हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स
ध्यान दें:
झारखण्ड संयुक्त असैनिक सेवा मुख्य प्रतियोगिता परीक्षा 2016 -परीक्षाफलछत्तीसगढ़ पीसीएस प्रश्नपत्र 2019छत्तीसगढ़ पी.सी.एस. (प्रारंभिक) परीक्षा, 2019 (महत्त्वपूर्ण अध्ययन सामग्री).छत्तीसगढ़ पी.सी.एस. प्रारंभिक परीक्षा – 2019 सामान्य अध्ययन – I (मॉडल पेपर )UPPCS मेन्स क्रैश कोर्स.
हिंदी साहित्य: पेन ड्राइव कोर्स (Hindi Literature: Pendrive Course)
मध्य प्रदेश पी.सी.एस. (प्रारंभिक) परीक्षा , 2019 (महत्वपूर्ण अध्ययन सामग्री)मध्य प्रदेश पी.सी.एस. परीक्षा मॉडल पेपर.Download : उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (प्रवर) प्रारंभिक परीक्षा 2019 - प्रश्नपत्र & उत्तर कुंजीअब आप हमसे Telegram पर भी जुड़ सकते हैं !यू.पी.पी.सी.एस. परीक्षा 2017 चयनित उम्मीदवार.UPSC CSE 2020 : प्रारंभिक परीक्षा टेस्ट सीरीज़

डेली अपडेट्स

भारतीय विरासत और संस्कृति

कैलाश मानसरोवर यूनेस्को की अस्थायी सूची में शामिल

  • 02 Jul 2019
  • 5 min read

चर्चा में क्यों?

हाल ही में संस्कृति और पर्यटन राज्य मंत्री ने ‘सेक्रेड माउंटेन लैंडस्केप एंड हेरिटेज रूट’ (कैलाश मानसरोवर का भारतीय भाग) को भारत के विश्व धरोहर स्थलों की अस्थायी सूची में शामिल किये जाने की घोषणा की है।

मुख्य बिंदु :

  • इसे अप्रैल 2019 में मिश्रित स्थल के रूप में प्रस्तावित किया गया था।
  • यूनेस्को द्वारा दिये गए निर्देशों के अनुसार, अंतिम नामांकन करने से पूर्व किसी भी स्थल को कम-से-कम एक वर्ष के लिये यूनेस्को की अस्थायी सूची में रहना पड़ता है।
  • एक बार नामांकन होने के पश्चात् उस स्थल को विश्व धरोहर केंद्र (World Heritage Centre - WHC) में भेज दिया जाता है।
  • जिसके पश्चात् विश्व धरोहर समिति द्वारा किसी भी स्थल को विश्व धरोहर सूची में स्थायी रूप से शामिल करने के लिये जाता है।

क्या होता है विश्व धरोहर स्थल?

  • सांस्कृतिक और प्राकृतिक महत्त्व के स्थलों को हम विश्व धरोहर या विरासत कहते हैं।
  • ये स्थल ऐतिहासिक और पर्यावरण के लिहाज़ से भी महत्त्वपूर्ण होते हैं।
  • इनका अंतरराष्ट्रीय महत्त्व होता है तथा इनके सरंक्षण हेतु विशेष प्रयास किये जाते हैं।
  • ऐसे स्थलों को आधिकारिक तौर पर संयुक्त राष्ट्र की संस्था यूनेस्को, विश्व धरोहर की मान्यता प्रदान करती है।
  • कोई भी स्थल जो मानवता के लिये ज़रूरी है, जिसका कि सांस्कृतिक और भौतिक महत्त्व है, उसे यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर के तौर पर मान्यता दी जाती है।

भारत के विश्व धरोहर स्थल

  • भारत में कुल 37 मूर्त विरासत धरोहर स्थल (29 सांस्कृतिक, 7 प्राकृतिक और 1 मिश्रित) हैं और 13 अमूर्त सांस्कृतिक विरासतें हैं।

