Study Material | Prelims Test Series
ध्यान दें:

प्रीलिम्स फैक्ट्स

  • 10 Aug, 2019
  • 10 min read
प्रारंभिक परीक्षा

प्रीलिम्स फैक्ट्स: 10-07-2019

वुमन ट्रांसफॉर्मिंग इंडिया अवार्ड्स

Women Transforming India Awards

9 अगस्त, 2019 को दिल्ली में नीति आयोग ने वुमन ट्रांसफॉर्मिंग इंडिया अवार्ड्स (Women Transforming India Awards) का चौथा संस्करण लॉन्च किया।

Women Transforming

  • WhatsApp ने वुमन ट्रांसफॉर्मिंग इंडिया अवार्ड्स 2019 के लिये नीति आयोग के साथ सहयोग किया है।
  • पुरस्कार विजेताओं को 100,000 अमेरिकी डॉलर की सहायता राशि प्रदान की जाएगी।
  • यह पुरस्कार देश भर की महिला उद्यमियों को एक अलग पहचान देने के लिये संयुक्त राष्ट्र के सहयोग से आयोजित किये जा रहे हैं।
  • इस वर्ष की थीम ‘वुमन एंड एंटरप्रेन्योरशिप’ (Women and Entrepreneurship) अर्थात् महिला एवं उद्यमिता है।
  • महिला उद्यमिता मंच (Women Entrepreneurship Platform- WEP) नीति आयोग द्वारा चलाई जा रही भारत सरकार की पहल है।
  • इस मंच को भारत में उद्यमी बनने की इच्छा रखने वाली महिलाओं के साथ-साथ स्थापित महिला उद्यमियों को बढ़ावा एवं सहयोग देने, कार्य को आगे बढ़ाने तथा उनके उपक्रमों को विस्तार देने में मदद करने के लिये चलाया जा रहा है।

विश्‍व जैव ईंधन दिवस

World Biofuel Day

पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय (Ministry of Petroleum & Natural Gas) ने नई दिल्‍ली स्थित विज्ञान भवन में 10 अगस्‍त, 2019 को विश्‍व जैव ईंधन दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन किया।

World Biofuel Day

  • प्रत्येक वर्ष 10 अगस्‍त को विश्‍व जैव ईंधन दिवस (World Biofuel Day) मनाया जाता है।
  • इसका उद्देश्‍य पांरपरिक जीवाश्‍म ईंधनों के विकल्‍प के रूप में गैर-जीवाश्‍म ईंधनों के महत्त्व के बारे में जागरूकता बढ़ाना तथा जैव ईंधन क्षेत्र में सरकार द्वारा किये गए विभिन्‍न प्रयासों पर प्रकाश डालना है।
  • इस वर्ष विश्‍व जैव ईंधन दिवस की थीम ‘प्रयुक्‍त कुकिंग ऑयल से जैव डीज़ल का उत्‍पादन करना’ [Production of Biodiesel from Used Cooking Oil (UCO)] है।
  • वर्ष 2018 में भारत सरकार द्वारा जारी जैव ईंधन पर राष्ट्रीय नीति प्रयुक्‍त कुकिंग ऑयल (UCO) से जैव ईंधन के उत्पादन की परिकल्पना की गई थी।
  • भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (Food Safety and Standards Authority of India- FSSAI) द्वारा खाद्य मूल्य श्रृंखला से प्रयुक्‍त कुकिंग ऑयल को हटाने तथा वर्तमान में इसके अवैध उपयोग पर अंकुश लगाने की रणनीति को लागू किया जा रहा है।

विश्व स्तनपान सप्ताह (जननी पूर्ण स्नेह कार्यक्रम )

1 से 7 अगस्त, 2019 तक विश्व स्तनपान सप्ताह (World Breastfeeding Week) का आयोजन किया गया।

world breastfeeding

  • इसके तहत कई गतिविधियों का आयोजन व स्तनपान के संरक्षण, प्रचार और समर्थन पर ध्यान केंद्रित किया गया।
  • इस बार विश्व स्तनपान सप्ताह की थीम थी: ‘माता-पिता को सशक्त बनाना, स्तनपान को सक्षम करना (Empower Parents. Enable Breastfeeding)।

Breastfeeding

विश्व स्तनपान सप्ताह के उद्देश्य:

  • माता-पिता में स्तनपान को लेकर जागरूकता पैदा करना।
  • स्तनपान को अपनाने के लिये माता-पिता को प्रोत्साहित करना।
  • आरंभिक स्तनपान के महत्त्व को लेकर जागरूकता पैदा करना और पर्याप्त एवं उचित पूरक आहार की जानकारी देना ।
  • स्तनपान के महत्त्व से संबंधित सामग्री उपलब्ध कराना।

