दृष्टि ज्यूडिशियरी का पहला फाउंडेशन बैच 11 मार्च से शुरू अभी रजिस्टर करें
ध्यान दें:

डेली अपडेट्स


प्रारंभिक परीक्षा

विश्व पर्यटन दिवस

  • 28 Sep 2022
  • 5 min read

विश्व पर्यटन दिवस प्रतिवर्ष 27 सितंबर को दुनिया भर में मनाया जाता है और इस वर्ष यह इंडोनेशिया के बाली में आयोजित किया जा रहा है।

  • वर्ष 2022 के लिये इसकी थीम है: पर्यटन पर पुनर्विचार।

प्रमुख बिंदु

  • परिचय:
    • वर्ष 1980 से प्रतिवर्ष 27 सितंबर को विश्व पर्यटन दिवस के रूप में मनाया जाता है। वर्ष 1970 में संयुक्त राष्ट्र विश्व पर्यटन संगठन (United Nations World Tourism Organization-UNWTO) कानूनों को अपनाने की वर्षगाँठ के रूप में इस तिथि को विश्व पर्यटन में महत्त्वपूर्ण मील का पत्थर माना जाता है।
      • UNWTO संयुक्त राष्ट्र की विशेष एजेंसी है जो ज़िम्मेदार, टिकाऊ और सार्वभौमिक रूप से सुलभ पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये उत्तरदायी है।
  • उद्देश्य:
    • इस दिन का उद्देश्य जागरूकता बढ़ाना एवं लोगों को पर्यटन के लिये प्रेरित करना है क्योंकि पर्यटन दुनिया भर के लोगों को और अधिक एकीकृत रूप से जोड़ने में मदद करता है।
  • महत्त्व:
    • विश्व पर्यटन दिवस दुनिया भर में सांस्कृतिक और प्राकृतिक विरासत के संरक्षण में पर्यटन क्षेत्र की अनूठी भूमिका पर प्रकाश डालता है। यह आवास एवं लुप्तप्राय प्रजातियों की सुरक्षा में सहायक के रूप में कार्य करता है।
    • यह ग्रामीण एवं बड़े शहरों में खासकर महिलाओं और युवाओं के लिये रोज़गार के अवसर प्रदान करने में पर्यटन क्षेत्र के महत्त्व को रेखाँकित करता है।

भारत में पर्यटन परिदृश्य:

  • विषय:
    • भारत ने अतीत में अपने कल्पित धन के कारण बहुत से विदेशी यात्रियों को आकर्षित किया। चीनी बौद्ध धर्मनिष्ठ ह्वेनसांग की यात्रा इसका एक उदाहरण है।
    • तीर्थ यात्रा को बढ़ावा विशेषकर तब मिला जब अशोक और हर्ष जैसे सम्राटों ने तीर्थयात्रियों के लिये विश्रामगृह का निर्माण कार्य शुरू किया।
    • अर्थशास्त्र 'राज्य के लिये पर्यटन क्षेत्र के बुनियादी ढाँचे के महत्त्व को इंगित करता है, जिसने अतीत में एक महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई।
    • स्वतंत्रता पश्चात पर्यटन क्षेत्र लगातार पंचवर्षीय योजनाओं (FYP) का हिस्सा बना रहा है।
      • सातवीं पंचवर्षीय योजना के बाद भारत में पर्यटन के विभिन्न रूप जैसे- व्यापार पर्यटन, स्वास्थ्य पर्यटन और वन्यजीव पर्यटन आदि प्रस्तुत किये गए।
  • स्थिति:
    • वर्ष 2021 में विश्व यात्रा और पर्यटन परिषद की रिपोर्ट में 178.0 बिलियन अमेरिकी डॉलर के योगदान के साथ भारत का पर्यटन क्षेत्र विश्व सकल घरेलू उत्पादन (GDP) में अपने योगदान में छठे स्थान पर है।
    • विदेशी मुद्रा के मामले में भारत के पर्यटन क्षेत्र ने वर्ष 2020 में 6.96 बिलियन अमेरिकी डॉलर की कमाई की। महामारी के बाद इसके और बढ़ने की उम्मीद है।
    • वित्त वर्ष 2020 में भारत में पर्यटन क्षेत्र में 39 मिलियन लोगों को रोज़गार मिला जो कि देश में कुल रोज़गार का 8.0% था। 2029 तक यह आँकड़ा लगभग 53 मिलियन होने की उम्मीद है।
    • भारत में 40 स्थल, विश्व विरासत सूची में (32 सांस्कृतिक, 7 प्राकृतिक और 1 मिश्रित स्थल) शामिल  हैं और यह इस मामले में विश्व  में  छठे  स्थान  पर  है।

पर्यटन से संबंधित पहलें:

  • स्वदेश दर्शन योजना
  • नेशनल मिशन ऑन पिलग्रिमेज़ रेजुवेनेशन एंड स्प्रीचुअल, हेरिटेज ऑगमेंटेशन ड्राइव यानी ‘तीर्थयात्रा कायाकल्प एवं आध्यात्मिक संवर्द्धन मुहिम  
  • प्रतिष्ठित पर्यटक स्थल
  • बौद्ध सम्मेलन
  • देखो अपना देश पहल

स्रोत: हिंदुस्तान टाइम्स

close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2