हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:

डेली अपडेट्स

अंतर्राष्ट्रीय संबंध

प्रीलिम्स फैक्ट्स : 07 अप्रैल, 2018

  • 07 Apr 2018
  • 10 min read

ग्राम स्वराज अभियान

  • अंबेडकर जयंती के अवसर पर एक ‘ग्राम स्वराज अभियान’ का आयोजन किया जाएगा। 
  • ‘ग्राम स्वराज अभियान’ 14 अप्रैल से आरंभ होकर 05 मई, 2018 तक चलेगा।
  • इस अभियान की शुरुआत निर्धन परिवारों तक पहुँचने वाली सरकार की प्रमुख कल्याणकारी योजनाओं एवं अन्य लोकोन्मुखी पहलों के बारे में जन जागरुकता का प्रसार करने के लिये की गई है।
  • ग्राम स्वराज अभियान के दौरान एक विशेष पहल के रूप में पूरे देश में वंचित परिवारों की बड़ी संख्या के साथ चिन्हित 21,058 गाँवों में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PMUY) सहित 7 कल्याणकारी कार्यक्रमों के तहत सार्वभौमिक कवरेज पर विचार किया गया है।
  • ग्राम स्वराज अभियान के एक हिस्से के रूप में 20 अप्रैल, 2018 को लगभग 15 हज़ार LPG पंचायतों का आयोजन किया जाएगा तथा इसी दिन उज्ज्वला दिवस समारोह मनाने के लिये  PMUY के तहत 15 लाख एलपीजी कनेक्शन जारी किये जाएंगे।
  • LPG पंचायत उपभोक्‍ताओं को एक-दूसरे से बातचीत करने, एक-दूसरे से सीखने तथा अनुभव साझा करने के लिये मंच प्रदान कराती है।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PMUY)

  • 1 मई, 2016 को उत्तर प्रदेश के बलिया ज़िले में इस योजना को शुरू किया गया था। 
  • यह योजना पाँच करोड़ बीपीएल (Below Poverty Line-BPL) महिलाओं को रसोई गैस कनेक्‍शन देने के लिये शुरू की गई थी।
  • यह कार्य वित्‍त वर्ष 2016-17 से शुरू कर तीन वर्ष के अंदर पूरा करने का लक्ष्‍य रखा गया था।
  • सरकार ने बजट समर्थन के रूप में 8000 करोड़ रुपए अथवा प्रत्येक परिवार को 1,600 रुपए का आवंटन किया था।
  • इस योजना के कारण LPG खपत 2015-16 के 19.6 MT में 10% की वृद्धि के साथ 2016-17 में 21.5 MT टन हो गई थी।

उत्तराखंड का दूसरा मेगा फूड पार्क 

  • उत्तराखंड के दूसरे मेगा फूड पार्क की स्थापना उधम सिंह नगर ज़िले के काशीपुर स्थित महुआखेरा गंज में की जाएगी। उतराखंड का पहला फ़ूड पार्क हरिद्वार में स्थापित किया गया है जो पहले से ही परिचालन में है।
  • इस फूड पार्क की स्थापना 99.96 करोड़ रुपए की लागत से की जा रही है।
  • 50.14 एकड़ क्षेत्र में स्थापित किये जा रहे इस मेगा फूड पार्क में एक केंद्रीय प्रसंस्करण केंद्र के साथ-साथ राम नगर, रामगढ़ और कालाडुंगी में तीन प्राथमिक प्रसंस्करण केंद्र (PPC) भी होंगे। इस पार्क में खेतों के पास प्राथमिक प्रसंस्करण और भंडारण की भी सुविधाएँ होंगी। 
  • इस पार्क से न केवल उधम सिंह नगर के किसान, बल्कि निकटवर्ती जिलों नैनीताल, गढ़वाल, अल्मोड़ा और चंपावत के भी लगभग 25,000 किसान लाभान्वित होंगे। 
  • पार्क में अवस्थित 25-30 खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों में लगभग 250 करोड़ रुपए का अतिरिक्त निवेश 450-500 करोड़ रुपए के वार्षिक कारोबार का मार्ग प्रशस्‍त करेगा।
  • यह मेगा फूड पार्क लगभग 5000 व्यक्तियों को प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रोज़गार भी प्रदान करेगा और केंद्रीय प्रसंस्करण केंद्र तथा प्राथमिक प्रसंस्करण केंद्र के आसपास के क्षेत्रों के लगभग 25,000 किसानों को लाभान्वित करेगा।

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना 

  • केंद्रीय खाद्य प्रसंस्‍करण उद्योग मंत्रालय द्वारा वर्ष 2016-20 तक की अवधि के लिये 6,000 करोड़ रुपए के आवंटन से प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना (कृषि-समुद्री प्रसंस्‍करण एवं कृषि-प्रसंस्‍करण क्‍लस्‍टर विकास स्‍कीम) को शुरू किया गया है।प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना एक व्‍यापक पैकेज है जिसके परिणामस्‍वरूप खेत से लेकर खुदरा बिक्री केंद्रों तक दक्ष आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन के साथ आधुनिक अवसंरचना का सृजन होगा । 
  • प्रधानमंत्री किसान सम्‍पदा योजना के अंतर्गत निम्‍नलिखित स्‍कीमों का कार्यान्‍वयन किया जाएगा-
    ♦ मेगा फ़ूड पार्क
    ♦ कोल्ड चेन
    ♦ खाद्य प्रसंस्करण एवं परिरक्षण क्षमताओं का सृजन/विस्तार
    ♦ कृषि प्रसंस्करण क्‍लस्‍टर अवसंरचना
    ♦ बैकवर्ड और फारवर्ड लिंकेजों का सृजन
    ♦ खाद्य संरक्षा एवं गुणवत्ता आश्वासन अवसंरचना
    ♦ मानव संसाधन एवं संस्थान

