इंदौर शाखा: IAS और MPPSC फाउंडेशन बैच-शुरुआत क्रमशः 6 मई और 13 मई   अभी कॉल करें
ध्यान दें:

डेली अपडेट्स


शासन व्यवस्था

राष्ट्रीय खनिक स्वास्थ्य संस्थान के विलय को मंज़ूरी

  • 25 Jul 2019
  • 4 min read

चर्चा में क्यों?

प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने खनन मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले राष्ट्रीय खनिक स्वास्थ्य संस्थान (National Institute of Miners' Health-NIMH) को समाप्त करने का निर्णय लिया है। NIMH को समाप्त करके इसकी सभी संपत्तियों और देनदारियों के साथ इसका विलय/एकीकरण स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अंतर्गत राष्ट्रीय व्यावसायिक स्वास्थ्य संस्थान (Institute of Occupational Health-NIOH) के साथ किया जाएगा।

प्रभाव:

  • NIMH का NIOH में विलय/एकीकरण से दोनों संस्थानों को सार्वजनिक धन के सक्षम प्रबंधन के साथ-साथ व्यावसायिक क्षेत्र में विशेषज्ञता बढ़ाने का अवसर मिलेगा।
  • NIMH के अतिरिक्त अन्य समान उद्देश्यों वाले संगठनों के विलय पर भी विचार किया जा सकता है ताकि संचालन और लागत में कमी को प्रोत्साहित किया जा सके।

प्रमुख बिंदु:

  • मंत्रिमंडल ने NIMH के सभी कर्मचारियों को समान पद और समान वेतन पर NIOH में समाहित करने की बात कही है।
  • स्वशासी संस्थानों के कामकाज और कार्य प्रदर्शन की समीक्षा के संदर्भ में अन्य विषयों के साथ व्यय प्रबंधन आयोग ने सिफारिश की कि समान उद्देश्यों वाले संगठनों के विलय पर विचार किया जा सकता है और ताकि संचालन और लागत में कमी के कार्य को प्रोत्साहन मिले। इसी के अनुसार NIMH का NIOH के साथ विलय करने की सिफारिश की गई।

राष्ट्रीय खनिक स्वास्थ्य संस्थान

(National Institute of Miners' Health-NIMH)

  • भारत सरकार द्वारा वर्ष 1990 में NIMH की स्थापना की गई थी।
  • इसे कर्नाटक सोसायटी पंजीकरण अधिनियम, 1960 के अंतर्गत सोसायटी के रूप में पंजीकृत किया गया था।
  • NIMH का पंजीकृत कार्यालय कोलार गोल्ड फील्ड, कर्नाटक और केंद्रीय प्रयोगशाला नागपुर में स्थित है।
  • संस्थान व्यावसायिक स्वास्थ्य और स्वच्छता में प्रायोगिक अनुसंधान करता है।
  • इसके अतिरिक्त यह अनुसंधान और विकास के माध्यम से खदानों की सुरक्षा एवं खनिकों के स्वास्थ्य की दिशा में भी प्रयास करता है।

राष्ट्रीय व्यावसायिक स्वास्थ्य संस्थान

(Institute of Occupational Health-NIOH)

  • NIOH की स्थापना वर्ष 1966 में व्यावसायिक स्वास्थ्य अनुसंधान संस्थान के रूप में की गई थी।
  • NIOH का कार्य-क्षेत्र मुख्यतः व्यावसायिक स्वास्थ्य से संबंधित है जिसमें व्यावसायिक औषधि और व्यावसायिक स्वच्छता भी शामिल है।
  • NIOH के प्रमुख उद्देश्य :
  • कार्यस्थल पर पर्यावरणीय तनावों के मूल्यांकन के लिये गहन शोध को बढ़ावा देना।
  • मौलिक अनुसंधान के माध्यम से व्यावसायिक स्वास्थ्य की उच्चतम गुणवत्ता को बढ़ावा देना।

स्रोत: पी.आई.बी.

close
एसएमएस अलर्ट
Share Page
images-2
images-2