12 Oct 2021
  • 8 min read

प्रिलिम्स के लिये:

टैक्स हैवन, मनी लॉड्रिंग, पैंडोरा पेपर्स

मेन्स के लिये:

टैक्स हैवन का वैश्विक अर्थव्यवस्था पर प्रभाव, कर चोरी से संबंधित मुद्दे

चर्चा में क्यों?

हाल ही में एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है कि कैसे दुनिया के नेता और दुनिया के कुछ सबसे अमीर लोग संयुक्त राज्य अमेरिका (US) में अपना धन छिपाते हैं।

  • रिपोर्ट की जानकारी ने टैक्स हैवन के विकास के लिये नई जाँच प्रणाली शुरू की है।
  • पैंडोरा पेपर्स के जारी होने से अभिजात वर्ग और भ्रष्ट लोगों के वित्तीय लेन-देन के मामले प्रकाश में आए हैं कि कैसे उन्होंने संपत्ति में खरबों डॉलर को टैक्स से बचाने के लिये बाहरी खातों और टैक्स हैवन का उपयोग किया है।

प्रमुख बिंदु

  • परिचय:
    • रिपोर्ट ने संयुक्त राज्य अमेरिका में फैले ट्रस्टों (सामान्यत: अपतटीय देशों के साथ) में गुप्त खातों का भी खुलासा किया, जिसमें दक्षिण डकोटा में 81, फ्लोरिडा में 37 और डेलावेयर में 35 खाते शामिल हैं।
  • अमेरिका के राज्यों के टैक्स हैवन बनने का कारण:
    • शाश्वतता के खिलाफ कोई नियम नहीं:
      • इन राज्यों के सांसदों ने शाश्वतता के खिलाफ नियम को समाप्त कर दिया है जिसने तथाकथित राजवंश ट्रस्टों की स्थापना की अनुमति दी है, जिसमें संघीय संपत्ति करों से बचते हुए पीढ़ी-दर-पीढ़ी धन स्थानांतरित किया जा सकता है।
        • शाश्वतता एक प्रकार की वार्षिकी है जो हमेशा के लिये रहती है। नकदी प्रवाह की धारा अनंत काल तक जारी रहती है।
    • एसेस्ट प्रोटेक्शन ट्रस्ट:
      • कुछ राज्य संपत्ति संरक्षण ट्रस्टों को भी अनुमति देते हैं, जो लेनदारों के खिलाफ दावों से धन की रक्षा करते हैं। इस तरह के ट्रस्ट अमीर वकीलों और डॉक्टरों को अपनी संपत्ति को कदाचार के दावों से बचाने हेतु आकर्षित कर सकते हैं।
    • ट्रस्टों पर टैक्स का प्रावधान नहीं:
      • टैक्स से बचना एक और बड़ा गैप (ड्रा) है, जबकि अधिकांश राज्य ट्रस्ट की आय पर कर लगाते हैं, डेलावेयर में स्थापित ट्रस्ट उस स्थिति में राज्य आयकर के अधीन नहीं हैं यदि लाभार्थी डेलावेयर निवासी नहीं हैं। 
      • साउथ या दक्षिण डकोटा व्यक्तिगत आय, कॉर्पोरेट आय या पूंजीगत लाभ पर कर नहीं लगाता है।
    • गोपनीयता की सुरक्षा
      • साउथ डकोटा ट्रस्टों में रखी संपत्तियों के लिये व्यापक गोपनीयता सुरक्षा प्रदान करता है, जिसमें ट्रस्ट से संबंधित अदालती दस्तावेज़ों और अदालती कार्यवाही को प्रतिबंधित करना शामिल है।
      • डेलावेयर लिमिटेड लायबिलिटी कंपनियों (LLC) को पंजीकृत करने के लिये एक लोकप्रिय स्थान है, जिसमें विशेष रूप से संपत्ति या वित्तीय लेन-देन को छिपाने हेतु स्थापित शेल कंपनियाँ शामिल हो सकती हैं। डेलावेयर कानून को LLC मालिकों या सदस्यों के नामों के सार्वजनिक प्रकटीकरण की आवश्यकता नहीं है।
  • राज्यों को लाभ:
    • ट्रस्ट उद्योग न केवल धनी लोगों और उन कंपनियों के लिये लाभदायक हो सकता है जो उन्हें संपत्ति बचाने में मदद करते हैं, बल्कि सरकारी भंडार को भी आकर्षित कर सकता है। राज्य सरकारें ट्रस्ट कंपनियों द्वारा भुगतान किये गए उच्च मताधिकार कर अर्जित कर रही हैं।
      • एक मताधिकार कर एक कानूनी इकाई के रूप में अस्तित्व के अधिकार के लिये और एक विशेष क्षेत्राधिकार के भीतर व्यापार करने के लिये कुछ व्यवसायों पर लगाया जाने वाला राज्य कर है।
  • उठाए गए कदम:
    • जबकि अमेरिकी कॉन्ग्रेस कुछ विदेशी ग्राहकों के साथ काम करने वाली ट्रस्ट कंपनियों की कड़ी जाँच की मांग कर रही है, डेलावेयर में पेंडोरा पेपर्स की प्रतिक्रिया अब तक निष्क्रिय रही है।
    • इस बीच संघीय अधिकारियों ने कॉर्पोरेट पारदर्शिता अधिनियम के इस वर्ष की शुरुआत में अधिनियमित होने के साथ कुछ गोपनीयता सुरक्षा का लक्ष्य रखा है।
      • इसका उद्देश्य बेनाम मुखौटा कंपनियों पर प्रतिबंध लगाना है, जिनका उपयोग अपराधियों और विदेशी अधिकारियों ने वित्तीय लेन-देन को छिपाने और धन को कानूनी रूप  प्रदान करने के लिये किया है, लेकिन इसमें छूट एवं अपवाद शामिल हैं। 