गगन शक्ति अभ्यास

प्रमुख बिंदु 
  • भारतीय वायु सेनाद्वारा 8-22 अप्रैल तक अपने सबसे बड़े सैन्य अभ्यास गगन शक्ति का आयोजन किया जायेगा। 
  • यह अभ्यास पाकिस्तान और चीन से भारत को बढ़ते सुरक्षा खतरों के मद्देनज़र दो मोर्चों अर्थात् उतरी और पश्चिमी सीमा पर किया जाएगा।
  • गगन शक्ति अभ्यास के पहले चरण में पश्चिमी सीमा पर तैनात बलों द्वारा अभ्यास किया जाएगा, जबकि दूसरे चरण में उत्तरी सीमा पर अभ्यास किया जाएगा। 
  • यह अभ्यास 20 हज़ार फीट की ऊँचाई से लेकर गर्म मरुस्थलीय क्षेत्र सहित समुद्री भाग में भी किया जाएगा। 1100 से अधिक विमानों सहित वायुसेना के 300 अधिकारी और 15,000 से अधिक सैनिक इस अभ्यास में शामिल होंगे। 
  • इस अभ्यास में नौसेना और थलसेना भी भाग लेंगे। इस अभ्यास में स्वदेशी लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (LCA) तेजस के साथ ही भारतीय नौसेना का मिग 29 लड़ाकू विमान भी हिस्सा लेगा।
  • LCA तेजस अभ्यास के दौरान आक्रामक और रक्षात्मक दोनों तरह की भूमिकाएँ निष्पादित करेगा।
  • हाल ही में वायुसेना में फाइटर पायलट बनीं तीन महिलाएँ लेफ्टिनेंट अवनी चतुर्वेदी, मोहना सिंह और भावना कांत भी इस अभ्यास में शामिल होंगी। 
  • अभ्यास के दौरान गुजरात के भुज से विमान असम की ओर उड़ान भरेंगे और बमबारी करेंगे तथा असम से विमान राजस्थान के रेगिस्तान की ओर बमबारी को अंजाम देंगे। इसके अतिरिक्त सैनिकों की टुकड़ी और सैन्य साजो-सामान का इंटर-वैली ट्रांसफर भी होगा।

RH300 साउंडिंग रॉकेट का सफल प्रक्षेपण

प्रमुख बिंदु 

  • विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र (VSSC) द्वारा विकसित RH300 साउंडिंग रॉकेट का सफलतापूर्वक प्रक्षेपण किया गया। यह RH300 साउंडिंग रॉकेट का 21वाँ प्रक्षेपण था।
  • इस रॉकेट का प्रक्षेपण वायुमंडलीय आँकड़ों को और समृद्ध बनाने के लिये किया गया है।
  • इसका प्रक्षेपण थुंबा इक्वेटोरियल रॉकेट लॉन्चिंग स्टेशन (TERLS) से किया गया था।
  • RH300 राकेट का यह प्रक्षेपण ट्रॉपिकल पर्यावरण और निम्न आयनमंडल क्षेत्र का अध्ययन करने के लिये VSSC द्वारा चलाए जा रहे साउंडिंग रॉकेट एक्सपेरिमेंट (SOUREX) प्रोग्राम का भाग है। 
  • रॉकेट के पेलोड में VSSC की अंतरिक्ष भौतिकी प्रयोगशाला द्वारा विकसित इलेक्ट्रॉन डेंसिटी एंड न्यूट्रल विंड प्रोब (Electron Density and Neutral Wind Probe-ENWi) भी लगाया गया था।

क्या है साउंडिंग रॉकेट?

  • साउंडिंग रॉकेट एक या दो चरण वाले ठोस प्रणोदक राकेट होते हैं जिनका अंतरिक्ष अनुसंधान और ऊपरी वायुमंडलीय क्षेत्रों के अन्‍वेषण हेतु प्रयोग किया जाता है।
  • ये प्रमोचक यानों एवं उपग्रहों के प्रयोग हेतु वांछित नए अवयवों एवं उपप्रणालियों के प्रोटोटाइप की जाँच या प्रमाणित करने के लिये भी एक वहनीय आधार के रूप में काम करते हैं।
  • 21 नवंबर, 1963 को तिरुवनंतरपुरम, केरल के समीप थुम्‍बा से प्रथम साउंडिंग रॉकेट के प्रमोचन से भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम की शुरुआत हुई थी।
  • थुंबा की चुंबकीय भूमध्य रेखा से निकटता इसे वायुमंडलीय अनुसंधान हेतु एक महत्त्वपूर्ण स्थल बनाती है।
एसएमएस अलर्ट
Share Page