प्रयागराज शाखा पर IAS GS फाउंडेशन का नया बैच 10 जून से शुरू :   संपर्क करें
ध्यान दें:

डेली अपडेट्स


रैपिड फायर

UNFPA स्टेट ऑफ वर्ल्ड पॉपुलेशन रिपोर्ट

  • 18 Apr 2024
  • 2 min read

स्रोत: बिज़नेस स्टैण्डर्ड 

संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या कोष (UNFPA) की विश्व जनसंख्या स्थिति, 2024 की रिपोर्ट से पता चला है कि भारत की जनसंख्या का 77 वर्षों में दोगुना होने का अनुमान है।

  • मुख्य विशेषताएँ: 1.44 अरब की अनुमानित आबादी के साथ भारत विश्व में सर्वाधिक जनसंख्या वाला देश है, इसके बाद चीन 1.425 अरब ककी  जनसंख्या के साथ दूसरे स्थान पर है।
    • वर्ष 2011 में हुई जनगणना के दौरान भारत की जनसंख्या 1.21 अरब दर्ज़ की गई थी।
    • जिसकी रिपोर्ट से पता चला कि 24% लोग 0-14 आयु वर्ग के, 17% लोग 10-19 आयु वर्ग के और 26% लोग 10-24 आयु वर्ग के थे। जबकि 68% लोग 15-64 वर्ष की आयु के हैं तथा 7% लोग 65 वर्ष और उससे अधिक आयु के हैं।
    • भारत में पुरुषों की जीवन प्रत्याशा 71 वर्ष और महिलाओं के लिये 74 वर्ष है।
    • रिपोर्ट में इस बात पर भी प्रकाश डाला गया है कि यौन और प्रजनन स्वास्थ्य में भारत की 30 वर्षों की प्रगति ने वैश्विक स्तर पर सबसे अधिक हाशिये पर रहने वाले समुदायों को नज़रअंदाज़ कर दिया है। इसमें कहा गया है कि वर्ष 2006-2023 के बीच भारत में बाल विवाह का प्रतिशत 23% था।
    • भारत में मातृ मृत्यु में उल्लेखनीय रूप से कमी आई है, जो वैश्विक मातृ मृत्यु का 8% है।
    • रिपोर्ट इस बात पर प्रकाश डालती है कि स्वदेशी समूहों में मातृ मृत्यु दर अधिक है। विकलांग महिलाएँ लैंगिक हिंसा के प्रति अधिक संवेदनशील होती हैं।

और पढ़ें: संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या कोष (UNFPA)

close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2