टैक्स हैवन

  • परिचय:
    • टैक्स हैवन आमतौर पर एक अपतटीय देश होता है  जहाँ राजनीतिक और आर्थिक रूप से स्थिर वातावरण में विदेशी नागरिकों एवं व्यवसायों को बहुत कम या कोई कर नहीं देना पड़ता है।
    • टैक्स हैवन देशों की विशेषताओं में आमतौर पर कम आय कर, सूचना की न्यूनतम रिपोर्टिंग, पारदर्शिता दायित्वों की कमी, प्रत्यक्ष उपस्थिति की आवश्यकता नहीं और टैक्स हैवन वाहनों का विपणन शामिल है।
    • सामान्य तौर पर टैक्स हैवन देशों के नागरिकों और व्यवसायों को उनकी कर नीतियों से लाभ उठाने के लिये निवास या व्यावसायिक उपस्थिति की आवश्यकता नहीं होती है।
    • व्यक्तियों और निगमों को संभावित रूप से विदेशों में आय पर लगाए गए कम या बिना करों से लाभ हो सकता है जहाँ कानून के अनुसार कमियाँ, क्रेडिट या अन्य विशेष कर विचारों की अनुमति दी जा सकती है।
  • लोकप्रिय टैक्स हैवन: 
    • लोकप्रिय टैक्स हैवन: कुछ सबसे लोकप्रिय टैक्स हैवन देशों की सूची में अंडोरा, बहामास, बरमूडा, चैनल आइलैंड्स, कुक आइलैंड्स, हॉन्गकॉन्ग, मॉरीशस, लिचेंस्टीन, मोनाको, पनामा, ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड्स और केमैन आइलैंड्स शामिल हैं।
  • नियामकीय निरीक्षण:  
    • दुनिया भर में विदेशी/अपतटीय निवेश रिपोर्टिंग के प्रवर्तन को बढ़ाने के लिये कुछ कार्यक्रम हैं। 
    • वित्तीय सूचना का स्वचालित आदान-प्रदान इसका एक उदाहरण है, जिसकी निगरानी आर्थिक सहयोग और विकास संगठन (OECD) द्वारा की जाती है।

स्रोत: इंडियन एक्सप्रेस

close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2