स्तनपान महत्वपूर्ण है क्योंकिः

  • यह माँ और बच्चे दोनों के बेहतर स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है।
  • यह प्रारंभिक अवस्था में दस्त और तीव्र श्वसन संक्रमण जैसे रोगों को रोकता है और इससे शिशु मृत्यु दर में कमी आती है।
  • यह माँ में स्तन कैंसर, अंडाशय के कैंसर, टाइप 2 मधुमेह और हृदय रोग होने के खतरे को कम करता है।
  • यह नवजात को मोटापे से संबंधित रोगों, मधुमेह/डायबिटीज से बचाता है और IQ बढ़ाता है ।

परिणाम

  • ऐसे प्रयासों से कुपोषण के दुष्चक्र को तोड़ने और सरकार को सतत् विकास लक्ष्यों (एसडीजी) को हासिल करने में मदद मिलेगी।
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार, स्तनपान को बढ़ाकर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ले जाने से प्रत्येक वर्ष 8,00,000 से ज़्यादा जीवन बचाने में मदद मिलेगी।

66वाँ राष्‍ट्रीय फिल्‍म पुरस्‍कार, 2018

हाल ही में 66वें फिल्म पुरस्कारों की घोषणा की गई

श्रेणी विजेता
सर्वश्रेष्ठ हिंदी फिल्म अंधाधुंध
सर्वश्रेष्ठ अभिनेता (साझा) आयुष्मान खुराना (अंधाधुंध ), विक्की कौशल (उरी)
सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री कीर्ति सुरेश
सर्वेश्रेष्ठ निर्देशक आदित्य धर (उरी)
सर्वश्रेष्ठ कोरियोग्राफर ज्योति (घूमर, पद्मावत)
सर्वश्रेष्ठ संगीत निर्देशक संजय लीला भंसाली
सर्वश्रेष्ठ फिल्म फ्रैंडली स्टेट उत्तराखंड
सर्वश्रेष्ठ शॉर्ट फीचर फिल्म खरवस
सर्वश्रेष्ठ फिल्म ऑन सोशल इश्यू पेडमेन
सर्वश्रेष्ठ स्पोर्ट्स फिल्म स्विमिंग थ्रू द डार्कनेस
सर्वश्रेष्ठ फिल्म क्रिटिक (हिंदी) अनंत विजय
सर्वश्रेष्ठ मराठी फिल्म भोंगा
सर्वश्रेष्ठ राजस्थानी फिल्म टर्टल
सर्वश्रेष्ठ गारो फिल्म अन्ना
सर्वश्रेष्ठ तमिल फिल्म बरम
सर्वश्रेष्ठ उर्दू फिल्म हामिद
सर्वश्रेष्ठ बंगाली फिल्म एक जे छिलो राजा
सर्वश्रेष्ठ मलयालम फिल्म सूडानी फ्रॉम नाइजीरिया
सर्वश्रेष्ठ तेलुगू फिल्म महांती


भारत का पहला इकोटॉक्सिकोलॉजी क्लिनिक

India’s First Ecotoxicology Clinic

नई दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (All India Institutes of Medical Sciences- AIIMS) ने पानी, भोजन एवं वायु को दूषित करने वाले पर्यावरण के विषाक्त पदार्थों के संपर्क में आने से रोगों के बढ़ते मामलों की जाँच के लिये भारत में पहली बार एक क्लिनिक इकोटॉक्सिकोलॉजी फैसिलिटी (Clinical Ecotoxicology Facility) की शुरुआत की है।

  • यह नई सुविधा क्लिनिकल परामर्श के साथ-साथ पारिस्थितिक विषाक्तता के कारण उत्पन्न बीमारियों से निपटने हेतु सभी क्लिनिकल विभागों को अनुसंधान सेवाएँ प्रदान करेगी।

इकोटॉक्सिकोलॉजी

Ecotoxicology

  • यह विज्ञान की एक शाखा है जो पर्यावरणीय संस्थाओं जैसे कि जनसंख्या, समुदायों या पारिस्थितिक तंत्र पर पर्यावरण के हानिकारक पदार्थों की प्रकृति, प्रभावों और परस्पर क्रियाओं से संबंधित है।
  • उदाहरण के लिये: जो लोग धूम्रपान नहीं करते हैं, उनमें भी कैंसर के मामलों की संख्या में एक निश्चित वृद्धि के अज्ञात कारकों की उत्पत्ति जानने में इकोटॉक्सिकोलॉजी सहायक होगी।
  • प्रदूषण और स्वास्थ्य पर लैंसेट आयोग (Lancet Commission on Pollution and Health) के अनुसार, समय से पहले होने वाली मौतों में लगभग 9 मिलियन लोगों की मृत्यु दूषित पानी, हवा और मिट्टी के कारण होती है।
  • पर्यावरणीय विषाक्तता के कारण होने वाली मौतों में लगभग 92% कम आय और मध्यम आय वाले देशों में होती हैं, जिसमें भारत भी शामिल है।

एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close