हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

डेली अपडेट्स

प्रारंभिक परीक्षा

प्रीलिम्स फैक्ट्स : 7 जनवरी, 2019

  • 07 Jan 2019
  • 3 min read

चक्रवात ‘पाबुक’


हाल ही में चक्रवात ‘पाबुक’ ने अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह पर दस्तक दी।

  • इस चक्रवात की उत्पत्ति थाईलैंड की खाड़ी में हुई है।
  • यह तूफान अंडमान सागर और उसके आसपास मंडराता रहा है।
  • केंद्र सरकार ने चक्रवाती तूफान की चपेट में आए अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह के लिये ‘ऑरेंज’ अलर्ट जारी किया है।
  • ‘ऑरेंज’ अलर्ट मौसम संबंधी एक चेतावनी होती है, जो चक्रवात जैसी स्थितियों से उत्पन्न होने वाले खतरों के स्तर को इंगित करता है।
  • ‘ऑरेंज’ अलर्ट खराब या अत्यंत खराब मौसम के बारे में लोगों को सावधान रहने की चेतावनी है।
  • इस अलर्ट के तहत सड़क और हवाई यात्रा बाधित हो सकती है साथ ही जीवन और संपत्ति को भी खतरा हो सकता है।

चीन का लूनर रोवर युतु-2


हाल ही में चीन ने चंद्रमा के अनदेखे हिस्से के बारे में जानकारी जुटाने के लिये चांग ई-4 यान का प्रक्षेपण किया।

  • चीन के सिचुआन प्रांत में स्थित शीचांग उपग्रह प्रक्षेपण केंद्र से लॉन्ग मार्च-3 रॉकेट के ज़रिये यह प्रक्षेपण किया गया था।
  • चांग ई-4 का उद्देश्य चंद्रमा के उस हिस्से के रहस्यों का खुलासा करना है, जहाँ अभी तक कोई यान नहीं गया है।

Chang E-4

  • ध्यातव्य है कि चंद्र अभियान 'चांग ई-4' का नाम चीनी पौराणिक कथाओं की चंद्रमा देवी के नाम पर रखा गया है।
  • चीनी मीडिया के मुताबिक, चंद्रमा की सतह पर उतरने वाले खोजी रोवर का नाम युतु-2 होगा।
  • युतु-2 रोवर, चंद्र अभियान 'चांग ई-4' का ही एक हिस्सा है।
एसएमएस अलर्ट
Share Page