प्रयागराज शाखा पर IAS GS फाउंडेशन का नया बैच 10 जून से शुरू :   संपर्क करें
ध्यान दें:

डेली अपडेट्स


विविध

Rapid Fire (करेंट अफेयर्स): 08 जनवरी, 2020

  • 08 Jan 2020
  • 4 min read

इस्माइल कानी

ईरान की कुद्स फोर्स के प्रमुख कमांडर कासिम सुलेमानी की मौत के बाद ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्लाह अली खुमैनी ने जनरल इस्माइल कानी को कुद्‍स फोर्स के नए कमांडर के रूप में नियुक्त किया है। विदित हो कि अमेरिका ने पहले ही कासिम सुलेमानी को आतंकी घोषित किया हुआ है। अयातुल्लाह ने एक बयान जारी करते हुए कहा है कि “कमांडर कासिम सुलेमानी की मौत के बाद मैं ब्रिगेडियर जनरल इस्माइल कानी को इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड्स की कुद्‍स फोर्स का नया कमांडर नियुक्त करता हूँ।”

कर्मयोद्धा ग्रंथ

हाल ही में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लिखी गई पुस्तक 'कर्मयोद्धा ग्रंथ' का विमोचन किया है। यह पुस्तक अपने कार्यकाल के दौरान प्रधानमंत्री मोदी द्वारा किये गए विभिन्न कार्यों की व्याख्या करती है।

ICC की नवीन टेस्ट रैंकिंग

न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीसरे टेस्ट मैच की समाप्ति के पश्चात् ICC ने टेस्ट की नई रैंकिंग जारी कर दी है। ICC की नई टेस्ट रैंकिंग में भारतीय कप्तान विराट कोहली को टेस्ट क्रिकेट के बल्लेबाज़ों की सूची में पहला स्थान प्राप्त हुआ है। ICC की नवीन रैंकिंग में चेतेश्वर पुजारा और आजिंक्य रहाणे को नुकसान हुआ है और वे क्रमशः 7वें और 9वें स्थान पर आ गए हैं। वहीं गेंदबाज़ों की रैंकिंग में जसप्रीत बुमराह छठे स्थान पर मौजूद हैं।

झारखंड का नया विधानसभा अध्यक्ष

झारखंड विधानसभा में झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) के विधायक रवींद्र नाथ महतो को निर्विरोध विधानसभा अध्यक्ष चुन लिया गया है। रवींद्र नाथ महतो सत्ता पक्ष की ओर से नामांकन करने वाले एकमात्र व्यक्ति थे जबकि विपक्ष की ओर से किसी भी व्यक्ति ने नामांकन नहीं किया। रवींद्र नाथ महतो राज्य की 5वीं विधानसभा के अध्यक्ष होंगे। उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व वे दो बार क्रमशः वर्ष 2005 और 2014 में विधायक के रूप में चुने गए थे।

ध्रुवीय विज्ञान में सहयोग पर समझौता ज्ञापन

प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में कैबिनेट ने भारत के भू-विज्ञान मंत्रालय और स्वीडन के शिक्षा एवं अनुसंधान मंत्रालय के बीच ध्रुवीय विज्ञान में सहयोग को लेकर समझौता ज्ञापन को मंज़ूरी दे दी है। विदित हो कि समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर 2 दिसंबर, 2019 को किये गए थे। 8 आर्कटिक देशों में से एक स्वीडन आर्कटिक परिषद का सदस्य है, जबकि भारत को आर्कटिक परिषद में पर्यवेक्षक का दर्जा मिला हुआ है। ध्रुवीय विज्ञान में भारत और स्वीडन के बीच इस सहयोग से दोनों देशों को एक-दूसरे की विशेषज्ञता साझा करने मे मदद मिलेगी।

close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2