इंदौर शाखा: IAS और MPPSC फाउंडेशन बैच-शुरुआत क्रमशः 6 मई और 13 मई   अभी कॉल करें
ध्यान दें:

डेली अपडेट्स


रैपिड फायर

फ्लू-क्यूर्ड वर्जीनिया (FCV) तंबाकू उत्पादकों हेतु पहल

  • 27 Feb 2024
  • 2 min read

स्रोत: पी.आई. बी

फ्लू क्यूर्ड वर्जीनिया (Flue-cured Virginia- FCV) तंबाकू का उत्पादन भारत में मुख्य रूप से 2 राज्यों, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक में किया जाता है। वर्तमान में आंध्र प्रदेश में इस फसल का सीज़न है।

  • मिचौंग चक्रवात के कारण आंध्र प्रदेश में भारी बारिश हुई, जिससे कई ज़िलों में FCV तंबाकू की फसल बुरी तरह प्रभावित हुई।
    • इस पृष्ठभूमि में भारत सरकार ने आंध्र प्रदेश में FCV तंबाकू उत्पादकों के लिये तंबाकू बोर्ड के उत्पादक कल्याण कोष से 10,000 रुपए के ब्याज मुक्त ऋण को मंज़ूरी दे दी है।
  • फ्लू क्यूर्ड वर्जीनिया (FCV) तंबाकू:
    • FCV तंबाकू एक महत्त्वपूर्ण व्यावसायिक फसल है जो खरीफ के दौरान मुख्य रूप से लाल रेतीली दोमट मिट्टी पर वर्षा आधारित फसल के रूप में उगाई जाती है।
    • कर्नाटक हल्की मिट्टी में उगाए जाने वाले FCV तंबाकू को 'मैसूर शैली तंबाकू' के रूप में जाना जाता है।
      • वांछित पत्ती (Desired Leaf) के गुणों को प्राप्त करने और नमी को हटाने के लिये प्रक्रिया को मानकीकृत करके उपचारित तंबाकू को बाज़ार के लिये तैयार किया जाता है।
  • भारत 15 राज्यों में दस अलग-अलग प्रकार के तंबाकू का उत्पादन करता है, जिसमें सिगरेट (FCV, बर्ली, ओरिएंटल) और गैर-सिगरेट प्रकार (बीड़ी, चर्वण, हुक्का और सिगार) शामिल हैं, जो इसे विश्व का दूसरा सबसे बड़ा तंबाकू उत्पादक तथा निर्यातक बनाता है।

और पढ़ें: तंबाकू की खेती और खाद्य असुरक्षा

close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2
× Snow