इंदौर शाखा: IAS और MPPSC फाउंडेशन बैच-शुरुआत क्रमशः 6 मई और 13 मई   अभी कॉल करें
ध्यान दें:

डेली न्यूज़


भारतीय अर्थव्यवस्था

फिनटेक से संबंधित मुद्दों हेतु संचालन समिति

  • 10 Sep 2019
  • 5 min read

चर्चा में क्यों?

फिनटेक से संबंधित मुद्दों पर गठित संचालन समिति ने वित्‍त मंत्रालय को अपनी अंतिम रिपोर्ट सौंपी।

प्रमुख बिंदु:

  • फिनटेक से संबंधित मुद्दों पर संचालन समिति का गठन वित्‍त मंत्रालय के आर्थिक कार्य विभाग द्वारा किया गया था।
  • इस रिपोर्ट में भारत और विश्व में फिनटेक के वर्तमान परिदृश्‍य की रूपरेखा की जानकारी दी गई है, साथ ही इसके विकास से जुड़े विभिन्‍न विषयों का अध्‍ययन किया गया है।
  • इस समिति ने फिनटेक संबंधी विनियमों को और लचीला बनाने, MSME के माध्यम से वित्‍तीय समावेशन को बढ़ाने की सिफारिशें की हैं।
  • समिति की रिपोर्ट में शासन और वित्‍तीय सेवाओं में लागू करने वाले क्षेत्रों की पहचान की गई है तथा फिनटेक सेवाओं को सक्षम बनाने वाले विनियमों को अपग्रेड करने का सुझाव दिया गया है।
  • समिति ने भारतीय रिज़र्व बैंक से MSME क्षेत्र में नकदी प्रवाह के माध्यम से वित्‍तपोषण बढ़ाने की सिफारिश की है। इसके अतिरिक्त समिति द्वारा अवसंरचना और मानकीकरण के महत्त्व को भी इंगित किया गया है।
  • बीमा कंपनियों और ऋण देने वाली एजेंसियों को प्रोत्‍साहित करने की सिफारिश की गई जिससे फसल क्षेत्र के नुकसान आकलन के लिये ड्रोन और रिमोट सेंसिंग टेक्‍नोलॉजी का इस्‍तेमाल किया जा सके।
  • आर्टिफिशियल इनटेलिजेंस के प्रयोग को बढ़ाने के साथ ही साइबर अपराध तथा जालसाजी से निपटने हेतु और बेहतर तंत्र विकसित करने की बात कही गई।
  • फिनटेक के माध्यम से ऋण रजिस्‍ट्री तैयार किये जाने की बात कही गई जिससे सहकारी समितियों सहित कृषि वित्‍तीय संस्‍थानों द्वारा कोर बैंकिंग समाधानों का प्रयोग किया जा सके।
  • राष्‍ट्रीय भूमि रिकॉर्ड मानकों पर आधारित एक समर्पित राष्‍ट्रीय डिजिटल भूमि रिकॉर्ड मिशन स्‍थापित करने की सिफारिश की गई।
  • समिति ने फिनटेक और डिजिटल सेवाओं में वृद्धि के बढ़ने को ध्‍यान में रखते हुए उपभोक्‍ता संरक्षण के लिये एक विस्‍तृत कानूनी ढांँचा तैयार करने की सिफारिश की है।

फिनटेक क्या है?

  • फिनटेक (FinTech) Financial Technology का संक्षिप्त रूप है। वित्तीय कार्यों में प्रौद्योगिकी के उपयोग को फिनटेक कहा जा सकता है।
  • दूसरे शब्दों में यह पारंपरिक वित्तीय सेवाओं और विभिन्न कंपनियों तथा व्यापार में वित्तीय पहलुओं के प्रबंधन में आधुनिक तकनीक का कार्यान्वयन है।
  • बैंक में पहले किसी विवरण को रजिस्टर पर लिखा जाता था जिसमें काफी समय भी लगता था। वर्तमान में अब बैंकिंग प्रणाली में प्रौद्योगिकी के प्रयोग से कोर बैंकिंग सिस्टम प्रचलन में आ गया है और इससे बैंकिंग प्रणाली आसान हो गई है। इस प्रकार की वित्तीय प्रौद्योगिकी को फिनटेक कहा जाता है।
  • बैंकों द्वारा फिनटेक के माध्यम से मोबाइल वॉलेट सर्विस तथा UPI और भीम एप लॉन्च करके बैंकिंग प्रणाली को आसान बनाया जा रहा है।
  • फिनटेक बैंकों के लिये भुगतान, नकद हस्तांतरण जैसी सेवाओं में काफी मददगार साबित हो रहा है, साथ ही यह देश के दूरदराज़ के इलाकों तक बैंकिंग सेवाएँ भी उपलब्ध करा रही है।
  • देश में आज पेटीएम, मोबीक्विक और फ्रीचार्ज जैसी कंपनियाँ तेज़ी से आगे बढ़ रही हैं तथा बैंकों के साथ समन्वय से छोटी कंपनियों को भी अपने नए आइडिया पर काम करने का मौका मिल रहा है।
  • सरकार द्वारा देश की अर्थव्यवस्था को कैशलेस बनाने का प्रयास किया जा रहा है। फिनटेक कैशलेस अर्थव्यवस्था के प्रयासों में भी महत्त्वपूर्ण भूमिका निर्वहन करेगी।

स्रोत: द हिंदू

close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2
× Snow