भारत में विश्व धरोहर स्थल

मूर्त विरासतें अमूर्त सांस्कृतिक विरासतें
सांस्कृतिक प्राकृतिक मिश्रित
  • ताजमहल, आगरा
  • खजुराहो, मध्य प्रदेश
  • हम्पी, कर्नाटक
  • अजंता की गुफाएं, महाराष्ट्र
  • एलोरा की गुफाएं, महाराष्ट्र
  • बोधगया, बिहार
  • सूर्य मंदिर, कोणार्क, ओडिशा
  • लाल किला परिसर, दिल्ली
  • सांची, मध्य प्रदेश
  • चोल मंदिर, तमिलनाडु
  • महाबलिपुरम, तमिलनाडु में स्मारकों का समूह
  • हुमायूँ का मकबरा, नई दिल्ली
  • जंतर मंतर, जयपुर, राजस्थान
  • आगरा किला, उत्तर प्रदेश
  • फतेहपुर सीकरी, उत्तर प्रदेश
  • रानी की वाव, पाटन, गुजरात
  • कर्नाटक के पट्टडकल में स्मारकों का समूह
  • एलीफेंटा गुफाएँ, महाराष्ट्र
  • नालंदा महाविहार (नालंदा विश्वविद्यालय), बिहार
  • छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (पूर्व में विक्टोरिया टर्मिनस), महाराष्ट्र
  • भारत का पर्वतीय रेलवे
  • क़ुतुब मीनार और उसके स्मारक, नई दिल्ली
  • चंपानेर-पावागढ़ पुरातत्व पार्क, गुजरात
  • राजस्थान के पहाड़ी किले
  • गोवा के चर्च और रूपांतरण
  • भीमबेटका के रॉक शेल्टर, मध्य प्रदेश
  • कैपिटल कॉम्प्लेक्स, चंडीगढ़
  • अहमदाबाद का ऐतिहासिक शहर
  • मुंबई का विक्टोरियन और आर्ट डेको एनसेंबल
  • ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क, हिमाचल प्रदेश
  • काजीरंगा वन्य जीवन अभयारण्य, असम
  • केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान, भरतपुर, राजस्थान
  • मानस वाइल्ड लाइफ सैंक्चुअरी, असम
  • नंदा देवी और फूलों की घाटी राष्ट्रीय उद्यान, उत्तराखंड
  • पश्चिमी घाट
  • सुंदरबन नेशनल पार्क, पश्चिम बंगाल
  • खंगचेंडज़ोंगा नेशनल पार्क, सिक्किम
  • वैदिक जप की परंपरा
  • रामलीला, रामायण का पारंपरिक प्रदर्शन
  • कुटियाट्टम, संस्कृत थिएटर
  • राममन, गढ़वाल हिमालय के धार्मिक त्योहार और धार्मिक अनुष्ठान, भारत
  • मुदियेट्टू, अनुष्ठान थियेटर और केरल का नृत्य नाटक
  • कालबेलिया लोक गीत और राजस्थान के नृत्य
  • छऊ नृत्य
  • लद्दाख का बौद्ध जप: हिमालय के लद्दाख क्षेत्र, जम्मू और कश्मीर, भारत में पवित्र बौद्ध ग्रंथों का पाठ।
  • मणिपुर का संकीर्तन, पारंपरिक गायन, नगाडे और नृत्य
  • पंजाब के ठठेरों द्वारा बनाए जाने वाले पीतल और तांबे के बर्तन
  • योग
  • नवरोज़, नोवरूज़, नोवरोज़, नाउरोज़, नौरोज़, नौरेज़, नूरुज़, नोवरूज़, नवरूज़, नेवरूज़, नोवरूज़, नवरूज़
  • कुंभ मेला



स्रोत- पी. आई. बी.

एसएमएस अलर्ट
 

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

नोट्स देखने या बनाने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

प्रोग्रेस सूची देखने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close

आर्टिकल्स को बुकमार्क करने के लिए कृपया लॉगिन या रजिस्टर करें|

close